• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

दवाओं से नहीं बल्कि घर में मौजूद इन 5 हर्ब्‍स से दूर होगा वायरल फीवर, जानिए कैसे

मौसम में बदलाव आने पर मेरी मम्‍मी मुझे गिलोय वटी और तुलसी की पत्तियां रोजाना खाने को देती हैं,ताकि वायरल फीवर मुझसे दूर रहें।
author-profile
Published -13 Aug 2018, 18:07 ISTUpdated -14 Aug 2018, 13:03 IST
Next
Article
Image courtesy: Shutterstock.comviral fever health main

मौसम बदलते ही ज्‍यादातर लोग वायरल फीवर की चपेट में आने लगते हैं। ऐसा उनकी कमजोर इम्‍यूनिटी के कारण होता है। हालांकि इससे निपटने के लिए बाजार में कई तरह के एंटीबायोटिक मौजूद हैं, लेकिन बॉडी पर इनके साइड इफेक्‍ट के साथ-साथ मुंह का स्‍वाद भी बिगड़ने लगता है। इसके अलावा लंबे समय तक आपको कमजोरी का अहसास भी होता है। लेकिन परेशान ना हो क्‍योंकि ऐसे में आप कुछ आसान घरेलू उपायों का इस्‍तेमाल कर सकती हैं। जो आपको सेहत के इस दुश्‍मन से जल्‍द राहत दिला सकता है। और सबसे अच्‍छी बात ये सारे हर्ब्‍स आपकी किचन में आसानी से मिल जाएगें।   

जब भी मौसम में बदलाव आता है, मेरी मम्‍मी मुझे गिलोय वटी और तुलसी की 5 पत्तियां रोजाना खाने को देती है ताकी मेरी इम्‍यूनिटी मजबूत हो और मौसमी बीमारियों खासतौर पर वायरल फीवर मुझसे कोसों दूर रहें। आइए ऐसे कौन सी चीजें है जिनके सेवन से वायरल फीवर आपसे कोसों दूर कर सकता है।

Read more: Immunity booster गिलोय सर्दी में हर तरह के बुखार से देता है safety

तुलसी के गुण
tulsi viral fever inside

तुलसी में एंटीबायोटिक गुण होते हैं जिससे बॉडी में मौजूद वायरस दूर होते हैं। आधा चम्‍मच लौंग के चूर्ण और 10 तुलसी के ताजे पत्तों को एक लीटर पानी में डालकर इतना उबालें जब तक यह सूखकर आधा न रह जाए। इसके बाद इसे छानें और ठंडा करके हर 2 घंटे के अंतराल में पिएं। आपको वायरल से जल्द ही आराम मिलेगा।

मेथी का जादू

मेथी ना केवल आपकी सब्‍जी के स्‍वाद को बढ़ाती हैं बल्कि इसमें बहुत सारे औषधीय गुण होते हैं जो वायरल फीवर के कष्‍टों को दूर करने में आपकी हेल्‍प करती है। एक कप पानी में एक चम्मच मेथी के दाने रात भर भिगोकर रखें। अगले दिन सुबह इसको छानकर निश्चित अंतराल में इसका सेवन करें। सुबह मेथी के दाने, नींबू का रस और शहद के मिश्रण का सेवन करने से भी कुछ हद तक बुखार से राहत मिलता है।

धनिये की चाय

धनिया में मौजूद फाइटोनूट्रीएंट्स और विटामिन इम्‍यूनिटी को मजबूत बनाने में हेल्‍प करती है। धनिया प्राकृतिक तरीके से वायरल फीवर से लड़ने में मदद करता है। एक गिलास पानी में एक बड़ा चम्मच धनिया के दाने डालें और उसको थोड़ा उबाल लें। उसके बाद कप में छानकर स्वाद के अनुसार थोड़ा-सा दूध और चीनी डालकर पीने से वायरल बुखार से राहत मिलती है।

चमत्‍कारी गिलोय
giloy viral fever inside

शालीमार बाग स्थित फोर्टिस हॉस्पिटल की डायटिशियन सिमरन सैनी से बात की। तब उन्‍होंने मुझे बताया कि 'सच में गिलोय जिसे कुछ महिलाएं गुदुची के नाम से भी जानती हैं, एक ऐसा हर्ब है जिससे आप नेचुरल तरीके से वायरल फीवर का इलाज कर सकती हैं। यह फीवर के साथ-साथ कई रोगों से आपको दूर रखने में हेल्‍प करता है क्‍योंकि इससे आपकी इम्‍यूनिटी स्‍ट्रॉग होती है।' डाइटिशियन सिमरन के अनुसार, गिलोय में कई तरह के गुण पाए जाते हैं। गिलोय एंटीऑक्‍सीडेंट से भरपूर होता है जो हमारी फ्री-रेडिकल्‍स से रक्षा करता है और इम्‍यूनिटी बढ़ाता है। यह बॉडी को ठंडा रखता है जिससे बुखार कम करने में हेल्‍प मिलती है।

Read more: High fever होने पर आपकी बॉडी में होता है कुछ ऐसा

व्‍हीट ग्रास

स्‍वामी रामदेव का कहना हैं कि डाइटरी फाइबर, विटामिन और मिनरल से भरपूर एक ऐसी औषधि है जिसे आप आसानी से अपने घर में उगा सकती हैं। यह आपके डाइजेशन के लिए बहुत अच्‍छी होती है और रेड ब्‍लड सेल्‍स, पोटेशियम और इलेक्ट्रोलाइट के उत्पादन में हेल्‍प करता है - ये सभी चीजें आपकी बॉडी को फिट और अच्‍छे के काम करने में मदद करता हैं। अगर आप इसे घर में नहीं उगाना चाहती हैं तो इसे आसानी से बाजार में पाउडर और जूस के रूप में ले सकती हैं।
लेकिन ध्‍यान रहें अगर आपको बुखार बहुत तेज है तो तुरंत डॉक्‍टर से सलाह लें।
Image courtesy: Shutterstock.com

Recommended Video

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।