• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

Expert Tips: शरीर में विटामिन-डी हो रहा है कम, इस 1 हैक से करें भरपाई

शरीर में विटामिन-डी की कमी और इसे पूरा करने के उपाय के बारे में इस आर्टिकल के माध्‍यम से जानें। 
author-profile
Published -30 Jun 2022, 15:30 ISTUpdated -30 Jun 2022, 22:50 IST
Next
Article
easy vitamin d hack

आपने हाल ही में विटामिन-डी के बारे में बहुत कुछ सुना होगा। और अच्छे कारणों के लिए, पिछले दो दशकों में विटामिन-डी की भूमिका और हेल्‍थ से इसके संबंध के बारे में अनुसंधान तेजी से बढ़ा है। जबकि, यह अक्सर हड्डियों के स्वास्थ्य से जुड़ा हुआ था, अब हम यह भी जानते हैं कि यह शानदार अणु ऑटोइम्यून बीमारी, हार्ट डिजीज, कैंसर और डायबिटीज सहित कई अलग-अलग हेल्‍थ समस्‍याओं की रोकथाम में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है।

कुछ कारक हैं जो विटामिन-डी की कमी के जोखिम को बढ़ाते हैं। इसमें डाइट में इस विटामिन की कमी, सूर्य के संपर्क में कम रहना, या 37 वें समानांतर से ऊपर रहना सबसे महत्वपूर्ण कारकों में से हैं। अन्य कारकों में जातीयता/त्वचा का रंग, मोटापा, भोजन का अवशोषण ठीक से न होना, आनुवंशिक कारक और पुराना किडनी रोग और इंफ्लेमेटरी बाउल डिजीज जैसी पुरानी बीमारियां शामिल हैं।

नतीजतन, विटामिन-डी3 के सप्‍लीमेंट लेना बहुत आम है। लेकिन क्या होगा अगर आपके पास विटामिन-डी को बढ़ावा देने के लिए एक वैकल्पिक और प्राकृतिक तरीका हो? जी हां, आज हम आपको शरीर में विटामिन-डी को पूरा करने वाले एक जबरदस्‍त हैक के बारे में बता रहे हैं। इसकी जानकारी हमें Health Hatch की एक्‍सपर्ट निहारिका बुधवानी के इंस्‍टाग्राम अकाउंट से मिली है। लेकिन सबसे पहले हम आपको शरीर में विटामिन-डी की कमी के लक्षणों के बारे में बता देते हैं।

vitamin d hack

विटामिन-डी की कमी के लक्षण

  • विटामिन-डी की कमी से आपके पूरे शरीर का वजन बढ़ने लगता है।
  • कमजोरी के साथ-साथ दिल की बीमारी तक का खतरा बढ़ सकता है।   
  • इस विटामिन की कमी कैल्शियम पर असर डालती है जिससे थकान और जोड़ों में दर्द की समस्‍या होती है। 
  • शरीर में विटामिन-डी कम होने पर ब्लड शुगर को प्रोसेस करने की आपकी क्षमता को कम कर देता है। इससे डायबिटीज की समस्या हो सकती है। 
  • विटामिन-डी से शरीर का एस्ट्रोजेन लेवल कम और ज्यादा हो सकता है। महिलाओं के लिए एस्ट्रोजेन हार्मोन मूड स्विंग्स और डिप्रेशन का कारण बन सकता है।
  • विटामिन-डी शरीर की इंसुलिन सेंसिटिविटी को कम कर देता है। यही कारण है कि बेली फैट बढ़ जाता है। 
  • अगर आप पीरियड्स से संबंधित किसी भी समस्‍या का सामना कर रही हैं, तो आपको अपनी बॉडी में विटामिन-डी लेवल को चेक करवाना चाहिए।
  • यह बात तो शायद आप जानती ही हैं कि इस विटामिन की कमी से तुरंत हड्डियों की समस्‍या होने लगती है। 

विटामिन-डी की कमी को पूरा करने वाला हैक

क्या आप जानती हैं कि सूरज की रोशनी के संपर्क में आने पर मशरूम विटामिन-डी का एक अद्भुत स्रोत हो सकता है? जी हां, यह बिल्कुल सही है! 15 मिनट से 2 घंटे तक धूप/यूवी प्रकाश के संपर्क में आने पर मशरूम विटामिन-डी को काफी बढ़ा देता है।

आप जानते हैं कि सबसे अच्छी बात क्या है?

शोध के अनुसार, विटामिन डी-संवर्धित मशरूम में विटामिन डी2 की हाई सांद्रता होती है, जो स्टोर और खाना पकाने के दौरान जैवउपलब्ध और अपेक्षाकृत स्थिर होता है।

मशरूम विटामिन-डी का स्रोत कैसे बन सकता है?

सभी संस्कृतियों में, मशरूम को लंबे समय से एक शक्तिशाली सुपरफूड के रूप में देखा जाता रहा है। इसमें इम्‍यूनिटी-बढ़ाने वाले गुण हैं और यहां तक कि कुछ इसमं एंटी-माइक्रोबियल प्रभाव भी हैं। साथ ही यह पॉलीसेकेराइड-ग्लूकेन्स, स्टेरोल्स और लेक्टिन जैसे फाइटोन्यूट्रिएंट यौगिकों के साथ-साथ फाइबर, प्रोटीन और सेलेनियम, पोटेशियम, मैग्नीशियम, कैल्शियम, राइबोफ्लेविन, फोलेट और नियासिन जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। इसके अलावा, इसमें विटामिन-डी की मात्रा बहुत ज्‍यादा होती है।

यह सही है, मशरूम सूरज से विटामिन-डी बनाते हैं, ठीक वैसे ही जैसे हम करते हैं। क्या यह अच्छा नहीं है? खास बात यह है कि यूवी एक्सपोजर ही वास्तव में यह काम करता है, ठीक वैसे ही जैसे यह हमारे शरीर में करता है।

वास्तव में, मशरूम को केवल कुछ घंटों के लिए सूर्य के प्रकाश में रखने से उनमें विटामिन-डी का लेेेवल बढ़ जाता है। विटामिन-डी की मात्रा मशरूम के प्रकार के साथ-साथ सूर्य के संपर्क की अवधि पर निर्भर करती है। लेकिन सिर्फ 5 से 10 मिनट के सूरज के संपर्क में आने से भी महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ सकता है।

how to increase vitamin d

शोध से पता चलता है कि मशरूम से विटामिन-डी हमारे शरीर द्वारा भी आसानी से अवशोषित हो जाता है, पारंपरिक सप्‍लीमेंट की तुलना में। वास्तव में, एक केस स्टडी में, एक व्यक्ति ने तीन महीनों में अपने विटामिन डी के स्तर को 129 प्रतिशत तक बढ़ाने में कामयाबी हासिल की, हर दिन यूवी-एक्सपोज़्ड सॉटेड मशरूम  खाकर।

इसे जरूर पढ़ें:इन कारणों से शरीर में ठीक से नहीं होता विटामिन डी का अब्ज़ॉर्प्शन, एक्सपर्ट से जानिए

इसलिए यदि आप उस तरह की महिला हैं जो भोजन से आपके पोषक तत्व प्राप्त करना पसंद करती हैं, तो आप दैनिक सप्‍लीमेंट के विकल्प के रूप में या सप्‍लीमेंट के रूप में यूवी प्रकाश-उजागर मशरूम खाने में सक्षम हो सकती हैं।

प्रो टिप

कटा हुआ मशरूम जब सूरज की रोशनी के संपर्क में आता है तो पूरे मशरूम की तुलना में विटामिन-डी का बेहतर स्रोत होता है। खाना पकाने से पहले मशरूम को धूप में रखें!

आपको यह आर्टिकल कैसा लगा? हमें फेसबुक पर कमेंट करके जरूर बताएं। हेल्‍थ से जुड़ी ऐसी ही और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Shutterstock & Freepik

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।