हेल्‍दी और चमचमाते दांत चेहरे की खूबसूरती में चार-चांद लगा देते हैं। इसके अलावा हेल्‍दी दांतों की मदद से आपका पेट भी दुरुस्‍त रहता है क्‍योंकि दांत आपके खाने को अच्‍छे से चबाते हैं जिससे पेट को बहुत ज्‍यादा मेहनत नहीं करनी पड़ती है। जी हां दांत केवल खाना चबाने के लिए ही नहीं खूबसूरती बढ़ाने में भी हेल्‍प करते हैं। लेकिन दांतों की अच्‍छी तरह से देखभाल न करने से दांत कमजोर होकर टूटने लगते हैं। यूं तो बाजार में मिलने वाले बहुत सारे टूथपेस्‍ट हेल्‍दी दांत देने का दावा करते हैं, लेकिन हर टूथपेस्‍ट आपके दांतों को मजबूत नहीं बनाता है। इसलिए आज हम आपको होममेड टूथपेस्‍ट बनाने का तरीका बता रहे हैं जिससे कुछ दिन इस्‍तेमाल करने से ही आपको अपने दांतों में मजबूत और सफेदी दिखाई देगी। अगर आपको भी कमजोर दांतों की समस्‍या है और आप भी कई तरह के टूथपेस्ट बदल-बदलकर थक चुकी हैं तो होममेड टूथपेस्‍ट को आप भी ट्राई करें। इस होममेड टूथपेस्‍ट के बारे में आयुर्वेदिक एक्‍सपर्ट वाजपेयी जी बता रहे हैं।  

सफेद दांत और मजबूत मसूड़ों हेल्‍दी दांतों की निशानी है। दांत हेल्‍दी हो तो उससे कोई परेशानी नहीं होती है लेकिन दांतों और मसूड़ों के कमजोर होने से कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। कमजोर दांतों और मसूड़ों के चलते खाने-पीने में अक्सर दिक्कत होती है। हालांकि इन्हें मजबूत बनाए रखने के लिए सिर्फ ब्रश करना ही काफी नहीं है बल्कि इन्हें खास देखभाल की जरूरत होती है और इसके लिए आप इस आर्टिकल को जरूर पढ़ें।

homemade toothpaste for strong teeth inside

सामग्री

  • सेंधा नमक- 75 ग्राम 
  • लौंग का तेल- 5 ग्राम
  • फिटकरी- 5 ग्राम 
  • यूकेलिप्‍टस ऑयल- 5 ग्राम 
  • मिंट- 5 ग्राम 
  • हल्‍दी पाउडर- 10 ग्राम 
  • सरसों का तेल- आवश्‍यकतानुसार 

बनाने का तरीका

  • इन सभी चीजों को मिलाकर पेस्‍ट बना लें। 
  • फिर इससे दांतों को दिन में दो बार साफ करें। 
  • इसके अलावा सुबह पेट साफ करते समय जब आप टॉयलेट सीट पर बैठते है तो उस समय दांतों को भींचकर रखें। 
  • इससे दांत हमेशा मजबूत बने रहेंगे।

Recommended Video

homemade toothpaste inside

टूथपेस्‍ट में मौजूद चीजों के फायदे

  • सेंधा नमक में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं जो दांतों को बैक्टीरियल इन्‍फेक्‍शन से बचाते हैं और हेल्‍दी बनाए रखने में मदद करते हैं। 
  • सरसों के तेल में पर्याप्त मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट्स गुण होते हैं जो कि दांतों को हेल्‍दी रखने में मदद करते हैं।
  • लौंग के तेल में मौजूद यूजेनॉल में प्राकृतिक अनेस्थेटिक और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो मुंह में सूजन को कम करने में लाभदायक होते हैं। दांतों में छिपे बैक्‍टीरिया से लड़ने में यह काफी असरदार उपाय होता है।
  • नीलगिरी का तेल आपकी दांतों की हेल्‍थ के लिए फायदेमंद होता है। इसकी एंटी-माइक्रोबियल गुण दांतों की सडऩ को दूर करने का काम करते हैं। यह तेल दांतों के इन्‍फेक्‍शन के लिए बहुत लाभदायक होता है। इसी वजह से इस तेल का इस्‍तेमाल टूथपेस्ट में किया जाता है।
  • फिटकरी में मौजूद तत्व दांतों की हेल्‍थ के लिए फायदेमंद होते हैं। फिटकरी का नियमित इस्तेमाल दांतों की कैविटी को कम करने में मदद करता है। 
  • हल्दी में मौजूद एंटी-बैक्‍टीरियल गुणों के साथ एंटी-इंफ्लेमेंटरी गुण मसूड़ों को हेल्‍दी रखने में मदद करते हैं। साथ ही बैक्‍टीरियल संक्रमण के कारण दांतों के गिरने की समस्‍या को भी रोकता है। दांतों को चमकाने के लिए भी हल्‍दी का इस्‍तेमाल किया जा सकता है। हल्दी पाउडर से दांत मजबूत होते हैं और पीलापन दूर हो जाता है।
  • इसके अलावा मिंट में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं जो दांतों की हेल्‍थ के लिए बहुत अच्‍छे होते हैं। 
homemade toothpaste inside

अन्‍य उपाय

  • इसके अलावा आप सेंधा नमक, हल्दी पाउडर व सरसों के तेल को मिलाकर मध्यम अंगुली से दांतों को साफ करें। हल्दी एंटीबायोटिक का काम करती है। लेकिन इसका इस्‍तेमाल सिर्फ 15 दिनों तक ही करें। 15 दिनों में ये मसूड़ों को मजबूत कर देती है। 
  • इससे अधिक समय तक इस्‍तेमाल करने से दांतों में पीलापन होने का खतरा रहता है।

इस होममेड टूथपेस्‍ट की मदद से आप अपने दांतों को मजबूत बना सकती हैं। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।  

Image Credit: Freepik.com