कोरोना वायरस महामारी के साथ हम एक अभूतपूर्व मानसिक स्वास्थ्य संकट का सामना कर रहे हैं। भारत में यह एक गंभीर विषय बन गया है और लोगों में मानसिक भलाई के लिए जागरूक होने की आवश्यकता है। एनसीबीआई के अनुसार, इस महामारी के दौरान भारतीय आबादी में तनाव, चिंता, डिप्रेशन, अनिद्रा और आत्महत्या की प्रवृत्ति जैसे मानसिक समस्‍याएं बहुत ज्‍यादा बढ़ गई हैंं और यह एक भयावह स्थिति है। इसलिए आज हम आपको मानसिक तनाव से छुटकारा दिलाने वाले कुछ हर्ब्‍स के बारे में बता रहे हैं। इस बार में हमें मिलेनियम हर्बल केयर के सीईओ और डायरेक्टर, श्री चिंतन गांधी जी बता रहे हैं।

श्री चिंतन गांधी जी का कहना है कि ''आयुर्वेद के अनुसार संपूर्ण स्‍वास्‍थ्‍य को बनाए रखने के लिए एक हेल्‍दी दिमाग महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और आप आयुर्वेद की मदद से मन, शरीर, आत्मा, इंद्रियों और उनके कामकाज को ठीक रख सकती हैं। तनाव आपके दोषों के आंतरिक सामंजस्य को बाधित करता है। इनमें से मुख्य कोर्टिसोल है। यह एक तनाव हार्मोन है जो इम्‍यून सिस्‍टम को दबाता, ब्‍लड प्रेशर को बढ़ाता है और याददाश्त में कमी करके डिप्रेशन, चिंता और अन्य मानसिक समस्‍याओं के जोखिम बढ़ा सकता है। मन, शरीर और आत्मा को ठीक करने में मदद करने के लिए आयुर्वेदिक हर्ब्‍स सदियों से प्रचलन में हैं और हमारे जीवन में आने वाले तनावों को कंट्रोल करने में मदद करते हैं।''

हर्ब्स

हर्ब्‍स में मौजूद शक्ति नेचुरल और हेल्‍दी तरीके से बीमारियों को दूर करने में मदद करती है। साथ ही आयुर्वेद हर्ब्‍स का एक समूह प्रदान है जो मस्तिष्क की क्षमताओं को बेहतर बनाने में फायदेमंद होते हैं।

इसे जरूर पढ़ें:कहीं आपके बढ़ते weight और stress का कारण घर में मौजूद ये चीजें तो नहीं

ब्राह्मी

herbs inside

ब्राह्मी एक एडाप्टोजेनिक जड़ी बूटी है, यह न्यूरोट्रांसमीटर जैसे सेरोटोनिन और डोपामाइन को संशोधित करके तंत्रिका तंतुओं का सुधार करके तनाव में लचीलापन बढ़ाती है जो याद्दाशत, सीखने और भावनाओं को बैलेंस करता है।

शंखपुष्पी

herbs inside

शंखपुष्पीको ब्रेन के लिए टॉनिक माना जाता है। यह तनाव हार्मोंन कोर्टिसोल के लेवल को कम करता है। यह तंत्रिका तंत्र को शांत करता है और अनिद्रा से निपटने में बेहद प्रभावी होता है।

जटामांसी

herbs inside

जटामांसी सेंट्रर मोनोमाइन और अमीनो एसिड के लेवल को बढ़ाती है, जिसमें सेरोटोनिन, 5-हाइड्रॉक्सिंडोल एसिटिक एसिड, (जीएबीए) गामा-एमिनो ब्यूटेनिक एसिड और टॉरिन के लेवल में बदलाव शामिल हैंं जो तनाव को दूर करनेमें मदद करते हैं।

वाचा

herbs inside

वाचा में चिंता, भय और डिप्रेशन जैसे लक्षणों को दूर करने के लिए सीएनएस (सेंट्रल नर्वस सिस्टम) होता है, यह मस्तिष्क के विभिन्न हिस्‍सों में मोनोमाइन लेवल में बदलाव करके विद्युत गतिविधि को बदलता है।

इसे जरूर पढ़ें:लॉक डाउन के समय इन स्टेप्स की मदद से करें स्ट्रेस को दूर

Recommended Video

मण्डूकपर्णी

herbs benefits

मण्डूकपर्णी हर्ब भी मानसिक हेल्‍थ के लिए बहुत अच्‍छा होता है। यह मानसिक स्पष्टता, एकाग्रता में सुधार करता है और न्यूरोट्रांसमीटर - डोपामाइन, नॉरपेनेफ्रिन या सेरोटोनिन स्राव को संतुलित करके और न्यूरॉन्स (ब्रेन सेल्‍स) को पुनर्जीवित करके मानसिक तनाव को कम करता है।

आयुर्वेद के अनुसार, तनाव से छुटकारा पाने के लिए उत्तेजक कारकों से बचना बेहद जरूरी होता है। आयुर्वेद प्रत्येक व्यक्ति के लिए विशिष्ट जीवनशैली, आहार और हर्ब्‍स प्रदान करता है जो न केवल तनाव को कम करते हैं बल्कि मन में हमेशा शांति बनाए रखने के लिए एक आधार बनाने में मदद करते हैं। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।