हेल्‍दी रहने के लिए डाइट में पोषक तत्‍वों का होना बहुत जरूरी होता है। एक हेल्‍दी डाइट में कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, फैट, विटामिन्‍स और मिनल्‍स सही मात्रा में होने चाहिए। रेगुलर एक्‍सरसाइज के साथ यह सभी चीजें हमारे दिल और शरीर को हेल्‍दी रखती हैं। ऐसी धारणा है कि एक्‍सट्रा विटामिन्‍स और मिनल्‍स हार्ट को हेल्‍दी रख सकते हैं। हालांकि इस तथ्य का कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है। हार्ट को दुरुस्‍त रखने के लिए अपनी डाइट में विटामिन्‍स और मिनरल्‍स के सप्‍लीमेंट लेना चाहिए या नहीं। इस बारे में हमें मुंबई एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट, वरिष्ठ हृदय रोग एक्‍सपर्ट के डॉक्‍टर संतोष कुमार डोरा जी बता रहे हैं।  

डॉक्‍टर संतोष कुमार डोरा के अनुसार, ''कई नैदानिक अध्ययनों से पता चला है कि एक्‍स्‍ट्रा विटामिन्‍स और मिनरल्‍स सप्‍लीमेंट का हार्ट रोग की प्राथमिक और माध्यमिक रोकथाम पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। फिजिकल हेल्‍थ स्‍टडी और वुमेन हेल्‍थ स्‍टडी के अनुसार, विटामिन-ए सप्‍लीमेंट का हार्ट पर कोई असर नहीं पड़ता है। साथ ही विटामिन ई सप्‍लीमेंट भी हार्ट रोग के लिए फायदेमंद नहीं है। फिजिकल हेल्‍थ स्‍टडी  II और कई अन्य छोटे परीक्षणों पर एक मेटाएनालिसिस से पता चलता है कि विटामिन-सी सप्‍लीमेंट ने हार्ट संबंधी समस्‍याओं को कम नहीं किया। विटामिन-सी युक्त मल्टीविटामिन कैप्सूल, विटामिन ई, विटामिन ए और मिनरल्‍स जैसे सेलेनियम, जिंक भी हार्ट संबंधी समस्‍याओं पर कोई महत्वपूर्ण प्रभाव नहीं दिखाते हैं। इस तरह आप कह सकती हैं कि पौष्टिक आहार की तुलना में मल्टीविटामिन का नियमित सेवन हृदय की रुग्णता और मृत्यु दर के संदर्भ में कोई अतिरिक्त लाभ नहीं देता है। विटामिन्‍स केवल तभी डाइट में शामिल करने चाहिए जब वह शरीर में कम पाए जाते हैं।'' 

heart health graphic

उनकी बात से यह तो साबित हो गया है कि हमें हार्ट को दुरुस्‍त रखने के लिए विटामिन्‍स और मिनरल्‍स के सप्‍लीमेंट नहीं लेनेे चाहिए। लेकिन डाइट में किन पोषक तत्‍वों को शामिल कर हम अपने हार्ट हेल्‍थ को दुरुस्‍त रख सकते हैं, आइए जानें।

इसे जरूर पढ़ें: हार्ट को हेल्‍दी रखने के लिए महिलाएं ये 5 स्‍मार्ट टिप्‍स अपनाएं

ओमेगा -3 फैटी एसिड

omega  fatty acid inside

ओमेगा-3 फैटी एसिड दिल को सही तरीके से काम करने में सपोर्ट करता है। ओमेगा-3 फैटी एसिड पॉलीअनसेचुरेटेड फैट का एक प्रकार है जो आपके हार्ट को हेल्‍दी रखने में मदद कर सकता है, खासकर अगर आपको हार्ट डिजीज है। ओमेगा -3 फैटी एसिड के तीन मुख्य प्रकार हैं: ईकोसैपेंटेनोइक एसिड (ईपीए) और डोकोसाहेक्सैनोइक एसिड (डीएचए), जो मछली में पाए जाते हैं, जिनमें सलमोन, मैकेरल और अल्बाकोर ट्यूना शामिल हैं। इसके अलावा तीसरा अल्फा-लिनोलेनिक एसिड (एएलए) है जो कुछ पौधों और प्लांट ऑयल जैसे अलसी और कैनोला में पाया जाता है।

विटामिन डी

अधिक से अधिक स्‍टडी इस तथ्य की ओर इशारा करती हैं कि विटामिन डी की कमी किसी भी जोखिम में डाल सकती है। विटामिन डी वास्तव में शरीर द्वारा उत्पादित किया जाता है और जब आप सूरज की रोशनी में ज्‍यादा बाहर होते हैं तो यह ब्‍लड प्रेशर को विनियमित करने में मदद करता है। जी हां विटामिन डी ब्‍लड प्रेशर को नियंत्रित करने और हार्ट हेल्‍थ को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है। कुछ देर धूप में बैठने से आप इसकी कमी को पूरा कर सकती हैं। इसके अलावा अपनी डाइट में मछली और दूध को भी शामिल करें।

मैगनीशियम

diet inside

मैग्नीशियम नेचुरली डार्क ग्रीन वेजिटेबल, नट्स और साबुत अनाज में पाया जाने वाला मिनरल है। मैग्नीशियम की कमी को कुछ अध्ययनों ने हाई ब्‍लड प्रेशर से जुड़ा हुआ पाया है। मैग्नीशियम की कमी को पूरा करने के लिए अपनी डाइट में पालक, सोयाबीन, एवोकाडो और डार्क चॉकलेट को शमिल करें।

Recommended Video

फोलिक एसिड

folic acid inside

फोलिक एसिड को अक्सर विटामिन बी 9 के रूप में भी जाना जाता है, हार्ट हेल्‍थ के लिए यह कई संभावित विटामिन्‍स में से एक है। यह विटामिन होमोसिस्टीन की मात्रा को नियंत्रित करने में मदद करता है, एक ऐसा अमीनो एसिड जो ब्‍लड क्‍लॉट्स के संभावित जोखिम से जुड़ा है और ब्‍लडस्‍टीम में पाया जाता है। विटामिन बी 9 से भरपूर प्राकृति स्रोतों में ब्रोकली, दाल, ब्रसेल्स स्प्राउट्स और शतावरी शामिल हैं।

इसे जरूर पढ़ें: दिल रहेगा लंबे समय तक हेल्‍दी अगर आप लेंगी ये स्‍पेशल डाइट

पोटेेशियम

पोटेशियम लंबे समय तक ब्‍लड प्रेशर को नियंत्रित करने के लिए जाना जाता है। फलों और सब्जियों से समृद्ध फूड्स आपको पोटेशियम की अनुशंसित दैनिक मूल्य तक पहुंचने में मदद करतेे हैंं, जो कि इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिसिन में फूड और न्यूट्रिशन बोर्ड के अनुसार, 4,700 मिलीग्राम पोटेशियम है। केले को पोटेशियम से भरपूर माना जाता है। इसके अलावा आलू में भी पोटेशियम भरपूर मात्रा में होता है। 

इन विटामिन्‍स और मिनरल्‍स से भरपूर फूड्स को अपनी डाइट में शामिल करके आप अपने हार्ट को हेल्‍दी रख सकती हैं। हेल्‍थ से जुड़ी और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Freepik.com