क्या आपके दांतों में अक्सर दर्द की समस्या रहती है ? क्या कमजोर दांतों की वजह से खून आना एक आम बात है? क्या गंदे दांत आपकी सांसों की बदबू का कारण बन गए हैं? अगर हां, तो इन सभी समस्याओं का एक कारगर इलाज है फिटकरी का इस्तेमाल। दांतों की उचित देखभाल भी हमारे स्वास्थ्य के लिए उतनी ही जरूरी है जितनी शरीर की। अक्सर देखा जाता है कि लोग शरीर को स्वस्थ बनाए रखने के लिए कई तरह के उपाय और कई घरेलू तरीके आजमाते हैं, लेकिन दांतों को नज़रअंदाज़ कर देते हैं और इसी वजह से दांतों में कई तरह की समस्याएं होने लगती हैं।

दांतों के बारे में ज्यादातर लोग तभी सतर्क होते हैं जब कोई बड़ी समस्या तेज़ दर्द या कैविटी का रूप ले लेती है। लेकिन यदि दांतों की सही देखभाल की जाए तो आप इन समस्याओं से बचे रहने के साथ दांतों को मजबूत भी बना सकती हैं। दांतों की कई समस्याओं के समाधान के लिए फिटकरी का इस्तेमाल करना एक कारगर उपाय है और इसे कई तरीकों से इस्तेमाल किया जा सकता है। आइए स्माइल केयर डेंटल यूनिट, कोलकाता के जाने माने डॉक्टर विवेक तिवारी (बी डी एस) से जानें दांतों में फिटकरी के इस्तेमाल के तरीकों के बारे में।

दांतों से खून आना 

alum rinse for tooth

अगर आपको किसी वजह से दांतों और मसूढ़ों से खून आने जैसी समस्या है या फिर दांतों की वजह से मुंह और सांसों से बदबू आने लगती है तो आप फिटकरी का इस्तेमाल कर सकती हैं। इसके लिए एक गिलास गर्म पानी में एक ग्राम फिटकरी और एक चुटकी सेंधा नमक मिलाएं। जब दोनों सामग्रियां पानी में अच्छी तरह से घुल जाएं तब इस पानी से कुल्ला करें। फिटकरी के इस पानी से दिन में कम से कम 3 बार कुल्ला करने से बहुत जल्द ही दांतों और मसूढ़ों से खून आना बंद हो जाता है और मुंह की बदबू से भी छुटकारा मिलता है। वैसे ये घरेलू नुस्खा तुरंत आराम देने के लिए उपयोगी है लेकिन ज्यादा समस्या बढ़ने पर डेंटिस्ट से परामर्श लेना जरूरी है। 

इसे जरूर पढ़ें:Expert Advice : अक्ल दाढ़ निकलवाने के बाद घर पर ऐसे करें अपनी केयर

दांतों की सड़न के लिए उपयोगी 

alum and cinnamon for teeth

अक्सर ठीक से ब्रश न करना, जंक फूड्स का ज्यादा इस्तेमाल करना और दांतों की उचित देखभाल न करना जैसे कारणों से दांतों में दर्द, कमजोर दांत और दांतों की सड़न या इन्फेक्शन जैसी समस्याएं होने लगती हैं। इस तरह की किसी भी समस्या से छुटकारा पाने के लिए एक ग्राम फिटकरी, एक चुटकी दालचीनी पाउडर और एक चुटकी सेंधा नमक (नमक का ऐसे करें इस्तेमाल) को आपस में मिलाकर पेस्ट तैयार करें। इस पेस्ट से धीरे-धीरे दांतों और मसूड़ों पर मसाज करें और फिर पानी से कुल्ला करें। फिटकरी में मौजूद एंटीबैक्टीरियल तत्व दांतों के संक्रमण को बहुत जल्द ठीक करने में मदद करते हैं। 

दांतों में सेंसिटिविटी को रोके 

दांतों में तेज झनझनाहट या सेंसिटिविटी की समस्या एक आम समस्या है। कई बार इसकी वजह से दांतों में ठंडा और गरम पानी लगने लगता है और ये परेशानी काफी बढ़ जाती है। डेंटिस्ट इसके लिए कई तरह के ट्रीटमेंट्स की सलाह देते हैं। लेकिन आप घरेलू उपचार के रूप में फिटकरी का इस्तेमाल कर सकती हैं। इसके लिए फिटकरी का चूर्ण बनाकर गुनगुने पानी में मिलाकर इससे कुल्ला करें। ऐसा करने से सेंसिटिविटी की समस्या से बहुत जल्द छुटकारा मिल जाएगा। 

Recommended Video

दांतों में कैविटी को रोके 

alum use for cavity

दांतों में कैविटी का मुख्य कारण खाद्य सामग्रियों का दांतों के बीच में देर तक फंसे रहना है। यह खाद्य सामग्री दांतों में सड़न पैदा करके दांतों को क्षतिग्रस्त कर देती है और ये समस्या बाद में इतनी ज्यादा बढ़ जाती है कि रुट कैनाल ट्रीटमेंट ही एक उपाय होता है। दांतों में कैविटी को रोकने के लिए फिटकरी का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए 10 ग्राम फिटकरी पाउडर में 5 ग्राम हल्दी पाउडर और पानी मिलाएं। इन सामग्रियों का एक फाइन पेस्ट तैयार करें। इस पाउडर से दिन में कम से कम दो बार मसाज करें। खासतौर पर इससे दांतों के पीछे के हिस्सों में मसाज करें और पानी से कुल्ला कर लें। ये उपाय दांतों में कैविटी के निर्माण को रोकने में मदद करता है। लेकिन यदि आपके दांतों में पहले से कैविटी है तो डेंटिस्ट से परामर्श लेना जरूरी है। 

इसे जरूर पढ़ें:क्या आपके मसूढ़े और दांत कमजोर हैं, अपनाएं ये घरेलू उपाय

उपर्युक्त सभी तरीकों से फिटकरी का इस्तेमाल करके आप दांतों की कई समस्याओं से छुटकारा तो पा ही सकती हैं, दांतों की चमक और मजबूती भी कायम रख सकती हैं। लेकिन यदि किसी भी तरह की समस्या ज्यादा बढ़ जाए तो इसे नज़रअंदाज न करके तुरंत डेंटिस्ट से सलाह लें। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik