• ENG | தமிழ்
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

मुगल साम्राज्य की सबसे महंगी और शाही शादी, कई दिनों तक चला था जश्न

आपने यकीनन मुगल बादशाहों की कई कहानी सुनी होंगी, लेकिन इस बार आप मुगल शाही शादी के बारे रोचक तथ्य जानेंगे।  
author-profile
Published -29 Sep 2022, 19:12 ISTUpdated -29 Sep 2022, 19:39 IST
Next
Article
most expensive wedding in hindi

आपने यकीनन कई मुगल कहानियों के बारे में सुना होगा क्योंकि मुगल काल में कई राज वंश ऐसे रहे हैं, जिनके बारे में लोग हमेशा जानने की इच्छुक रहते हैं जैसे- बादशाह बाबर, बादशाह अकबर, औरंगजेब आदि। साथ ही, आज भी आपको हिंदुस्तान में मुगल वास्तुकला के कई नमूने देखने को मिल जाएंगे जैसे- लाल किला, ताजमहल, आगरा का किला, जामा मस्जिद आदि।

मगर बहुत कम लोग ऐसे हैं, जिन्हें मुगल साम्राज्य की प्रथा, रीति- रिवाज, शाही दावत और रहन-सहन के बारे में मालूम होगा। इसलिए आज हम आपको मुगल साम्राज्य की सबसे महंगी शादी और उसके वेतन से जुड़े रोचक तथ्यों के बारे में जानकारी दे रहे हैं, जो मुगल इतिहास में दर्ज है। मगर इससे पहले आइए जानते हैं मुगल साम्राज्य के बारे में।

मुगल साम्राज्य का संक्षिप्त इतिहास

History of mughal wedding in hindi

मुगल साम्राज्य का दौर लगभग सन 1526 से 1857 तक रहा, जिसकी स्थापना बाबर ने पानीपत की पहली लड़ाई में इब्राहिम लोदी को हराकर की थी। इसके बाद हुमायूं, अकबर, जहांगीर, शाहजहां आदि के बाद अंतिम मुगल शासक औरंगजेब था, जिन्होंने अपने शासन के दौरान समाज का निर्माण किया था। 

इसे ज़रूर पढ़ें- मुगल साम्राज्य के इन शक्तिशाली बादशाहों के बारे में कितना जानते हैं आप? 

हालांकि, कई इतिहासकारों का मानना है कि सन 1707 से लेकर सन 1857 तक मुगल साम्राज्य के पतन यानि विघटन दौर से गुजर रहा था। इसके अलावा, कुछ महिलाएं भी थीं, जिन्होंने अपना योगदान नीति-निर्माण में दिया था।

शाहजहां ने अपने बेटे का करवाया था शाही निकाह 

Mughal History

आपको बता दें कि मुगल साम्राज्य की सबसे महंगी शादी करवाने का श्रेय शाहजहां को जाता है क्योंकि उन्होंने अपने बेटे शिकोह के शाही निकाह पर सबसे ज्यादा पैसे खर्च किए थे। किताब के मुताबिक उस समय इस शाही शादी में लाखों रुपए खर्च हुए थे। इस शादी का आयोजन आगरा में किया गया था, जिसमें आम से लेकर खास लोगों को दावत दी गई थी। (मुगल साम्राज्य का बादशाह गंगाजल को मानता था मिनरल वाटर

8 दिन तक जश्न का सिलसिला चला 

Mughal wedding in hindi

इस भव्य निकाह का आयोजन लगभग 1633 में किया गया था क्योंकि नादिरा बानो और दारा शिकोह एक दूसरे बहुत प्यार करते थे और दारा शिकोह शाहजहां का सबसे खास बेटा था। शाहजहां ने इस शादी को करवाने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी। उन्होंने इस शादी में न सिर्फ शाही पकवान बनवाए थे बल्कि शिकोह और नादिरा का लिबास भी शाही और महंगा रखा था। साथ ही, इस शादी का जश्न पूरे  8 दिन तक चला था। (शाहजहां की बेगमों के बारे में कितना जानते हैं आप)

इसे ज़रूर पढ़ें- मुगल साम्राज्य की इन शक्तिशाली महिलाओं के बारे में कितना जानते हैं आप? 

नादिरा बानो और दारा शिकोह की प्रेम कहानी

कहा जाता है कि शिकोह नादिरा बेगम से बहुत प्यार करता था और अपनी जान नादिरा बेगम पर लुटता था। कहा जाता है कि नादिरा बेगम बहुत खूबसूरत थीं और शिकोह के प्रति काफी वफादार थीं। कई इतिहासकारों का मानना है कि नादिरा खूबसूरती में मुमताज से कम नहीं थीं। शादी के बाद शिकोह अपनी पत्नी नादिरा से तमाम सलाह लेते थे। शादी के बाद शाहजहां ने तख्त पर बैठा दिया था। इस दौरान उनके तीन बच्चे भी हुए थे।

उम्मीद है यह जानकारी पसंद आई होगी। आपको लेख पसंद आया हो तो इसे शेयर और लाइक ज़रूर करें, साथ ही, ऐसी अन्य जानकारी पाने के लिए जुड़े रहें हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- (@Freepik) 

 

 

बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

Her Zindagi
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।