आंखों की समस्या को नज़रअंदाज़ करना आपके लिए ख़तरनाक साबित हो सकता है। जिस तरह बच्चों से लेकर बड़ों तक सभी स्क्रीन पर घंटों वक़्त बिताते हैं, इससे ना सिर्फ़ उनकी सेहत पर असर देखने को मिल रहा है बल्कि आंखों की परेशानी भी बढ़ रही है। इन दिनों कंप्यूटर पर लगातार काम करने की वजह से आंखों में तनाव जैसी समस्या अधिक देखने को मिल रही है। आंखों पर जब तनाव पड़ता है तो इससे थकावट महसूस होती है, जिसके बाद जलन, दर्द, रौशनी कम होना जैसी समस्याएं शुरू होने लगती है।

इस बारे में आंखों की स्पेशलिस्ट शिबल भारतीय बताती हैं कि आंख बेहद नाजुक अंग है, ऐसे में इससे जुड़ी परेशानी की कई वजह हो सकती हैं। कई बार लैपटॉप या फिर किसी भी दूसरे तरह के गैजेट्स पर वक़्त बिताने के अलावा अन्य किसी बीमारी की वजह से भी आंखों से जुड़ी परेशानी होने की संभावना होती है। अगर समस्या नॉर्मल नही है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। वहीं कंप्यूटर पर काम करते-करते आंखों में तनाव, थकान या फिर दर्द जैसी समस्या हो रही है तो इन घरेलू तरीक़ों को आज़मा सकती हैं।

आरो पानी से आंखों की करें सिकाई

normal water

अगर आपकी आंख में किरकिरा या हल्का सा दर्द महसूस हो रहा है तो आरो के पानी को गर्म करें और उसमें कॉटन सोक होने के लिए डाल दें। अब इस पानी से कॉटन को निकालें और उससे आंखों की सिकाई करें। आप चाहें तो थोड़ी देर के लिए इसे आंखों के ऊपर भी रख सकती हैं, इससे आपको काफ़ी आराम मिलेगा।

इसे भी पढ़ें: कितना जानते हैं आप पाइन ऑयल के ये हेल्थ बेनिफिट्स के बारे में

ड्राई आईज की प्रॉब्‍लम

dr cout

इन दिनों आंखों पर ज़ोर ना पड़े इसके लिए कंप्यूटर या फिर अन्य गैजेट्स में डार्क मोड की सुविधाए दी गई हैं। वहीं समय-समय पर आंख ब्लिंक नहीं करने पर भी आंख में तनाव और ड्राई होने जैसी समस्याएं होने लगती हैं। इसलिए डॉक्टर कई बार कंप्यूटर पर काम करने वाले लोगों को ब्रेक लेने की सलाह देते हैं। अगर आंख ड्राई हो रही है तो प्रीजरवेटिव फ़्री लुब्रिकेंट आई ड्रॉप का इस्तेमाल कर सकती हैं। आंखों की थकावट दूर और तनाव दूर करने के लिए केमिस्ट पर आसानी से मिल जाएगा और इसे इस्तेमाल किया जा सकता है।

Recommended Video

बर्फ़ से करें आंखों की सिकाई

ice for eye problem

ज़्यादातर लोग आंखों की थकावट को दूर करने के लिए पानी के छपाके आंखों में मारते हैं। हालांकि ऐसा बिल्कुल नहीं करना चाहिए क्योंकि आंखों में पहले से पानी होता है और ऐसा करने से नुक़सान भी हो सकता है। इसके बजाय कॉटन में बर्फ़ रखें और उससे अपनी आंखों के ऊपर और आसपास सिकाई करें। ध्यान रखें कि बर्फ़ सीधा आंखों पर ना करें।

इसे भी पढ़ें: सेहत के कई राज खोलते हैं इन 5 तरह से गैस छोड़ना

20-20-20 का रूल बनाएं

   rule

अगर आप कंप्यूटर पर अक्सर काम करती हैं तो 20 मिनट इस एक्सरसाइज़ को ज़रूर करें। लगातार स्क्रीन पर नज़र गड़ाए रहती हैं तो हर 20 मिनट बाद 20 सेकंड का ब्रेक लें। इसके लिए 20 सेकंड तक अपनी आंखों को बंद रखें और जब खोलें तो 20 फ़ीट दूर किसी चीज़ को देखें। यह एक तरह की एक्सरसाइज़ है जो हैबिट में लाने से आंखें हेल्दी रहेंगीं और थकान या तनाव जैसी समस्या भी नहीं होगी।

हेल्दी आंखों के लिए फ़ॉलो करें ये डाइट

healthy diet for eye

आंखों को हेल्दी रखने के लिए फल और हरी सब्ज़ियों का सेवन करना बहुत ज़रूरी है। हालांकि अगर आपकी आंखों की रौशनी कमज़ोर है, तो डाइट में ओमेगा-3, विटामिन आदि युक्त आहार को शामिल करें। इसके अलावा अगर आपकी आंखों में तनाव की समस्या रहती है तो काम करते वक़्त सनग्लास का उपयोग ज़रूर करें। इससे आंखों की रौशनी कम नहीं होगी और सिरदर्द या फिर थकान जैसी समस्या भी नहीं होगी।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।