जब से चीन में एक आदमी के मरने का मामला सुर्खियों में आया है, तब से हैशटैग #Hantavirus ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है। ग्लोबल टाइम्स के अनुसार, एक व्यक्ति की वायरस में चपेट में आने के बाद मौत हो गई, जब वह एक चार्टर्ड बस में शेडोंग प्रांत वापस लौट रहा था।

अब, बात यह है कि चूंकि इस खबर में 'वायरस' और 'चाइना' शब्द शामिल हैं, इसलिए लोग इस धारणा पर कायम हैं कि दक्षिण एशियाई देश से एक बिलकुल नया वायरस अस्तित्व में आया है और यह महामारी की तरह पूरी दुनिया पर हमला करेगा, जैसा COVID-19 कर रहा है। इस तरह के नाजुक समय के दौरान ऐसे मामलों के बारे में सही जानकारी होना बेहद जरूरी है। हालांकि Hantavirus एक नया वायरस नहीं है, लेकिन यह कई वर्षों से है। आइए इसके बारे में विस्‍तार से जानें। 

कोरोना वायरस के कहर से जूझ रही दुनिया के सामने एक और नई चुनौती आती दिख रही है। इस बार भी वायरस का केस चीन से सामने आया है। चीन के युन्नान प्रांत में एक व्‍यक्ति की सोमवार को हंता वायरस से मौत हो गई। जैसा कि हमने आपको बताया कि पीड़ित व्‍यक्ति काम करने के लिए बस से शेडोंग प्रांत लौट रहा था। उसे हंता वायरस से पॉजिटिव पाया गया था। चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स में छपी खबर के अनुसार, व्यक्ति की मौत के बाद अब बस में सवार सभी लोगों की भी जांच की गई है। 

इसे जरूर पढ़ें: कोरोना वायरस को रोकने के लिए लोगों से दूरी और आइसोलेशन है बेहद जरूरी 

hantavirus inside

ये जानकारी जब सामने आई, चीन में सोशल मीडिया पर बवाल मच गया। बड़ी संख्‍या में लोग ट्वीट करके यह अपना डर जता रहे हैं कि कहीं कोरोनावायरस की तरह महामारी न बन जाए। लोग ट्वीट करके तरह-तरह के सवाल पूछ रहे हैं। अब दुनिया भर के यूजर्स को इस बात की चिंता है कि कहीं यह कोरोना वायरस की तरह घातक तो नहीं है। 

Recommended Video

क्‍या है Hantavirus

विशेषज्ञों का मानना है कि हंता वायरस कोरोना वायरस की तरह घातक नहीं है। कोरोना के विपरीत यह हवा के रास्‍ते नहीं फैलता है। लेकिन ये वायरस भी जानलेवा है। यह चूहे या गिलहरी के संपर्क में आने वाले इंसानों में फैलता है। सेंटर फॉर डिजिज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के अनुसार, ''चूहों के घर के अंदर और बाहर आने-जाने से हंता वायरस के इंफेक्‍शन का ख़तरा बढ़ जाता है। यहां तक कि अगर कोई हेल्‍दी व्‍यक्ति भी है और वह हंता वायरस के संपर्क में आता है तो उसके एचपीएस संक्रमित होने का खतरा रहता है।''

hantavirus inside

Hantavirus के लक्षण

हालांकि हंता वायरस एक व्‍यक्ति से दूसरे व्‍यक्ति में नहीं जाता है। लेकिन अगर कोई व्‍यक्ति चूहों के मल, यूरीन आदि को छूने के बाद अपनी आंख, नाक और मुंह को छूता है तो उसके हंता वायरस से संक्रमित होने का ख़तरा बढ़ जाता है। वायरस के लक्षणों में बुखार, सिरदर्द, पेट में दर्द, चक्कर आना, ठंड लगना, मसल्‍स में दर्द, मतली, उल्टी, दस्त शामिल हैं। 

इसे जरूर पढ़ें: COVID 19 : हिना खान से जानेंं सेल्‍फ हाइजीनऔर इम्‍यूनिटी बूस्‍ट करने का खास तरीका

इंटरनेट पर कई वीडियो चीन में लोगों को चूहे और चमगादड़ खाते हुए दिखाते हैं - कभी-कभी कच्चे भी - जिससे संभवतः हंतावायरस के कारण व्‍यक्ति के मरने की खबर से लोगों में डर और दहशत फैल गई है। जो लोग वायरस के बारे में सही तथ्यों से अच्छी तरह वाकिफ हैं, वे उन लोगों को शिक्षित करने की कोशिश कर रहे हैं जो इसके बारे में फर्जी खबरें फैला रहे हैं। इंटरनेट पर वायरस के बारे में सभी तरह की जानकारी तक पहुंच के बावजूद, लोग उसी के बारे में ट्विटर पर कहर बरपा रहे हैं।

Image credit: devdiscourse.com & vanguardngr.com