महिलाओं में सबसे ज्यादा ब्रेस्‍ट कैंसर पाया जाता है। इसलिए महिलाओं में इसके प्रति जागरूक होना बेहद जरूरी है। इसलिए हर साल अक्टूबर का महीना ब्रेस्‍ट कैंसर जागरूकता माह के रूप में मनाया जाता है ताकि पूरे महीने के दौरान महिलाओं को इस गंभीर बीमारी के कारण और बचाव के प्रति जागरूक कराया जा सकें।

चूंकि यह महीना ब्रेस्‍ट कैंसर जागरूकता माह के रूप में मनाया जाता है, इसलिए हमने भी महिलाओं को जागरूक करने के लिए एक कदम उठाया और ब्रेस्‍ट कैंसर से बचाव के प्राकृतिक तरीकों का पता लगाने के लिए एक एक्‍सपर्ट से बात की।

जी हां, जब भी कभी हम महिलाओं की सेहत संबंधी समस्याओं पर बात करते हैं, तो उसमें सबसे पहले बात ब्रेस्‍ट कैंसर की ही होती है। यद्यपि हम जानते हैं कि चिकित्सा विज्ञान इसके मूल कारण से लड़ने के लिए बेहतर तरीकों की खोज कर रहा है, फिर भी हमें इसका कोई स्थायी समाधान नहीं मिला है। 

हालांकि, इसके लिए आपकी लाइफस्‍टाइल, फैमिली और मेडिकल हिस्‍ट्री और डाइट बहुत मैटर करती है। लेकिन कुछ प्राकृतिक तरीके हैं जिनके माध्यम से आप ब्रेस्‍ट कैंसर जैसी बीमारियों को खुद से कुछ हद तक दूर रखने के लिए एक पहला कदम उठा सकती हैं। इस बारे में हमने दिल्‍ली स्थित एक कंपनी के फाउंडर ज़ायरोपैथी, श्री कामायनी नरेश से बात की। तब उन्‍होंने इस घातक बीमारी से बचाव कराने वाली कुछ हर्बल चीजों के बारे में बताया।

एक्‍सपर्ट की राय

breast cancer awareness month inside

श्री कामायनी नरेश जी का कहना है कि ''मानव जाति के इतिहास के पिछले पांच वर्षों में, मृत्यु दर बाद में 90% तक बढ़ गई है, जिसमें जीवित रहने की अवधि 10 वर्ष से अधिक नहीं है। बिना किसी इलाज के सबसे घातक बीमारियों में से एक होने के नाते ब्रेस्‍ट कैंसर वृद्धि दर लगातार बढ़ रही है। आधुनिक चिकित्सा पद्धति में कैंसर का मौजूदा इलाज सर्जरी, कीमोथेरेपी और बर्न रेडिएशन है। ये केवल रोगसूचक उपचार हैं, जो शरीर में कैंसर सेल्‍स को कम करने में मदद करते हैं लेकिन इससे ज्‍यादा नॉन-कैंसरस सेल्‍स को नुकसान पहुंचाते हैं। इसके अलावा इस तरह के उपचार से रोगी की शारीरिक, मानसिक और शारीरिक स्थिति समय के साथ-साथ बिगड़ती चली जाती है।'' 

इसे जरूर पढ़ें: ब्रेस्ट कैंसर से बचने के लिए आज से ही घर पर करें breast self examination 

लेकिन आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है क्‍योंकि फूड और नेचुरल चीजों के कॉम्बिनेशन का उपयोग करके ब्रेस्‍ट कैंसर को होने से कुछ हद तक रोका जा सकता है। नेचुरल सिस्‍टम के माध्यम से उपचार गैर-आक्रामक है, इसका कोई साइड इफेक्‍ट्स नहीं है और इसे किसी अन्य दवाओं के साथ लिया जा सकता है और इसीलिए श्री कामायनी नरेश ने ब्रेस्‍ट कैंसर को ठीक करने के लिए कुछ नेचुरल तरीके बताएं।

  • कैंसर के विकास की दर को कम करने में हेल्‍प करने के लिए शरीर के अम्लीय वातावरण को क्षारीय में बदलें। 
  • कैंसर सेल्‍स को मारने के लिए इम्‍यूनिटी को बढ़ाना बेहद जरूरी होता है। 
  • सभी सेल्‍स को अधिकतम एनर्जी प्रदान करने के लिए सही पोषण प्रदान करें जोकि कैंसर सेल्‍स को खत्म करने के लिए इम्‍यूनिटी द्वारा उपयोग किया जाता है और शरीर को ताकत भी प्रदान करता है।
  • नेचुरल हर्ब्‍स जो कैंसर को रोक सकते हैं।

इम्‍यूनिटी बूस्‍टर है आंवला

amla for breast cancer inside

आंवला का सेवन इम्‍यूनिटी को मजबूत बनानेमें मदद करता है। इसके अलावा, आंवला के अर्क हेल्‍दी सेल्‍स को नुकसान पहुंचाए बिना कैंसर सेल्‍स की वृद्धि को मारने और रोकने में मदद करता है। विटामिन सी का सबसे अच्‍छा स्रोत और इसमें क्वेरसेटिन, गैलिक एसिड, टैनिन, फ्लेवोनोइड्स, पेक्टिन और विभिन्न पॉलीफेनोलिक तत्‍व शामिल हैं जो इसे कायाकल्प का राजा बनाते हैं।

अदरक है हेल्‍दी 

अदरक आपके खाने और चाय का स्‍वाद बढ़ाने के साथ-साथ आपको हेल्‍दी रखने में भी मददगार होता है बल्कि आपको बीमारियों से भी बचाता है। पेट दर्द से लेकर उल्‍टी जैसी समस्‍या से बचाने तक अदरक कई तरह की बीमारियों से बचाव करती है। लेकिन क्‍या आप जानती हैं कि इसके सेवन से आप खतरनाक बीमारी कैंसर को कुछ हद तक रोकने में भी सफल हो सकती है। इसमें शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण हैं, जिनमें से कुछ कैंसर को कुछ हद तक रोकने में मददगार हैं।

 

हल्दी है सबसे अच्‍छा हर्ब 

turmeric for breast cancer inside

हल्दी सबसे अच्‍छेे हर्ब्‍स में से एक है जिसे एंटी-कैंसर गुणों के लिए जाना जाता है। इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीसेप्टिक और एनाल्जेसिक गुणों के लिए जिम्मेदार होता है।

इसे जरूर पढ़ें:ब्रेस्‍ट को लंबे समय तक शेप में रखने के लिए ये 5 नेचुरल तरीके अपनाएं

वीट ग्रास भी है मददगार 

इसके अलावा, स्‍वामी परमानंद प्राकृतिक चिकित्‍सालय (एसपीपीसी) योग एवं अनुसंधान केंद्र की मेडिकल ऑफिसर डॉक्‍टर दिव्‍या शरद ने भी हमें ऐसे एक हर्ब्‍स के बारे में बताया है। वीट ग्रास भी ब्रेस्‍ट कैंसर से बचाव में कुछ हद तक आपकी मदद करता है।

वीट ग्रास में विटामिन बी-17 या लेट्रियल और सेलेनियम होते हैं। ये दोनों ही शक्तिशाली एंटी-कैंसर्स हैंं। क्लोरोफिल और सेलेनियम बॉडी की इम्‍यूनिटी को मजबूत बनाते हैं। साथ ही वीट ग्रास में भरपूर मात्रा में क्लोरोफिल होता है, जो बॉडी को ऑक्सीजन से भरपूर करता है। इसके अलावा यह बॉडी में हीमोग्लोबिन का निर्माण करता है, जिससे कैंसर सेल्‍स को ज्यादा ऑक्सीजन मिलती है और ऑक्सीजन की उपस्थिति में कैंसर पनपता नहीं है। 

आप भी ब्रेस्‍ट कैंसर से कुछ हद तक बचने के लिए रोजाना इन नेचुरल चीजों को अपनी डाइट में शामिल कर सकती हैं। लेकिन हर बार की तरह हम आपको यही कहेंगेे कि हर किसी की बॉडी के लिए हर नेचुरल चीज अलग तरह से प्रतिक्रिया करती हैंं। इसलिए इसे लेने से पहले एक बार डॉक्‍टर से सलाह जरूर कर लें। अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो फेसबुक पर कमेंट करके जरूर बताएं। ऐसी और आर्टिकल पढ़ने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Freepik.com