Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    Expert Diet Tips: थायरॉइड बढ़ाती है ये 3 चीजें, करें परहेज नहीं तो होगा नुकसान

    कुछ चीजें अपनी डाइट में लेने से थायरॉइड की समस्‍या बढ़ती है। आइए ऐसी ही 3 चीजों के बारे में एक्‍सपर्ट से जानें। 
    author-profile
    Updated at - 2020-07-11,13:04 IST
    Next
    Article
    thyroid treatment

    बदलती लाइफस्‍टाइल और खान-पान की गलत आदतों के चलते थायरॉइड एक आम समस्‍या बन गई है। थायरॉइड को साइलेंट किलर के नाम से भी जाना जाता हैं क्योंकि इस समस्या के लक्षण शुरुआत में दिखाई ही नहीं देते है। थायरॉइड ग्लैंड में हार्मोन का बैलेंस बिगड़ने के कारण यह समस्या होती है। थायरॉइड की समस्या पुरषो के मुकाबले महिलाओं में ज्‍यादा पाई जाती है। यह बीमारी थायरॉइड नाम के ग्‍लैंड में होती है। यह ग्‍लैंड थायरोक्सिन नामक हार्मोन पैदा करता हैं, जो मेटाबॉलिज्म को नार्मल बनाए रखने के लिए जरूरी है। लेकिन अगर यह हार्मोन जरूरत से ज्यादा बनने लगता है तो हमारा वजन घटने लगता है और अगर यह हार्मोन कम बनने लगता है तो हमारा वजन बढ़ने लग जाता है। इसीलिए इस हार्मोन का सीमित बना रहना बेहद जरूरी है। आज हम आपको इस आर्टिकल में उन खाने की कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताएंगे जो थायरॉइड की समस्‍या को ज्‍यादा खराब करने का कारण मानी जाती है। क्‍या सच में यह फूड थायरॉइड के लिए अच्‍छे नहीं इस बारे में पूरी जानकारी लेने के लिए हमने शालीमार स्थित फोर्टिस हॉस्पिटल की डाइटिशियन सिमरन सैनी से बात की। तब उन्‍होंने हमें इसके बारे में विस्‍तार में बताया। 

    इसे जरूर पढ़ें: पुरुषों के मुकाबले महिलाओं को थायरॉयड होने का खतरा है ज्‍यादा, आज ही कराएं टेस्‍ट

    एक्‍सपर्ट की राय 

    thyroid problem diet

    सिमरन सैनी का कहना है कि ''कुछ चीजें थायरॉइड की समस्‍या को बढ़ाते हैं। इसमें फूलगोभी, ब्रोकली और सोयाबीन जैसे फूड्स शामिल हैंं। ऐसा इसलिए क्‍योंकि इनमें गॉइट्रोगन नामक तत्‍व पाया जाता है जो थायरॉइड ग्‍लैंड के काम को परेशान करता है। जिसके कारण इनसे बचा जाना बेहद जरूरी होता है। साथ ही बहुत ज्‍यादा नमक थायरोनोर्म और कैल्‍सीटोनिन (thyronorm and calcitonin) जैसे हार्मोन की नॉर्मल रिलीज में परेशानी पैदा करता है। इसलिए डाइट में बहुत अधिक नमक खाने से भी बचना चाहिए। थायरॉइड में सोयाबीन समस्या को ज्‍यादा बढ़ा देता है इसलिए सोया फूड और ऑयल का सेवन करने से बचना चाहिए।'' आइए इन फूड्स के बारे में विस्‍तार से जानकारी लेते हैं।

    पत्ता या फूलगोभी

    cauliflower bad for thyroid

    इन दोनों तरह की गोभी के अंदर गॉइट्रोगन (guitornoids) नामक तत्‍व बहुत अधिक मात्रा में पाया जाता है जैसा कि आपको सिमरन सैनी जी बता चुकी है। यह थायरॉइड की समस्‍या को बढ़ाते है। इसलिए अगर आपको लगता है कि आपको यह रोग है तो आप बिल्कुल भी गोभी का सेवन ना करें।

    Recommended Video

    सोयाबीन

    soyabean bad for thyroid

    सोयाबीन का इस्‍तेमाल ज्‍यादातर लोग सब्जी के रूप में करते हैं। लेकिन इसका तेल भी मिलता है जिसे हम बड़े चाव से खाते हैं। लेकिन क्या आपको इस बात की जानकारी है कि सोयाबीन में भी गॉइट्रोगन पाया जाता हैं, जो थायरॉइड रोग के लिए जिम्मेदार होता है। इसीलिए अगर आप सोयाबीन खाती हैं तो आपके शरीर में थायरोक्सिन बढ़ या कम हो जाता है। थायरोक्सिन के बढ़ने या कम होने से थायरॉइड की बीमारी होने लगती है। जो हमारी बॉडी के लिए बिल्कुल भी सही नहीं है। इसीलिए सोयाबीन का इस्‍तेमाल इस बीमारी में नहीं करना चाहिए।

    इसे जरूर पढ़ें: थायरॉयड की समस्‍या हमेशा के लिए हो जाएगी दूर, बस सुबह उठते ही करें ये काम

    नमक

    salt bad for thyroid

    शायद आपको इस बात की जानकारी होगी कि थायरॉइड ग्लैंड नमक का इस्तेमाल करके ही थायरोक्सिन हार्मोन बनाता है। इसीलिए जब भी हमारी बॉडी में आयोडीन की कमी होती है तो थायरॉइड ग्लैंड बढ़ने लगता है। इसीलिए आयोडीन नमक पर्याप्त मात्रा में खाने की सलाह दी जाती है। अगर आप सीमित मात्रा में आयोडीन का सेवन करती हैं तो आप थायरॉइड जैसी गंभीर बीमारी से बची रह सकते हैं। इसलिए हेल्‍दी रहने के लिए आयोडीन नमक पर ज्यादा जोर दिया जाता है।

    अगर आप भी थायरॉइड को खराब नहीं करना चाहती हैं तो इन 2 फूड्स को अपनी डाइट से कम कर दें और नमक जिसे हम बंद नहीं कर सकते हैं उसे कम कर दें या सेंधा नमक को अपनी डाइट में शामिल करें।  

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।