• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

अचानक कम होने लगा है आपका वजन, इसके हो सकते हैं यह कारण

अगर आपका वजन एकदम से कम होने लगा है, तो इसके पीछे कई कारण जिम्मेदार हो सकते हैं। जानिए इस लेख में।
author-profile
  • Mitali Jain
  • Editorial
Published -20 Jun 2022, 16:28 ISTUpdated -25 Jun 2022, 10:50 IST
Next
Article
weight loss  problem

आज के समय में अधिकतर लोग अपने बढ़ते वजन से परेशान रहते हैं और इसलिए वह वजन घटाने की जद्दोजहद में जुटे रहते हैं। लेकिन अगर बिना कुछ किए ही आपका वजन कम होने लग जाए तो शायद आप खुश हो जाएं। हालांकि, आपको खुश होने की नहीं, बल्कि सतर्क होने की आवश्यकता होती है। दरअसल, बिना किसी वजह के लगातार वजन गिरना किसी गंभीर बीमारी के संकेत हो सकते हैं।

health expert quote

यहां आपको यह भी ध्यान देना आवश्यक होता है कि वास्तव में आपका कितना वजन गिरने लगा है। मसलन, अगर एक महीने से आपका पांच से दस प्रतिशत वजन घट गया है, तो यह यकीनन चिंता का विषय है। वहीं, अगर आपका वजन दस प्रतिशत से भी ज्यादा घट गया है तो आपको अपनी हेल्थ को लेकर बिल्कुल भी लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए और तुरंत अपनी जांच करवानी चाहिए। तो चलिए आज इस लेख में सेंट्रल गवर्नमेंट हॉस्पिटल के ईएसआईसी अस्पताल की डायटीशियन रितु पुरी आपको कुछ ऐसे कारणों के बारे में बता रही हैं, जो अचानक तेजी से वजन कम होने की वजह बन सकते हैं- 

कैंसर

cancer

आज के समय में कैंसर लाइलाज बीमारी नहीं है, बस जरूरी होता है कि समय रहते इसके लक्षणों की पहचान कर ली जाए। इन्हीं लक्षणों में से एक है वजन कम होना। जब किसी व्यक्ति को कैंसर होता है, तो उसका वजन बहुत तेजी से कम होने लगता है। ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि जब बॉडी कैंसर(कैंसर के लक्षण) से जूझ रही होती है तो शरीर के पौष्टिक तत्व व इम्युनिटी इंफेक्शन से लड़ने लगते हैं और ऐसे में व्यक्ति का वजन गिरना शुरू हो जाता है।

इसे जरूर पढ़ें- Breast Cancer Awareness Month: ब्रेस्‍ट कैंसर से कुछ हद तक बचाव कर सकते हैं ये नेचुरल टिप्‍स

डायबिटीज

diabetes

मधुमेह की समस्या होने पर भी वजन कम होना आम है। जब शरीर में शुगर लेवल आवश्यकता से अधिक बढ़ने लगता है तो इसका असर वजन पर पड़ता है। इसमें पहले व्यक्ति का वजन बढ़ता है और वह मोटा होता चला जाता है। इसके बाद, जब एक लेवल के बाद शुगर बढ़ती है तो फिर वजन गिरना शुरू हो जाता है। ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि शुगर केवल ब्लड में ही रह जाती है और वह सेल्स तक नहीं पहुंच पाती है। जिससे सेल्स को एनर्जी नहीं मिल पाती है और फिर आप धीरे-धीरे शरीर की एनर्जी लूज करते चले जाते हैं। जिससे आप कमजोर होते जाते हैं और आप पतले होते चले जाते हैं।  

Recommended Video

हाइपरथॉयराइड

thyroid

अगर किसी व्यक्ति को हाइपर थॉयराइड की समस्या है तो उसमें भी व्यक्ति का वजन गिरना शुरू हो जाता है। ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि आपके थॉयराइड ग्लैंड सही तरह से काम नहीं कर पाते हैं, जिसके कारण आपका मेटाबॉलिज्म इफेक्ट होता है। साथ ही, यह आपके पाचन तंत्र पर भी अपना प्रभाव डालता है। जिसके कारण आपका वजन कम होने लग जाता है।

वाटर लॉस होना

कई बार बॉडी से बहुत अधिक वाटर लॉस होता है, तो भी व्यक्ति का वजन तेजी से कम होने लगता है। जब आप बहुत अधिक पोटेशियम रिच डाइटलेते हैं या फिर बहुत अधिक डिटॉक्स वाटर, जूस व फल लेते हैं और नमक बहुत कम लेते हैं, तो इससे बॉडी डिहाइड्रेट हो जाती है। इसके अलावा, बहुत अधिक पसीना, पेशाब आदि होने से भी बॉडी से वाटर लॉस होता है और व्यक्ति का वजन गिरने लग जाता है। हालांकि, यहां आपको यह ध्यान रखना चाहिए कि यह हेल्दी वेट लॉस नहीं है और इसलिए आपको तुरंत डायटीशियन से मिलकर अपनी डाइट पर काम करना शुरू कर देना चाहिए।

इसे जरूर पढ़ें- ऐसे करें डिहाइड्रेशन टेस्ट और जानें शरीर को कितने पानी की है जरूरत


अब अगर आपका भी वजन लगातार गिर रहा है तो आपको इसे बिल्कुल भी हल्के में नहीं लेना चाहिए और तुरंत चेकअप करवाना चाहिए। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकीअपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।  

Image Credit- freepik

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।