वजन कम करने के बाद ज्‍यादातर महिलाओं की त्‍वचा पर स्‍ट्रेच मार्क्‍स हो जाते हैं जो महिलाओं की खूबसूरती को कम कर देते हैं जिसके चलते महिलाएं अपनी पसंद की ड्रेसेस नहीं पहन पाती हैं। ऐसे में ज्‍यादातर महिलाओं के मन में यह सवाल आता है कि क्या इन स्ट्रेच मार्क्स से बचा नहीं जा सकता है? तो हम आपको बता दें कि बिल्कुल, इन्हें रोका जा सकता है। बस इसके लिए आपको कुछ बातों को ध्यान में रखना होगा। 

स्‍ट्रेच मार्क्‍स त्वचा पर रेड या पिंक कलर के दिखाई देते हैं, लेकिन समय के साथ यह व्‍हाइट या सिल्‍वर हो जाते हैं। यह शरीर के किसी भी हिस्से पर दिखाई दे सकते हैं, लेकिन यह ज्यादातर पेट, पीठ के निचले हिस्से, ब्रेस्‍ट, हिप्‍स और थाइज पर होते है। यह त्वचा की फिजिकल स्‍ट्रेचिंग जैसे बॉडी बिल्डि़ंग, प्रेग्‍नेंसी, मोटापा, युवावस्था के तेजी से विकास के कारण होते हैं और शरीर में हार्मोनल परिवर्तन (प्रेग्‍नेंसी, यौवन) भी इसके लिए जिम्‍मेदार होता है। स्‍ट्रेच मार्क्‍स की उपस्थिति में जीन और त्वचा के प्रकार की मुख्य भूमिका होती है। हालांकि यह पुरुषों और महिलाओं दोनों को हो सकते हैं लेकिन महिलाओं में बहुत ज्‍यादा आम हैं।

स्‍ट्रेच मार्क्‍स कैसे होते हैं?

stretch marks after weight loss inside

त्वचा में तीन परतें होती हैं: एपिडर्मिस, डर्मिस और हाइपोडर्मिस। स्‍टेम्‍स मीडियम लेयर डर्मिस से बनते हैं, जब वजन बढ़ने के कारण त्वचा के संकुचन में तेजी से विस्तार के बाद कनेक्टिव टिश्यू लोच की अपनी सीमा से बाहर निकलता है। कम तनाव से डर्मिस के टूटने का कारण बनता है जो त्वचा की गहरी परत को देखने में योगदान देता है और मुख्य रूप से जैसे शरीर बढ़ता है, डर्मिस में मजबूत कनेक्टिव टिश्यू धीरे-धीरे फैलते हैं और तेजी से विकास में फाइबर को खींचकर निकाल दिया जाता है। आनुवंशिक गड़बड़ी के अलावा, स्‍ट्रेच मार्क्‍स का मुख्य कारण हार्मोन हैं क्योंकि उनके एक्‍शन के साथ त्वचा लोच खो देती है। हालांकि कई ट्रीटमेंट और कॉस्मेटिक प्रोडक्‍ट हैं जो आपको स्‍ट्रेच मार्क्‍स कम करने में मदद कर सकते हैं, लेकिन हम आपको वजन कम करने के बाद स्‍ट्रेच मार्क्‍स से छुटकारा पाने के 3 प्रभावी तरीके बता रहे हैं।

इसे जरूर पढ़ें: महंगे skin treatment को कहिये अलविदा और stretch marks में कीजिये ये घरेलु उपाय

1. स्ट्रेट मार्क्‍स ट्रीटमेंट

stretch marks after weight loss inside

कई अध्ययनों से पता चला है कि शुरूआती स्‍टेज में जब स्‍ट्रेच मार्क्‍स बैंगनी या लाल रंग के होते हैं तो इनसे छुटकारा पाना आसान होता है लेकिन जब यह व्‍हाइट या सिल्‍वर हो जाते हैं तो उनका इलाज करना थोड़ा मुश्किल हो जाता है लेकिन स्ट्रेच मार्क्‍स के इलाज में टॉपिकल और सर्जिकल ट्रीटमेंट शामिल हैं।

2. टॉपिकल प्रोडक्‍ट

stretch marks after weight loss inside

अगर आप भी स्‍ट्रेच मार्क्‍स से परेशान हैं तो आप टॉपिकल ट्रीटमेंट को चुन सकती हैं जिसमें जैल और क्रीम जैसे रेटिन-ए (ट्रेटिनॉइन) या टैज़ोरैक शामिल हैं, जो प्रोडक्‍ट को कोलेजन को प्रोत्साहित करने के लिए डिज़ाइन किया गया है ताकि स्ट्रेच मार्क्स में सुधार हो सके, लेकिन यह जानना जरूरी है कि सिर्फ गुलाबी/बैंगनी रंग का निशान गायब हो जाएगा। अगर आपके पहले से ही एक ग्रे / सफेद मार्क्‍स हैंं तो आपको इन क्रीमों का उपयोग नहीं करना चाहिए क्योंकि यह आपके स्‍ट्रेच मार्क्‍स का ट्रीटमेंट नहीं करेंगे। 

इसके अलावा इस बात का भी ध्‍यान रखें कि इसके इस्‍तेमाल से पहले डॉक्‍टर से सलाह जरूर ले लें। साथ ही इस बात का ध्‍यान रखें कि प्रेग्‍नेंसी या ब्रेस्‍टफीडिंग के दौरान इन क्रीमों का उपयोग न करें क्योंकि वे टेराटोजेनिक हैं और जन्मजात दोष पैदा कर सकते हैं।

Recommended Video

3. घरेलू नुस्‍खे

stretch marks after weight loss inside

इसके अलावा प्राकृतिक घरेलू नुस्‍खे स्‍ट्रेच मार्क्‍स को दूर भगाने के लिए बहुत ही सुरक्षित उपाय हैं, क्योंकि इनमें दवाओं की तरह केमिकल नहीं होते हैं और आपके स्वास्थ्य को ख़राब नहीं करते हैं। लेकिन यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि घरेलू नुस्‍खे स्‍ट्रेच मार्क्‍स शुरुआत में अधिक प्रभावी होते हैं। इसके लिए आप एलोवेरा, अंडा नींबू जैसे घरेलू नुस्‍खों को अपना सकती हैं। 

इसे जरूर पढ़ें: स्‍ट्रेच मार्क्‍स से छुटकारा दिलाते हैं एक्‍सपर्ट के ये 8 टिप्‍स, तुरंत दिखता है असर 

इन टिप्‍स को फॉलो करके भी आप स्‍ट्रेच मार्क्‍स के जोखिम को कम कर सकती हैं:

  • जब आप डाइटिंग पर होती हैं तो आपको धीरे-धीरे वजन कम करने का लक्ष्य रखना चाहिए।
  • आपको यो-यो डाइट से बचना चाहिए।
  • हेल्‍दी वजन बनाए रखें।
  • विटामिन्‍स और मिनरल्‍स से भरपूर हेल्‍दी डाइट का सेवन करें।
  • ध्‍यान रखें कि डाइट में जिंक और विटमिन सी हो। ये न्यूट्रियंट्स कोलेजन बनाने में मदद करते हैं।
  • पानी (6-8 गिलास एक दिन) पीना बिल्‍कुल न भूलें। 
  • आपको थोड़ी एक्सरसाज और स्ट्रेचिंग भी करनी चाहिए। 
  • हर रोज 15-20 मिनट की एक्सरसाइज भी ब्लड सर्कुलेशन और स्किन इलास्टिसिटी को बनाए रखने में मदद करती है।

इन टिप्‍स को अपनाकर आप भी वेट लॉस के बाद होने वाले स्‍ट्रेच मार्क्‍स को दूर कर सकती हैं। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।