सोमवार के दिन लड़कियां अच्‍छा वर पाने के लिए भगवान शिव की पूजा करती हैं। कहा जाता है सोमवार का व्रत रखने से लड़कियां भगवान शंकर की तरह मनचाहा वर पा सकती हैं। जी हां भगवान शंकर को खुश करना बहुत ही आसान है। भगवान शंकर की मन से की गई भक्ति से आप मनचाहा वरदान दिला सकती है। शिवजी के इसी भोले स्‍वभाव के कारण उन्‍हें भोलेनाथ भी कहा जाता है। इसलिए सोमवार की शाम शिव चालीसा का पाठ करना बेहद शुभकारी होता है। कहा जाता है कि शिवजी की आराधना करने वाली महिलाओं को मृत्यु का भय भी नहीं सताता। ऐसा भी कहा जाता है कि भगवान शिव का आशीर्वाद चाहने वाले भक्तों को भक्ति और ईमानदारी के साथ शिव चालीसा का पाठ करना चाहिए। लेकिन क्‍या आप जानती हैं कि शिव चालीसा का पाठ करने से आपकी हेल्‍थ भी अच्‍छी रहती हैं विश्‍वास नहीं हो रहा तो आइए हमारे साथ आप भी जानें कैसे। लेकिन इससे पहले यह जान लेते हैं कि चालीसा का पाठ क्‍या हैं और हमें इसे क्‍यो करना चाहिए।

Read more: अगर रोजाना हनुमान चालीसा का पाठ करेंगी तो तनाव से बचेंगी

shiv chalisa health inside  ()

चालीसा क्‍या है?

हिंदू धर्म में भगवान की सरल भाषा में की जाने वाली प्रार्थना को चालीसा कहा जाता है। चालीसा का पाठ करने से किसी के जीवन में अद्भुत प्रभाव पड़ता है। लेकिन क्‍या आप जानती हैं कि इसे चालीसा क्‍यों कहा जाता है? अगर नहीं? तो हम आपको बताते हैं। इस प्रार्थना को चालीसा इसलिए कहा जाता है क्योंकि इसमें चालीस लाइनें होती हैं। सरल भाषा में होने के कारण इसे आसानी से पढ़ा जा सकता है और आसानी से भगवान को प्रसन्न करने का ये तरीका हिंदू धर्म में बहुत लोकप्रिय माना जाता है।

Read more: महिलाएं भी कर सकती हैं हनुमान जी की पूजा, ध्‍यान रखें ये 4 बातें

और सबसे अच्‍छी बात चालीसा को पढ़ने के लिए किसी खास नियम की आवश्यकता नहीं होती है। सिर्फ श्रद्धा, स्वच्छता का ध्यान रखकर ही चालीसा का पाठ किया जा सकता है। इसलिए मैं भी हर सोमवार को शिव चालीसा का पाठ करती हूं। चालीसा पढ़ने से ना केवल मुझे शारीरिक बल्कि मानसिक तौर पर भी बहुत अच्‍छा लगता है। मानना है कि शिव चलीसा के अत्यधिक समर्पण के साथ नियमित रूप से जाप करने के लिए किसी के जीवन की सभी बाधाओं और समस्याओं को दूर करने की शक्ति होती है। वास्तव में, शिव चालिसा का जाप करना सबसे अच्छा तरीका है जिसके द्वारा आप आसानी से भगवान शिव के आशीर्वाद प्राप्त कर सकती हैं।

shiv chalisa health inside  ()

शिव चालिसा का जाप करने के लाभ

  • ऐसा माना जाता है कि शिव चालीसा का जाप करने से प्रेग्‍नेंट महिलाओं को बहुत फायदा होता है। शिव चालिसा का जाप करने से उनके होने वाले बच्‍चे की रक्षा और साथ ही सेफ डिलीवरी में हेल्‍प मिलती है।
  • स्वास्थ्य समस्याओं से पीड़ित बच्चों को या तो शिव चालीसा पढ़नी चाहिए या सुनना चाहिए। माता-पिता अपने बच्चे की ओर से चालिसा भी पढ़ सकते हैं। हालांकि, उन्हें शिव चालीसा से पहले बच्चे का पूरा नाम, रासी (चंद्रमा चिन्ह), और नक्षत्र का उच्चारण करना चाहिए।
  • शिव चालीसा का नियमित जाप करने से ना केवल लड़कियों को अच्‍छा वर मिलता है बल्कि वैवाहिक समस्याओं और रिश्ते में आने वाली कई तरह की समस्याओं को हल करने में हेल्‍प मिलती है।
  • रेगुलर शिव चालीसा का जाप करने से नशे, शराब, तंबाकू, सिगरेट की लत के साथ ही साथ तनाव से छुटकारा पाने के लिए फायदेमंद है।
  • शिव चालिसा का जाप करने से बीमार महिला बीमारियों से छुटकारा पाने में हेल्‍प मिलती है क्‍योंकि इससे आपका तनाव दूर होता है और आप बीमारी के बारे में बहुत ज्‍यादा नेगेटिव नहीं होती है।
  • समय से पहले और दर्दनाक मौत को रोकता है।

shiv chalisa health inside  ()

इस तरह से शिव चालीसा का जाप आपके लिए बहुत फायदेमंद होता है। निस्संदेह भगवान शिव के आशीर्वाद प्राप्त करने का सबसे आसान तरीका है। इसके अलावा, शिव चालिसा का जाप करना सभी उम्र के पुरुषों और महिलाओं दोनों द्वारा किया जा सकता है। यह छात्रों और बच्चों के लिए भी फायदेमंद है। सबसे अच्छी बात यह है कि इसे करने के लिए आपको तैयारी की आवश्यकता नहीं होती है और केवल आपकी भक्ति और निश्चित रूप से कुछ मिनट की आवश्यकता होती है। हालांकि, भगवान शिव के आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए नियमित रूप से शिव चालीसा का जाप करना चाहिए।