• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile

Health Tips: क्या रमज़ान में फास्ट रखने से पीरियड्स पर पड़ता है कोई असर? जानिए यहां

फास्ट रखने या फिर रोज़ा रखने से महिलाओं के पीरियड्स पर क्या सकारात्मक या फिर नकारात्मक प्रभाव पड़ते हैं? आइए एक्सपर्ट से जानते हैं। 
author-profile
Next
Article
fasting has any effect on menstrual cycles

इन दिनों भारत की लगभग सभी महिलाएं फास्ट रख रही होंगी क्योंकि इस वक्त एक तरफ रमज़ान चल रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ नवरात्रि चल रही हैं। ऐसे में सभी महिलाएं अपने ईश्वर, अल्लाह की इबादत करने में लगी हुई हैं और उनके लिए पूरे दिन भूखा-प्यासा या फिर सादा खाना खा रही हैं। वैसे भी गर्मियों के मौसम में पूरे दिन खुद को भूखा रखना किसी बड़े टास्क से कम नहीं है। 

हालांकि, कई महिलाएं रोज़ा या फिर फास्ट नहीं रखती हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि पूरे दिन भूखे-प्यासे रहना या फिर खाने से परहेज करना आदि से कई शारीरिक समस्याएं पैदा हो सकती हैं जैसे- उनके अंदर खून की कमी हो सकती है, जिससे उनके पीरियड्स प्रभावित हो सकते हैं। लेकिन क्या सच में फास्ट रखने से महिलाओं की माहवारी पर कोई प्रभाव पड़ता है। 

Dr Gulbahar Ansari

इस विषय को लेकर हमने डॉक्टर गुलबहार अंसारी (B.U.M.S) से बात की। उन्होंने हमें विस्तार से बताया कि फास्ट के दौरान पीरियड्स पर क्या सकारात्मक या फिर नकारात्मक प्रभाव पड़ते हैं? आइए जानते हैं इसपर एक्सपर्ट क्या कहते हैं।   

1- क्या फास्ट रखने से पीरियड्स होते हैं प्रभावित?

Menstrual cycles

एक्सपर्ट कहती हैं कि फास्ट रखने से महिलाओं के पीरियड्स पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है क्योंकि रोज़ा रखने का मतलब सिर्फ भूखे-प्यासे रहना नहीं होता बल्कि यह हमारी तमाम बूरी आदतों को या फिर नफ्ज़ को नियंत्रित करने का होता है, जिसके कई हेल्थ बेनिफिट्स हैं। क्योंकि फास्ट के दौरान हमारे शरीर में किसी भी तरह का बैड फैट (शूगर, फास्ट फूड) आदि नहीं जा पाता और इसकी वजह से हमारे शरीर में मौजूद डेड (बैड सेल्स) सेल्स भूख से मर जाते हैं या फिर खुद खत्म हो जाते हैं। 

लेकिन रोज़ा खोलने के बाद हमारा खान-पान या फिर जीवनशैली हमारे पीरियड्स पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकते हैं जैसे- इफ्तारी के दौरान अधिक तला हुआ फूड खाना, ठंडी चीजों का अधिक सेवन करना आदि। (पीरियड्स के दौरान भूल से भी ना करें ये 9 गलतियां) इसलिए हमें फास्ट के दौरान हेल्दी फूड का सेवन करना चाहिए। 

2- क्या और कैसे खाना चाहिए- 

Healthy food

अगर आप चाहती हैं कि रमज़ान में आपके पीरियड्स पर किसी भी तरह का नकारात्मक प्रभाव न पड़े, तो आप अपनी डाइट में हेल्दी फूड और अच्छी लाइफस्टाइल को फॉलो करें। आप इफ्तार में खाने की शुरुआत खजूर से करें और इसके बाद फ्रूट का सेवन करें। इसके बाद आप नॉर्मल पानी पी सकती हैं लेकिन अधिक ठंडा पानी पीने से बचें क्योंकि इससे आपको नुकसान हो सकता है।

इसके बाद, आप एक से दो घंटे का ब्रेक लें और फिर आप खाना (जिसमें आप हेल्दी सब्जी, दाल, रोटी, नॉनवेज शामिल कर सकती हैं) खा सकती हैं। लेकिन आप इफ्तार में एकदम से एक साथ खाने का सेवन नहीं करें क्योंकि इससे आपका पेट खराब हो सकता है। 

3- किन चीजों से परहेज करना चाहिए- 

आजकल लोग इफ्तार में अधिक तली हुई चीजों का सेवन करने लगे हैं जैसे- पकौड़े, फास्ट फूड आदि लेकिन अधिक तला हुआ खाने से आपको कई स्वास्थ्य सबंधी समस्या पैदा हो सकती हैं- जैसे आपका वजन बढ़ सकता है और अधिक वजन के कारण आपके पीरियड्स प्रभावित हो सकते हैं। (इन टिप्स को अपनाकर हैवी पीरियड्स को करें हैंडल)

क्योंकि एक्सपर्ट कहती हैं कि जब महिलाओं का अधिक वजन बढ़ता है, तो उन्हें Pcos की समस्या पैदा हो जाती है। बता दें कि इसे मेटाबॉलिक सिंड्रोम भी कहा जाता है, जिसमें हार्मोन असंतुलित हो जाते हैं और पीरियड्स में दिक्कत आने लग जाती है। इसलिए कोशिश करें कि आप ठंडी चीजों, अधिक तली हुई चीजों से दूरी बनाकर रखें। 

Recommended Video

4- खून की कमी दूर करने के लिए करें ये काम- 

Dates benefits in ramazan

अगर आप चाहती हैं कि आपके अंदर खून की कमी न हो, तो आप नियमित रूप से खजूर का सेवन कर सकती हैं। क्योंकि खजूर न सिर्फ हेल्थ के लिए फायदेमंद है बल्कि यह आपके शरीर में खून बढ़ाने का भी काम करते हैं। डॉक्टर गुलबहार अंसारी कहती हैं कि इसे कई प्रकार के विटामिन्स और मिनरल्स, एनर्जी, शुगर और फाइबर का अच्छा स्रोत माना जाता है।

इसे ज़रूर पढ़ें- खजूर खाने के हैं ये 5 फायदे, आसपास भी नहीं फटकेंगी बीमारियां

इसमें आपको कैल्शियम, आयरन, फास्फोरस, पोटेशियम, जिंक और मैंगनीज भी मिलेंगे। आप इसका सेवन इफ्तार के बाद भी कर सकती हैं। उम्मीद है कि आपको यह जानकारी पसंद आई होगी। अगर आपको लेख अच्छा लगा हो, तो उसे लाइक और शेयर ज़रूर करें। साथ ही, जुड़े रहे हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- (@Freepik) 

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।