• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile

अगर शरीर में हो रहा है हार्मोन इम्बैलेंस तो कुछ ऐसे दिखेंगे संकेत

कई बार हमारे शरीर में अचानक से कई चीज़ें होने लगती हैं जिनके बारे में हम समझ नहीं पाते हैं। कहीं वो हार्मोन्स की गड़बड़ी के कारण तो नहीं? 
Published -22 May 2022, 12:00 ISTUpdated -21 May 2022, 17:19 IST
author-profile
  • Shruti Dixit
  • Editorial
  • Published -22 May 2022, 12:00 ISTUpdated -21 May 2022, 17:19 IST
Next
Article
different ways harmonal issues affect you

हमारा शरीर ठीक तरह से काम करे उसके लिए हार्मोन्स का सही से काम करना बहुत जरूरी होता है। अगर शरीर में हार्मोनल इम्बैलेंस है तो आपके नॉर्मल शारीरिक फंक्शन्स से परे कई चीज़ें बदल जाएंगी। महिलाओं के मामले में ये पीरियड्स और अन्य हेल्थ इश्यूज से भी जोड़कर देखा जा सकता है। पर कई बार लोगों को ये पता भी नहीं होता है कि उनके शरीर में हार्मोनल इम्बैलेंस हो रहा है। 

अगर आपके शरीर में हार्मोन लेवल ऊपर या नीचे है तो कैसे पता चल सकता है? इससे जुड़ी एक सोशल मीडिया पोस्ट आयुर्वेदिक डॉक्टर दीक्षा भावसार ने शेयर की है। उन्होंने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर इसके बारे में शेयर करते हुए लिखा है कि अगर हार्मोनल इम्बैलेंस हो रहा है तो आपकी एंग्जाइटी और डिप्रेशन का भी ये कारण हो सकता है। यहां तक कि आपकी आंतों की समस्या, न्यूट्रिशन की कमी और इन्फर्टिलिटी का कारण भी ये हो सकता है।

अगर आपको शरीर में हार्मोनल इम्बैलेंस हो रहा है तो आपका शरीर आपको ये संकेत देगा-

इसे जरूर पढ़ें- महिलाओं के ऑर्गेज्म के बारे में ये फैक्ट्स नहीं जानती होंगी आप

लगातार मूड स्विंग्स का होना-

अगर आपके शरीर में हार्मोन लेवल में उतार-चढ़ाव हमेशा होता रहता है तो आपको मूड स्विंग्स भी बहुत ज्यादा हो सकते हैं। हो सकता है कि आप गुस्सा, दुख, तकलीफ और अन्य कई सारे इमोशन्स को एक साथ महसूस करें। कई बार तो एक ही समय पर रोना और हंसी दोनों आ सकते हैं। 

कमजोरी होना-

अगर हार्मोन्स का असंतुलन हो रहा है तो ये मुमकिन है कि आपको दिन की शुरुआत के समय भी कमजोरी महसूस हो। आपको अच्छी नींद नहीं आएगी और आप खुद में ही खराब महसूस करेंगी। अगर नींद आती भी है तो सुबह उठकर सुस्ती होगी और आप सही महसूस नहीं करेंगी। 

बालों का गिरना-

हार्मोन के असंतुलन का एक बहुत ही बड़ा संकेत हो सकता है और वो है बालों का गिरना। अगर आपके बाल बहुत ज्यादा झड़ रहे हैं और आपको ये समझ नहीं आ रहा है कि क्या किया जाए तो एक बार अपने हार्मोन लेवल का टेस्ट जरूर करवाएं। ये आपके लिए ज्यादा अच्छा साबित हो सकता है। 

अचानक वजन का बढ़ना-

अगर आप रेगुलर एक्सरसाइज कर रही हैं, खाना सही खा रही हैं, नींद सही ले रही हैं और इसके बाद भी आपका वजन गिर रहा है और आपने अपनी लाइफस्टाइल में भी ज्यादा बदलाव नहीं किया है तो हो सकता है कि आपका वजन हार्मोन्स के बदलाव के कारण बढ़ रहा हो। 

gaining weight and harmon issues

स्किन पर दिखेंगे कई बदलाव- 

हार्मोन असंतुलन का एक और बड़ा संकेत है और वो ये है कि अचानक आपको स्किन से जुड़ी समस्याएं महसूस होने लगेंगे जैसे एक्ने होने लगेंगे, स्किन पर पिगमेंटेशन होगा, स्किन मुड़ने लगेगी जैसे गर्दन पर झुर्रियां दिखेंगी, जांघों पर दिखेंगी, अंडरआर्म्स में कालापन बढ़ेगा और स्किन अजीब दिखेगी। स्किन डल होने लगेगी, स्किन ड्राई होने लगेगी और कुछ लोगों की स्किन ज्यादा ऑयली हो सकती है। ये सारे चीज़ें हार्मोन इम्बैलेंस का कारण बन सकती हैं। 

acne and harmonal issues

पीरियड्स में समस्या- 

हो सकता है कि आपके पीरियड्स काफी अनियमित हो जाएं और आपको इससे जुड़ी समस्याएं महसूस होने लगें। आपको पीरियड्स दर्द भरे हो सकते हैं, पीरियड्स जल्दी या देर से आ सकते हैं। हो सकता है कि आपको इतना दर्द हो कि आप ठीक से उठ भी ना पाएं। ये भी हो सकता है कि आपको डिस्चार्ज होने लगे।  

 

पेट से जुड़ी समस्याएं- 

अगर आपको हार्मोनल इम्बैलेंस हो रहा है तो उसके कारण पेट से जुड़ी समस्याएं भी होंगी जैसे भूख लगने में कमी, कब्ज रहना, ब्लोटिंग होना, एसिडिटी होना, खाना खाने के बाद पेट में मरोड़ उठना, आंतों की बीमारी होना आदि हार्मोन्स के गलत होने की वजह से हो सकता है।  

Recommended Video

इसे जरूर पढ़ें- क्या आपको पता है चिया और सब्जा सीड्स के बीच का अंतर 

नींद से जुड़ी समस्याएं- 

आपको इस दौरान नींद से जुड़ी समस्याएं भी हो सकती हैं जैसे नींद में कमी, बार-बार नींद टूटना, 9 घंटे से ज्यादा की नींद ना हो पाना। बहुत ज्यादा थकान महसूस होना।  

ये सारे संकेत हार्मोनल असंतुलन की ओर इशारा कर रहे हैं और अगर आप सही तरह से अपने शरीर की केयर करेंगी और हेल्दी डाइट लेंगी तो ये सारी समस्याएं नहीं होंगी। आप मूवमेंट करें यानी अपने शरीर को फिजिकली फिट रखें, आप प्राणायाम करें और स्ट्रेस से डील करने के लिए आप डॉक्टर की सलाह ले सकती हैं। आप कई तरह की हर्ब्स और दवाएं भी ट्राई कर सकती हैं, लेकिन उसके लिए पहले डॉक्टर से जरूर बात करें।  

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।  

image Credit: Freepik 

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।