जायफल एक ऐसा मसाला है जिसे आम तौर पर रोजमर्रा के खाने में तो इस्तेमाल नहीं किया जाता, लेकिन फिर भी ये भारतीय किचन में आसानी से मिल जाता है। जायफल जिसे अंग्रेजी में Nutmeg कहा जाता है, उसे अक्सर सिर्फ फ्लेवर के लिए ही इस्तेमाल किया जाता है। पर क्या आप जानती हैं कि इसके हेल्थ बेनेफिट्स क्या-क्या हैं? दरअसल, भारतीय किचन में मौजूद लगभग हर मसाले का इस्तेमाल हम किसी न किसी तरह के स्वास्थ्य वर्धक फायदे के लिए कर सकते हैं। वैसे मैं आपको बता दूं कि ये भारतीय मसाला नहीं है। जायफल असल मायने में इंडोनेशियाई मसाला है जो अब पूरी दुनिया में फैल चुका है।

जायफल को तो आप वैसे फ्लेवर के लिए इस्तेमाल कर लेते होंगे, लेकिन अगर मैं आपसे कहूं कि जायफल के तेल के भी बहुत ज्यादा फायदे हैं तो आपका क्या जवाब होगा। जायफल का तेल आम तौर पर घरों में नहीं रखा जाता है, लेकिन इसके फायदे जानने के बाद शायद आप अपने घर में इसे रखना शुरू कर दें।

इसे जरूर पढ़ें- पुराने से पुराने दर्द को जड़ से खत्‍म कर देगी ये 1 रुपए की चीज

1. एंटी ऑक्सिडेंट्स से भरपूर-

कई रिसर्च ये बता चुकी हैं कि जायफल में एंटी ऑक्सिडेंट्स की भरपूर मात्रा होती है। यही कारण है कि ये स्किन के लिए भी अच्छा साबित हो सकता है। जायफल एसेंशियल ऑयल को अगर नहाने के पानी में मिलाकर इस्तेमाल किया जाए तो ये बहुत अच्छा साबित हो सकता है। ये एक बेहतरीन स्किन केयर रूटीन की तरह काम करेगा।

nutmeg oil uses in hindi

2. जलन में देता है राहत-

NCBI की स्टडी 'Nutmeg oil alleviates chronic inflammatory pain' बताती है कि कैसे जायफल का तेल सूजन, जलन से जुड़ी समस्याओं में आराम दे सकता है। क्योंकि इसमें monoterpenes जैसे एंटी-इन्फ्लेमेटरी कम्पाउंड होते हैं इसलिए जायफल के तेल का इस्तेमाल किसी भी तरह से अगर डाइट में किया जाए तो ये स्वास्थ्य वर्धक साबित हो सकता है। जायफल का तेल अगर थोड़ी मात्रा में लिया जाए तो ये कई तरह के फायदे देगा।

3. स्ट्रेस में देता है आराम-

अरोमा थेरेपी का स्ट्रेस और एंग्जाइटी दूर करने में बहुत ज्यादा असर होता है। ऐसे में आप एयर डिफ्यूजर में डालकर जायफल के तेल का इस्तेमाल कर सकती हैं। जायफल का तेल स्ट्रेस में बहुत असर करता है और कई बार तो इससे बीपी भी कंट्रोल हो जाता है। कई चीनी दवाओं में जायफल के तेल का इस्तेमाल किया जाता है। अगर एंग्जाइटी की समस्या है तो भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

nutmeg oil uses

4. मेंस्ट्रुअल क्रैम्पस में देता है राहत-

National Center For Biotechnology Information (NCBI) की स्टडी में ये बात भी साफ की गई है कि अरोमाथेरेपी मसाज से कई तरह के दर्द में आराम मिलता है। ऐसे में जायफल के तेल का अगर सही तरह से इस्तेमाल किया जाए तो ये मेंस्ट्रुअल क्रैम्प्स में भी कारगर साबित हो सकता है। अपने मसाज ऑयल के साथ थोड़ा सा जायफल का तेल मिलाएं और खुद ही फर्क देखें।

Recommended Video



इसे जरूर पढ़ें- हेयर फॉल और पिंपल का 2 इन 1 इलाज है जायफल

5. सेक्स ड्राइव के लिए है अच्छा-

चूहों पर की गई एक स्टडी में सामने आया है कि जिन चूहों को जायफल एक्सट्रैक्ट दिया गया था वो बहुत ज्यादा एक्टिव हो गए थे। वैसे इस स्टडी के बाद वैज्ञानिक ये नहीं समझ पाए कि आखिर कैसे इस मसाले ने असर किया, लेकिन इतना साफ हो गया कि ये नर्वस सिस्टम को कंट्रोल कर सकता है। ऐसे में ये माना जाता है कि जायफल का तेल सेक्स ड्राइव के लिए भी अच्छा साबित हो सकता है।

6. पाचन के लिए भी अच्छा-

जायफल का तेल एक अच्छा उपाय है अपनी पाचन प्रक्रिया को ठीक करने का। अपच, डायरिया या गैस की समस्या में जायफल का तेल राहत दे सकता है। पेट दर्द के लिए भी ये फायदेमंद है।

7. मुंह की बदबू के लिए भी है अच्छा-

क्योंकि जायफल के तेल को हम अरोमाथेरेपी के लिए भी यूज कर सकते हैं और इसमें बहुत सारे स्वास्थ्य वर्धक गुण होते है, इसलिए ये मुंह से आने वाली बदबू के लिए भी फायदेमंद साबित हो सकता है। इसे अपने माउथ वॉश में मिलाकर इस्तेमाल करने से फायदा होगा।

कैसे इस्तेमाल करना है जायफल का तेल-

जायफल के तेल को इस्तेमाल करने के कई तरीके हो सकते हैं। हां, इसे बादाम तेल की तरह चम्मच में लेकर सीधे कंज्यूम नहीं किया जा सकता है, लेकिन इसे आप खाने में फ्लेवर के लिए इस्तेमाल कर सकती हैं। ऐसे में ये शरीर के अंदर भी जाएगा। इसे एयर डिफ्यूजर में डालकर आप इस्तेमाल कर सकती हैं। ऐसे में अरोमा थेरेपी इफेक्ट आएगा। अगर मसूढ़ों से जुड़ी समस्या है तो इसे सीधे मसूढ़ों में इस्तेमाल करें। आप इसे अपने मसाज ऑयल में मिलाकर भी इस्तेमाल कर सकती हैं। कुछ बूंदें नहाने के पानी में डालकर भी इस्तेमाल करें।

अगर आपको ये स्टोरी पसंद आई हो तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।