क्या आप जानती हैं कि दुनिया भर में 200 मिलियन से अधिक लोग ऑस्टियोपोरोसिस से परेशान हैं, एक ऐसी बीमारी जो हड्डियों को भंगुर, नाजुक और टूटने का खतरा बढ़ा देती है। सभी पोस्टमेनोपॉज़ल महिलाओं में से 30 प्रतिशत में ऑस्टियोपोरोसिस होता है और इसके परिणामस्वरूप 6 में से 1 महिला को अपने जीवनकाल में कूल्हा टूटने की समस्‍या होती है। 

बढ़ती उम्र के साथ यह समस्‍या महिलाओं को और भी ज्‍यादा सताने लगती है। लेकिन आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है, क्‍योंकि हड्डियों को मजबूत करने के कई तरीके हैं और इनमें से अधिकांश उपाय समग्र स्वास्थ्य को भी बढ़ाएंगे और दीर्घायु में सुधार करेंगे। 

जी हां 50 की उम्र के बाद महिलाओं को हड्डियों की ज्‍यादा देखभाल की जरूरत होती है। इसलिए अपनी खुद की हड्डियों की देखभाल करने के लिए इस आर्टिकल में दिए टिप्‍स को फॉलो करें और अपने वृद्धजन को भी ऐसा करने के लिए प्रोत्साहित करें। इन टिप्‍स के बारे में हमें  MY2BMI की न्‍यूट्रिशनिस्‍ट और फाउंडर Ms.Preety Tyagi जी बता रही हैं।

एक्‍सरसाइज से मिलती है मदद

exercise to take care of bones after

क्‍या आप जानती हैं कि रोजाना सिर्फ 30 मिनट की एक्‍सरसाइज हड्डियों को मजबूत बनाने और ऑस्टियोपोरोसिस को रोकने में मदद कर सकती है। वजन सहने वाली एक्‍सरसाइजेज, जैसे योग, ताई ची और यहां तक कि पैदल चलना, शरीर को गुरुत्वाकर्षण का प्रतिरोध करने में मदद करती हैं और हड्डी की कोशिकाओं को बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करती हैं। 

स्ट्रेंथ-ट्रेनिंग से मसल्‍स बनती हैं, जिससे हड्डियों की मजबूती भी बढ़ती है।

इसे जरूर पढ़ें: कमजोर ह‍ड्डियों को बनाना है मजबूत तो रोजाना घर पर करें ये 5 आसन

सप्लीमेंट लें

आपके द्वारा खाए जाने वाले भोजन से शरीर को आवश्यक सभी पोषक तत्व प्राप्त करना चुनौतीपूर्ण होता है, खासकर यदि आपकी भूख पहले जैसी नहीं है। कैल्शियम, विटामिन-डी और ओमेगा-3 के सप्‍लीमेंट हड्डियों की ताकत में सुधार करने में मदद करते हैं। 

लेकिन इन्‍हें लेने से पहले अपने डॉक्‍टर से बात करें। वह आपको यह भी बताएंगे कि क्या आपके द्वारा लिए जाने वाले कोई भी सप्‍लीमेंट उन दवाओं पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकते हैं, जो आप ले रही हैं।

संतुलित आहार लें

healthy foods to take care of bones after

डेयरी प्रोडक्‍ट्स, मछली और पत्तेदार हरी सब्जियां, यह सभी कैल्शियम और विटामिन-डी से भरपूर होती हैं, जो हड्डियों को मजबूत करने में मदद करती हैं। इसके अलावा, मछली और अलसी में पाया जाने वाले ओमेगा-3 फैटी एसिड हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्‍छा होता है। ब्लूबेरी भी हड्डियों को मजबूत कर सकती है।

फलों और सब्जियों की पांच सर्विंग्स और दूध, पनीर और दही सहित लो फैट वाले या नॉन-फैट डेयरी प्रोडक्‍ट्स की कम से कम तीन सर्विंग्स का लक्ष्य रखें।

कैल्शियम और विटामिन-डी का सही अवशोषण

bone health expert quote

इस बात का ध्‍यान रखें कि आपका शरीर कैल्शियम और विटामिन-डी को अवशोषित करता है, जिसकी उसे आवश्यकता है। सूरज की रोशनी शरीर को आपके द्वारा खाए जाने वाले फूड्स से विटामिन-डी को अवशोषित करने में मदद करती है। 

एक्‍सपर्ट शरीर को हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए आवश्यक विटामिन-डी को संसाधित करने में मदद करने के लिए हफ्ते में दो से तीन बार हाथों, बाहों और चेहरे पर 5 से 10 मिनट (बिना सनस्क्रीन के) धूप में रहने की सलाह देते हैं।

Recommended Video


सॉल्‍टी फूड्स और कैफीनयुक्त पेय पदार्थों से बचें

salty foods to take care of bones after

नमक से भरपूर फूड्स या अत्यधिक संसाधित खाद्य पदार्थ शरीर को कैल्शियम को अवशोषित करने से रोकते हैं। अत्यधिक कैफीनयुक्त पेय भी ऐसा ही कर सकते हैं। इसलिए हड्डियों के बेहतर स्वास्थ्य और समग्र स्वास्थ्य के लिए इन फूड्स का सेवन सीमित करें। 

इसे जरूर पढ़ें:आज से ही लें अपनी हड्डियों की protection और care की शपथ

अगर आपकी उम्र भी 50 के पार है या होने वाली है, तो हड्डियों के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए एक्‍सपर्ट के बताए इन टिप्‍स को जरूर अपनाएं। यह बढ़ती उम्र में हड्डियों के साथ-साथ आपकी हेल्‍थ को भी सही रखने में मदद करते हैं। यह आर्टिकल आपको कैसा लगा? हमें फेसबुक पर कमेंट करके जरूर बताएं। ऐसी ही और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।