शादी होने के बाद महिलाओं की जिम्मेदारियां काफी ज्यादा बढ़ जाती हैं। आमतौर पर महिलाएं घर-गृहस्थी और तमाम तरह की छोटी-बड़ी जरूरतों में इतनी ज्यादा उलझ जाती हैं कि पति की जरूरतों पर बहुत ध्यान नहीं दे पातीं। लेकिन इस बारे में महिलाओं को ध्यान देने की जरूरत है, क्योंकि पुरुष खुलकर अपनी बातें नहीं कहते। पति कई बार पत्नी से छोटी-छोटी चीजों की अपेक्षा करते हैं और अगर उनकी उपेक्षा होती है तो वे खामोशी से उसे सह लेते हैं। महिलाएं जितनी आसानी से अपनी बातें कह देती हैं, उस तरह से पुरुष खुद को एक्सप्रेस नहीं कर पाते। जब पुरुष खुद को बिल्कुल भी एक्सप्रेस ना करें तो उन्हें समझना लगभग नामुमकिन हो जाता है। इसीलिए महिलाओं को अपना रिश्ता मजबूत करने के लिए यह समझना बहुत जरूरी है कि उनके पति की जरूरत क्या है और क्या वे डिजर्व करते हैं। आइए जानते हैं ऐसी कुछ चीजों के बारे में, जिनकी अपेक्षा पुरुषों को होती है-

सम्मान है सबसे ऊपर

how to make relationship strong inside

पति चाहते हैं कि पत्नी उनका और उनके काम का सम्मान करे। मुमकिन है कि वे अपने काम में बहुत ज्यादा अच्छे ना हों, लेकिन उन्हें सम्मान मिलना ही चाहिए। रिलेशनशिप को मजबूत बनाए रखने के लिए यह काफी जरूरी हो जाता है। अगर किन्हीं वजहों से महिलाएं अपने पति को और उनके काम को महत्व नहीं देतीं, तो इससे उनके बीच दूरियां बढ़ जाती हैं और कई बार इससे रिश्ते बोझिल भी हो जाते हैं। 

इसे जरूर पढ़ें: रिलेशनशिप में ऐसा व्यवहार बर्दाश्त ना करें

वो हैं आपके हीरो

husband wife relationship inside

पुरुष चाहते हैं कि आप उनकी छोटी-छोटी चीजों की सराहना करें और उन्हें प्रोत्साहित करें। उन्हें अच्छा लगता है जब उनकी पत्नी उनके काम की तारीफ करती है या उनके लिए किसी निर्णय को सही बताती है। घर-परिवार में जब महिलाएं अपने पति की प्रशंसा करती हैं या उन्हें सपोर्ट करती हैं तो यह चीज भी पति को काफी ज्यादा पसंद आती है। इन छोटी चीजों के मायने बहुत बड़े होते हैं। इससे पति-पत्नी के बीच संबंध मधुर बनते हैं और छोटी-मोटी बात पर तनाव नहीं होता। 

इसे जरूर पढ़ें: पति तनाव और डिप्रेशन में हैं तो इन बातों का खयाल रखने से मजबूत रहेगी रिलेशनशिप

इमोशन्स की कद्र

love relationship emotional need inside

महिलाओं के लिए घर-परिवार की जिम्मेदारियां उठाना और किचन में खाना मैनेज करना आसान नहीं होता क्योंकि इसमें काफी ज्यादा ऊर्जा लग जाती है। लेकिन पुरुष को इसके साथ-साथ भावनात्मक सपोर्ट भी चाहिए होता है। वे चाहते हैं कि आप उनकी फीलिंग को समझें। अगर वे किसी बात से परेशान हैं तो उनके पास बैठकर धैर्य के साथ उनसे बात करें, उनकी चिंताओं को समझें। अगर वे कुछ ना भी कह रहे हों तो भी आप उनके भाव को समझें। अगर वे कभी आपकी सुरक्षा की खातिर आपके लिए चिंतित हों तो उन पर गुस्सा करने के बजाय उनके मनोभाव को समझें और शांति के साथ अपना पक्ष रखें। 

पति चाहते हैं आपका साथ

पति जिंदगी के हर मोड़ पर अपनी पत्नी को साथ खड़ा देखना चाहते हैं। वे चाहते हैं कि पत्नी उनके लिए ईमानदार रहे और उन पर भरोसा रखे। जीवन के उतार-चढ़ावों, फाइनेंशियल प्रॉब्लम्स और घर-परिवार के विवादों के बीच अगर महिलाएं अपने पति का साथ निभाती हैं तो उनका रिश्ता और भी ज्यादा मजबूत होता है। इन चीजों से पति का अपनी पत्नी पर विश्वास और भी ज्यादा बढ़ जाता है। 

पति चाहते हैं शेयरिंग

what men expect from their wife inside

महिलाएं अक्सर घर की तमाम छोटी-बड़ी चीजों को लेकर फिक्रमंद रहती हैं और अनुशासन बनाए रखती हैं। लेकिन इस बात का ध्यान रखने की जरूरत है कि पति को इतना कंफर्टेबल फील कराया जाए कि वह अपने दिल की बात शेयर कर सकें और उन्हें यह डर ना लगे कि पत्नी उनके बारे में कुछ गलत ना सोच ले। वे चाहते हैं कि पत्नी उनकी कही बातों पर उन्हें जज ना करें। 

पत्नी के साथ बिताना चाहते हैं खुशनुमा पल

पति हमेशा बहुत गंभीर नहीं रहना चाहते। वे भी रिलैक्स करना चाहते हैं और मजेदार तरीके से वक्त बिताना चाहते हैं। जिस तरह वह अपने दोस्तों के साथ हंसी-मजाक करते हैं, उसी तरह वह पत्नी के साथ भी कभी मस्ती में डूब जाना चाहते हैं। ऐसे में महिलाओं को इस बात पर ध्यान देने की जरूरत है कि घर का माहौल मस्ती भरा हो। कभी डांस हो, गाना-बजाना हो या फिर किसी बात पर खुलकर हंसा जाए। 

गुस्से में कही बातों को दिल से ना लगाएं

relationship tips women needs to understand mens need inside

महिलाओं की तुलना में पुरुष शांत रहते हैं, लेकिन जब उन्हें गुस्सा आता है तो उन्हें संभालना मुश्किल हो जाता है। वे गुस्से में बहुत कड़वा भी बोल देते हैं। चूंकि महिलाएं काफी ज्यादा इमोशनल होती हैं, इसी वजह से वे पति की गुस्से में कही बातों को दिल से लगा लेती हैं और इस बात पर लंबे वक्त तक पति-पत्नी के बीच तनाव बना रहता है। महिलाओं को यह ध्यान में रखने की जरूरत है कि इंसान हमेशा एक ही तरह से नहीं रहता, अगर पति ने कभी गुस्सा कर दिया तो इसका मतलब ये नहीं कि वे हमेशा ही गुस्से के मूड में हैं या फिर वे अपनी पत्नी के लिए कुछ बुरा सोचते हैं। सामान्य स्थितियों में पति का बिहेवियर किस तरह का रहता है, इस बात को महिलाओं को हमेशा ध्यान में रखना चाहिए और गुस्से में आकर अचानक कोई बड़ा फैसला नहीं लेना चाहिए।