नेचुरल स्रोतों की शक्ति से आप इंकार नहीं कर सकते हैं। प्रकृति ने हमें वरदान में बहुत सारी चीजें दी हैं जिनकी मदद से हम अपनी हेल्‍थ से जुड़ी समस्‍याओं को आसानी से दूर कर सकते हैं। हमारा अपना देश दुर्लभ और शक्तिशाली जड़ी-बूटियों की खान है जो हेल्‍थ और सुंदरता के लिए बहुत अच्छा है। आयुर्वेद, उम्रदराज भारतीय विज्ञान, लगभग हर हेल्‍थ और ब्‍यूटी से जुड़ी समस्‍याओं के इलाज के लिए इन वस्तुओं का इस्‍तेमाल इसके शुद्धतम और कच्चे रूप में करता है।

आज हम आपको एक ऐसे ही एक फेमस प्रकृति के दिए वरदान के फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसका इस्‍तेमाल हमारे शारीरिक कल्याण के लिए कई तरीकों से किया जाता है। जी हां हम नीम के तेल के बारे में बात कर रहे हैं। नीम में एंटीसेप्टिक, एंटीवायरल, एंटीबैक्‍टीरियल और एंटीफंगल गुण होते हैं जो इसे आपकी त्वचा और बालों के लिए एक उत्कृष्ट तेल बनाते हैं। इसका उपयोग सुंदरता में कई अलग-अलग तरीकों से किया जा सकता है। यह तेल आपकी हेल्‍थ से जुड़ी कई समस्‍याओं को भी दूर कर सकता है। 

नीम का तेल हेल्थ से जुड़ी कई समस्‍याओं को आसानी से दूर कर सकता है। यह बात तो शायद ज्‍यादातर महिलाएं जानती हैं लेकिन इसके इस्‍तेमाल का सही तरीका नहीं जानती हैं, इसलिए आज हम आपको समस्‍याओं के हिसाब से इसे इस्‍तेमाल करने का तरीका बताने जा रहे हैं।

दांतों से प्‍लाक को दूर भगाएं

neem oil uses plaque inside

अपने एंटी-बैक्‍टीरियल, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीफंगल गुणों के कारण, यह सभी प्रकार के दंत संक्रमण और बीमारियों को दूर रखता है। अधिकांश शोधों से पता चलता है कि नीम के तेल लगाने या नीम माउथवॉश का उपयोग करने से दांतों पर प्‍लाक की मात्रा कम हो सकती है। लेकिन यह क्लोरहेक्सिडाइन माउथवॉश का उपयोग करने में उतना उपयोगी नहीं हो सकता है। मसूड़ों की बीमारी का एक हल्का रूप मसूड़े की सूजन है। नीम के तेल उपयोग करने से कुछ लोगों में मसूड़े की सूजन को कम किया जा सकता है, लेकिन यह लंबे समय तक रहनी वाली मसूड़े की सूजन से परेशान महिलाओं के लिए प्रभावी नहीं हो सकता है।

हडिड्यों में दर्द और अकड़न दूर करें 

सिर्फ दूध ही ऐसा नहीं है जो मजबूत हड्डियों के निर्माण के लिए आवश्यक है। नीम की पत्तियों में शक्तिशाली कैल्शियम और मिनरल तत्व होते हैं जो मजबूत हड्डियों को बनाने और किसी भी सूजन को कम करने में मदद करते हैं। चिकित्सा की पारंपरिक शाखाओं में, नीम के पत्ते और नीम का तेल अक्सर बुजुर्ग रोगियों को अर्थराइटिस के दर्द और उम्र के साथ आने वाली किसी भी अकड़न या दर्द से राहत देने के लिए निर्धारित किया जाता है। नियमित रूप से नीम के तेल से त्वचा की मालिश करने से हड्डियों के मजबूत स्वास्थ्य को बढ़ावा मिलता है।

इसे जरूर पढ़ें:झुर्रियों और झड़ते बालों का रामबाण इलाज है नीम का तेल, यूं करें इस्‍तेमाल

घावों को तेजी से भरें

neem oil uses for wounds inside

नीम किसी भी बदसूरत निशान को छोड़े बिना घावों को ठीक करता है। यह सेप्टिक संक्रमण को भी रोकता है। नीम का उपयोग आमतौर पर एंटीसेप्टिक गुणों के कारण घावों को भरने के लिए किया जाता है। घाव और निशान पर, दैनिक रूप से नीम के तेल की थोड़ी मात्रा लगाएं। नीम के तेल में आवश्यक फैटी एसिड होते हैं, जो घाव भरने को भी बढ़ावा देते हैं और आपकी त्वचा को हेल्‍दी बनाते हैं।

मच्छर से बचाने वाली क्रीम

नीम का तेल मच्छरों को पीछे हटाने का सबसे अच्छा प्राकृतिक तरीका है। अपने चेहरे और शरीर पर नीम के तेल की कुछ बूंदें लगाकर स्‍मूथ करें या मच्छरों को पीछे हटाने के लिए अपने बॉडी लोशन में कुछ बूंदें मिलाएं।

मुंहासे दूर करें

neem oil uses pimples inside

नीम का तेल गैर-कॉमेडोजेनिक है, यह पोर्स को बंद नहीं करता है और इसमें मुंहासे पैदा करने वाले बैक्टीरिया से लड़ने के लिए एंटीबैक्‍टीरियल गुण होते हैं। मुंहासे से लड़ने के लिए अपने नाइट स्किनकेयर सोने से पहले अपने चेहरे पर तेल की कुछ बूंदें लगाएं और दाग को हल्का करें।

डैंड्रफ का इलाज

डैंड्रफ का इलाज प्राकृतिक रूप से करने में मदद करने के लिए एंटी-फंगल गुण सर्वोत्तम तरीकों में से एक है। यह ड्राई और खुजली वाले स्‍कैल्‍प से काफी राहत प्रदान करता है। अदरक के साथ नीम का तेल मिलाएं, इससे अपने स्‍कैल्‍प पर मालिश करें और 10 मिनट के लिए छोड़ दें। माइल्ड शैम्पू का उपयोग करके इसे धो लें।

Recommended Video

एक्जिमा का इलाज करें

neem oil uses for ezema inside

नीम का तेल सूजन, ड्राई या खुजली वाली त्वचा को शांत करने में मदद करता है, जिससे यह एक्जिमा का इलाज करता है। इस तेल के एंटीबैक्‍टीरियल और एंटीसेप्टिक गुण त्वचा को शांत करने में मदद करते हैं। शॉवर के बाद, एक्जिमा के उपचार के लिए अपनी त्वचा पर इस तेल की कुछ बूंदें लगाएं।

इसे जरूर पढ़ें:नीम का तेल घर में आसानी से बनाएं, बाल हो जाएंगे लंबे और घने

ड्राई त्वचा से छुटकारा

इस तेल में मौजूद फैटी एसिड और विटामिन ई त्वचा को मॉइश्चराइज और हाइड्रेट करने में मदद करते हैं। हेल्‍दी, ग्‍लोइंग त्वचा के लिए नहाने से पहले 30 मिनट शरीर की मालिश में नीम के तेल का उपयोग करें।

आप भी अपनी हेल्‍थ और ब्‍यूटी से जुड़ी इन 8 समस्‍याओं को दूर करने के लिए नीम के तेल का इस्‍तेमाल कर सकती हैं। हालांकि यह उपाय पूरी तरह से नेचुरल हैं और इनके कोई साइड इफेक्‍ट्स नहीं हैं लेकिन फिर भी इस्‍तेमाल करने से पहले एक बार पैच टेस्‍ट जरूर कर लें। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Freepik.com