Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    कहीं आपके गलत सोने की वजह से तो नहीं हो रहा ब्रेस्ट में दर्द?

    अगर आपको बार-बार ब्रेस्ट में पेन हो रहा है तो हो सकता है कि इसका कारण आपकी स्लीपिंग पोजीशन हो। 
    author-profile
    Updated at - 2022-12-05,16:25 IST
    Next
    Article
    How sleeping position affects breast

    ब्रेस्ट पेन की बात करें तो इसके बहुत से कारण हो सकते हैं। कई बार हमारे लिए ब्रेस्ट जी का जंजाल बन जाते हैं क्योंकि इन्हें मैनेज करना मुश्किल हो जाता है। इसे पढ़कर हो सकता है कि आपको अजीब लगे, लेकिन अगर आपके बड़े ब्रेस्ट हैं तो सही मायनों में बताएं कि आपको कितनी बार बिना कारण ब्रेस्ट में दर्द होता है या फिर दिन भर में कितनी बार उनकी वजह से किसी ना किसी तरह की परेशानी होती है? अगर आपने गलत ब्रा भी पहन ली तो भी तकलीफ बढ़ जाती है। 

    बड़े ब्रेस्ट वाली महिलाओं को होने वाली तकलीफों में से एक परमानेंट है ब्रेस्ट और बैक पेन, लेकिन इसका कारण क्या है? इसका कारण आपके सोने का तरीका भी हो सकता है। किस तरह से सोने से ब्रेस्ट में तकलीफ होती है इसके बारे में हम बात करते हैं। 

    ब्रेस्ट पेन को लेकर क्या कहती है रिसर्च?

    National Center for Biotechnology Information (NCBI) की एक स्टडी बताती है कि लगभग 70% महिलाओं को अपने जीवन में कभी ना कभी ब्रेस्ट पेन की समस्या जरूर होती है। ये साइकलिकल (पीरियड से पहले बहुत ज्यादा होने वाला दर्द) या नॉन-साइकलिकल (जिसका पीरियड्स से कोई लेना-देना ना हो) हो सकता है। इसे साइंटिफिक भाषा में mastalgia कहा जाता है। 

    breast and sleeping position

    इसे जरूर पढ़ें- आखिर क्यों एक ही शेप के होते हैं ब्रा के हुक, जानें इसके पीछे का लॉजिक

    क्या सोने की पोजीशन से होता है ब्रेस्ट में दर्द?

    स्लीपिंग पोजीशन और ब्रेस्ट को लेकर कई स्टडीज की गई हैं और एक चीज़ जो हमें कई जगहों पर देखने को मिली वो ये कि ब्रेस्ट पर सोने की पोजीशन का असर पड़ता है। चाहें आप पेट के बल सो रही हों या फिर करवट लेकर ब्रेस्ट के शेप और इसकी मसल्स पर फर्क पड़ेगा। आपको अपने ब्रेस्ट को दो अलग ऑर्गन की तरह ही देखना होगा। आपके ब्रेस्ट हार्मोन्स, स्लीपिंग पोजीशन, लाइफस्टाइल की गलतियों से उतना ही प्रभावित होते हैं जितना शरीर का कोई अन्य ऑर्गन। 

    bad sleeping position for breast

    ब्रेस्ट में भी सेंसिटिव टिशू होते हैं और फैट का असर उनपर भी पड़ता है। अगर आप पेट के बल सोती हैं तो आपके चेस्ट पर बिना बात का प्रेशर पड़ता है और इसके कारण दर्द हो सकता है। ये अगर लंबे समय तक चलता है तो दर्द ज्यादा बढ़ सकता है। इसी के साथ, अगर आप करवट लेकर सोती हैं तो ग्रैविटी का असर ब्रेस्ट पर पड़ता है और ब्रेस्ट सैगिंग की समस्या हो सकती है। इन कारणों से लड़कियों को ब्रेस्ट लिगामेंट इंजरी या स्किन इश्यू होने की संभावनाएं होती हैं।  

    एक रिपोर्ट कहती है कि लंबे समय तक ऐसा करने से ब्रेस्ट का शेप बदल सकता है। इसलिए पेट के बल सोना आपके ब्रेस्ट के लिए खासतौर पर खराब होता है। 

    इसे जरूर पढ़ें- आखिर क्यों महिलाओं की ब्रा में बना होता है Bow? जानें इससे जुड़े कई फैक्ट्स 

    ब्रेस्ट के हिसाब से सही सोने की पोजीशन क्या है? 

    आपके ब्रेस्ट के लिए पीठ के बल सोना सबसे अच्छा साबित हो सकता है। इसके दो कारण हैं- पहला ये कि ब्रेस्ट आपकी आर्म्स और शरीर के नीचे नहीं होंगे और ऐसे में आप ज्यादा कंफर्टेबली सो पाएंगी। जिनके ब्रेस्ट बड़े हैं उन्हें इस समस्या के बारे में पता होगा। इसके साथ ही साथ पीठ के बल सोने से फायदा ये भी होगा कि आपके चेस्ट से थोड़ा प्रेशर बैक साइड में शिफ्ट हो जाएगा तो ब्रेस्ट की हैवीनेस आपको ज्यादा महसूस नहीं होगी।  

    ब्रेस्ट के हिसाब से सोने की सही पोजीशन ये हो सकती है कि आप बैक के बल सोएं और अपने घुटनों के नीचे एक तकिया रख लें। ये बल्ड सर्कुलेशन के लिए भी अच्छा होगा। अगर आप ऐसे सोने की आदत डालती हैं तो आपको थोड़ा ज्यादा रिलैक्स महसूस होगा।  

    वैसे तो ब्रा के बिना सोना ज्यादा अच्छा साबित हो सकता है, लेकिन अगर आप ब्रा पहन रही हैं तो सॉफ्ट कप की ब्रा पहन कर सोएं ताकी ब्रेस्ट भी प्रेशर फ्री रह सकें। 

    आपके हिसाब से बेस्ट स्लीपिंग पोजीशन क्या होती है? इसके बारे में हमें आर्टिकल के नीचे दिए कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। 

     

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।