ऐसा जरूरी नहीं कि आपका शरीर बढ़ती उम्र में भी उसी तरह काम करें, जैसा पहले किया करता था। बढ़ती उम्र के साथ एक ऐसा भी वक्त आता है, जब आप कमजोर महसूस करने लगती हैं, खास कर 30 की उम्र में। कई महिलाओं को 30 की उम्र में नियमित कमर दर्द की समस्या होती है। ऑफिस लाइफ में एक जगह बैठने की वजह से चलना-फिरना कम होता है। इसकी वजह से कई तरह की शारीरिक समस्याएं शुरू हो जाती हैं।

इसके अलावा हमारी शुरुआती डाइट और लाइफस्टाइल जो हम बचपन से बनाते हुए आये हैं, उसका बड़ा प्रभाव हमारी सेहत पर होता है। ये बढ़ती उम्र में भी समस्याओं से निपटने में सहायता करती हैं। हेल्दी लाइफस्टाइल और कुछ गलत आदतों को छोड़ने से आप न सिर्फ सेहतमंद रह सकती हैं बल्कि कई गंभीर बीमारियों से भी खुद को बचा सकती हैं। आइए जानते हैं उन हेल्दी आदतों के बारे में जिसे 30 की उम्र में जरूर फॉलो करनी चाहिए।

सुबह जल्दी उठें

wakeup early

अक्सर आपने देखा होगा, सुबह जल्दी उठने वाले हमेशा स्वस्थ रहते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि यह आपको एक अनुशासन और संरचना बनाने में मदद करता है। ऐसा करने से आपके पास एक्सरसाइज और आराम दोनों करने के लिए पर्याप्त समय होता है। 

शरीर की जरूरतों को करें पूरा

सेहत से जुड़ी परेशानियों को नजरअंदाज न करें। अगर आपको किसी खाद्य पदार्थ से एलर्जी है तो उसे खाने से परहेज करें। ऐसा कई बार होता है जब महिलाओं को दूध-दही नहीं पचता, तो उन्हें अपनी डाइट में शामिल न करें। अगर आप अपनी सेहत को महत्व नहीं देंगी तो एक्सट्रा इंफ्लामेशन या फिर कमजोर इम्यूनिटी होने की समस्या पैदा हो सकती हैं।

एक्सरसाइज रूटीन करें फॉलो

exercise must

30 की उम्र में एंट्री करते ही अपने रूटीन में एक्सरसाइज को जरूर शामिल कर लें। इसके अलावा पैदल चलना, सीढ़ियों का इस्तेमाल करना आदि चीजों को भी फॉलो करें। ये सब आपके लिए बहुत जरूरी हैं, क्योंकि बॉडी इससे मूवमेंट करती रहेगी। वहीं एक्सरसाइज करने से न सिर्फ कैलोरी बर्न कर सकती हैं, बल्कि अपनी बॉडी को एनर्जेटिक भी रख सकती हैं।

फैट से न डरें

जरूरी नहीं कि फैट मतलब मोटापा होता है। शरीर को हेल्दी फैट की भी आवश्यकता होती है। एवोकाडो में पाया जाने वाला मोनोअनसैचुरेटेड फैट और नट्स में पाया जाने वाले हेल्दी फैट दोनों ही आपकी सेहत के लिए आवश्यक हैं।

इसे भी पढ़ें: तिल के तेल से पैरों के तलवों की मालिश से सेहत को होंगे ये 7 बड़े फायदे

हेल्दी फूड को करें फॉलो

healthy diet

अगर आप मोटी हो रही हैं, तो डाइटिंग नहीं बल्कि हेल्दी फूड खाना शुरू करें। खाली पेट रहने से आप मोटापे का शिकार जल्दी हो सकती हैं, इसलिए जरूरी है कि अपने पेट को हेल्दी फूड से भरा जाए। वहीं क्वांटिटी की बजाय क्वालिटी पर ध्यान रखें, जिससे आपके शरीर को पोषण मिल सके और आपका पेट भी भरा रहे। कई बार महिलाओं को ऐसा लगता है कि खाना स्किप करने से पतले हो सकते हैं, जबकि ऐसा नहीं है। खाना स्किप करने से आप कमजोर हो सकती है पतली नहीं।

Recommended Video

मसालों का करें सेवन

डीप फ्राई चीजों से परहेज कर सकती हैं, इसका मतलब यह नहीं कि मसालों का सेवन करना बंद कर दें। मसाले न सिर्फ सेहत के लिए फायदेमंद है बल्कि इसके इस्तेमाल से खाने का स्वाद भी बढ़ जाता है। दालचीनी, हल्दी, काली मिर्च जैसे कई मसाले हैं, जो सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं, इससे न सिर्फ ब्लड शुगर को कंट्रोल कर सकते हैं बल्कि अन्य गंभीर बीमारियों को भी दूर कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: Winter Care: महिलाओं की हेल्‍थ का पहरेदार है तिल का तेल, इसके 9 फायदे जानें

मीठे से बनाएं दूरी

skip suger

अगर आपको मीठा बहुत पसंद है, तो बढ़ती उम्र के साथ इसे कम करें। शुगर युक्त चीजों का सेवन करने के बजाय हेल्दी चीजों का सेवन करें, जैसे शहद। बता दें कि मोटापा बढ़ने की एक वजह मीठा भी है। रिसर्च के मुताबिक अधिक चीनी खाने से हृदय रोग होने का खतरा 38 प्रतिशत अधिक बढ़ जाता है। यह एक इंफ्लामेटरी इंग्रीडिएंट्स माना जाता है जिसका सेवन 10 ग्राम से अधिक नहीं होना चाहिए।

यह आर्टिकल आपको अच्‍छा लगा हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें। इसी तरह और भी आर्टिकल्‍स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से।