तपती गर्मी के बाद बारिश के आने से सभी को राहत मिलती है। जी हां बारिश का मौसम सभी को बहुत सुहावना लगता है। इस समय लगभग सभी बारिश को इन्जॉय करते हैं, कोई बारिश में नहाता है तो कोई बालकनी से इसका मजा लेता है। आसमान से बारिश की बूंदें जब धरती पर गिरती हैं तो आंखों के लिए इससे मनमोहक नजारा और कोई हो ही नहीं सकता। लेकिन इस बात में भी कोई शक नहीं कि इस मौसम में आपके घर को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचता है। बारिश में घर में सीलन, फंगस और लीकेज जैसी कई समस्याएं सामने आती हैं। घर में सीलन के कारण गंदगी के साथ-साथ अजीब सी बदबू भी आने लगती है। इसके अलावा सीलन के चलते दरवाजे भी टाइट होने लगते हैं। यह सब किसी के लिए भी बड़ी मुसीबत बन सकता है। जबकि घर एक ऐसी जगह है जो जितना ज्‍यादा सुंदर होगा इंसान उतना ही ज्‍यादा रिलैक्‍स महसूस करता है। लेकिन इन समस्‍याओं के कारण रिलैक्‍स करना मुश्किल हो जाता है और लोग बारिश के बंद होने की दुआएं करने लगते हैं। अगर आप भी अपने घर की सीलन से परेशान हैं तो हम आपके लिए कुछ घरेलू उपाय लेकर आए हैं जिससे आप बारिश के मौसम में सीलन की समस्‍या और इससे आने वाली बदबू से छुटकारा पा सकती हैं।

घर में एग्जॉस्ट फैन चलाएं

किचन और बाथरूम के पंखे अप्रिय गंध और ह्यूमिडिटी को बाहर निकालने में आपकी मदद कर सकते हैं। क्या आप जानती हैं कि अगर एक कमरे को 24-48 घंटे के लिए ऐसे ही छोड़ दिया जाता है तो 55% से अधिक ह्यूमिडिटी लेवल मोल्ड और बैक्टीरिया के बढ़ने का कारण बन सकता है? इसलिए जब भी आपको खाना बनाना हो या शॉवर लेना हो तो उस अतिरिक्त नमी को बाहर निकालने के लिए एग्जॉस्ट फैन चलाएं।

इसे जरूर पढ़ें: इन आसान तरीकों से घर में आने वाली स्मेल को करें हैंडल

seelan at home inside

डीह्यूमिडिफायर का इस्‍तेमाल करें

अगर आपके घर के अंदर ह्यूमिडिटी का लेवल 65% या उससे अधिक है तो डीह्यूमिडिफायर खरीदने का सही समय है। हालांकि, पोर्टेबल आपके काम आ सकता है लेकिन अगर आपके पास बजट उपलब्ध हो तो आप पूरे घर के लिए डीह्यूमिडिफायर खरीद सकती हैं।

ह्यूमिडिटी को अवशोषित करने वाले पौधे लगाएं

कुछ पौधे, जैसे बोस्टन फर्न, हवा से ह्यूमिडिटी को दूर करते हैं। इससे न केवल आप अपने ह्यूमिडिटी के लेवल और एनर्जी की खपत को कम कर रहे हैं, बल्कि आप अधिक कार्बन डाइऑक्साइड को हटाकर और अधिक ऑक्सीजन को जोड़कर पर्यावरण की मदद कर सकती हैं। इसके अलावा अपने घर को फूल से सजाएं, जिससे कि घर की सुंदरता में इजाफा हो और बदबू भी न आए।

 

Recommended Video

घरों में धूप आने दें

धूप एकमात्र ऐसा उपाय है जिससे सीलन से बहुत जल्दी छुटकारा पाया जा सकता है। इसके लिए घर की खिड़की और दरवाजों को खुले रखें जिससे कि धूप घर के अंदर आसानी से आ सके। इसके अलावा धूप की मदद से घर में सीलन के कारण आने वाली बदबू से भी छुटकारा पाया जा सकता है। 

seelan at home inside

ह्यूमिडिटी से भरे दिनों में पानी नहीं उबालें

उबला हुआ पानी स्‍टीम में बदल जाता है जो आपके घर की बाकी हवा में अवशोषित हो जाता है। अगर बाहर ह्यूमिडिटी है तो इसमें से कुछ आपके घर में मिल जाएगी, चाहे आप कितनी भी कोशिश कर लें। पानी उबलकर अपने घर में ह्यूमिडिटी के लेवल को बढ़ाए नहीं।

रोजाना घर की सफाई करें 

बारिश के दिनों में घरों में गंदगी, सीलन और बदबू सभी एक साथ आने लगती हैं। इसलिए बेहतर होगा कि आप अपने घर कि हर रोज सफाई करें। खासकर बाथरूम और किचन की क्‍योंकि इन दोनों जगहों से सबसे ज्यादा बीमारी की संभावना होती है।

लौंग का इस्तेमाल

लौंग के इस्तेमाल से घर की सीलन से आप आसानी से निजात पा सकती हैं। इसके लिए लौंग और दालचीनी को करीब आधा घंटे तक पानी में रखकर छोड़ दें और उसके बाद इन्हें उबालकर इसके पानी को रुम फ्रेशनर की तरह इस्‍तेमाल करें। 

इसे जरूर पढ़ें: छोटा ही सही, लेकिन खूबसूरत हो आपका आशियाना

sweet home inside

एसी फिल्टर को साफ करें

एयर कंडीशनिंग ह्यूमिडिटी को रोकने या कम करने के लिए सबसे अच्‍छा होता है। घर को ठंडा करने के लिए यह बाहर से हवा को खींचता है और ह्यूमिडिटी को छानता है। यह डीह्यूमिडिफाइंग का एक नेचुरल तरीका है लेकिन यह सिर्फ आपके एसी फिल्टर के रूप में प्रभावी होता है। समय के साथ, फ़िल्टर बंद हो जाते हैं और हवा के प्रवाह को रोकते हैं, जिससे ह्यूमिडिटी एक्टिव हो जाती है। इसे साफ करने से घर में ह्यूमिडिटी की मात्रा कम करने में मदद मिलती है।

इन उपायों की मदद से आप भी अपने घर की सीलन को कम कर सकती हैं। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।