शायद यह कहावत आपने भी सुनी होगी कि जिस घर में सूरज की रोशनी नहीं जाती, उस घर में डॉक्टर जाता है। यानी सूरज की रोशनी से आप कई तरह की बीमारियों से बचकर डॉक्टर से दूर रह सकती हैं। सूरज की रोशनी के अभाव में घर में कीटाणु पनपने लगते हैं जो आपको बीमार करते हैं। लेकिन परेशान होने की जरूरत नहीं हैं क्योंकि इससे बचने का सरल उपाय है आपके पास। जो आपको बिल्कुल फ्री और आसानी से मिलती है। जी हां हम बात कर रहे हैं सूर्य स्नान यानी sun bath की। सर्दियों में तो इसका महत्व और भी बढ़ जाता है क्योंकि यह आपकी बॉडी को गर्म रखने में हेल्‍प करता है।

मेरे भी जोड़ों में बहुत दर्द रहता है। सर्दियों में तो यह दर्द इतना बढ़ जाता है कि मैं बेचैन रहती हूं। लेकिन इस दर्द से मुझे धूप में बैठकर तिल के तेल से मसाज करने में काफी आराम मिलता है। इसलिए मैं सर्दियों के दिनों में रोजाना आधे घंटे की धूप जरूर लेती हूं। और छुट्टी वाले दिन यानी शनिवार और इतवार, तो मैं लगभग 2 से 3 घंटे तक धूप में जरूर बैठती हूं। इससे ना केवल मुझे जोड़ों के दर्द से आराम मिलता है बल्कि एक अजीब सी एनर्जी भी महसूस होती है। आइए जानें रोजाना सिर्फ 20 मिनट धूप में बैठना आपके लिए कितना फायदेमंद होता है।

सुबह होते ही सूर्य की किरणों का सेंक ही sun bath कहलाता है यानी जब सूर्य उदय होता है, तब तो हमें सूर्य के प्रकाश में बैठना, लेटना व उठना चाहिए। माना जाता है कि जिस किसी भी अंग पर सूर्य का प्रकाश पड़ता हैं वह अंग हेल्‍दी हो जाता है। इसीलिए हमें शरीर के सभी अंगों पर सूर्य का प्रकाश लेना चाहिए। जिससे आपकी पूरी बॉडी हेल्‍दी हो जाए।

Read more: एक ग्लास दूध से पाइये हेल्दी लाइफ

हड्डियों को मिलेगी मजबूती

हड्डियों को सबसे ज्यादा मजबूती विटामिन डी से मिलती है। और सूर्य की रोशनी में विटामिन डी भरपूर मात्रा में होता है। अगर आप हड्डियों को मजबूत बनाना चाहती हैं और चाहती हैं कि आपको जोड़ों के दर्द की समस्या कभी ना हो या अगर समस्या हैं तो उससे राहत पाना चाहती हैं तो आज से sun bath लेना शुरू कर दें।

sun bath health benefits inside x.

मसाज से होगा दोगुना फायदा

जैसे कि मैंने आपको पहले ही बताया है कि धूप में बैठते समय ऑयल मसाज करने से मुझे पेन में आराम मिलता है। ऐसा आप भी कर सकती हैं। धूप में बैठते समय मसाज करने से बॉडी में स्फूर्ति आती है और आप एनर्जी से भरपूर महसूस करती हैं। इसलिए हफ्ते में एक बार करते समय सरसों या तिल के तेल से पूरी बॉडी मसाज करें।

धूप में बैठते हुए मसाज करने से स्किन पर निखार आता है। साथ ही आप सूर्य की किरणों का अधिक से अधिक फायदा ले सकती हैं। इससे विटामिन डी का लेवल बढ़ता है और वजन को कंट्रोल करने में भी हेल्प मिलती है।

कोलेस्‍ट्रॉल करें कम

Sun bath से कोलेस्ट्रॉल को कम करने में हेल्‍प मिलती है। सूरज ब्‍लड में हाई कोलेस्ट्रॉल को steroid hormones और सेक्‍स हामोन में परिवर्तित करता है।  और हमें reproduction के लिए हार्मोन की आवश्यकता होती है। सन बाथ ना लेने से ये पदार्थ कोलेस्ट्रॉल में बदल जाते हैं।

अन्य फायदे

विटामिन डी के साथ-साथ यह कैल्शियम का भी बहुत स्रोत है। इससे आपकी हड्डियों को बहुत ज्यादा मजबूती मिलती है और बॉडी को कई तरह की बीमारियों से लड़ने की शक्ति। साथ ही आपका ब्लर प्रेशर नॉर्मल रहता है और हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा नहीं रहता। इसके अलावा अगर प्रेग्नेंट नियमित रूप से sun bath करती हैं तो उसे प्रेग्नेंसी में होने वाली थकान, पीठ दर्द, मतली से राहत मिलती है। सुबह की खिली धूप में बैठने से बॉडी ब्लड जमने की प्रक्रिया को रोकता है और blood circulation बेहतर बनता है।

Read more: नहाने के पानी में मिलाएं ये चीजें, नहीं होगी डेड स्किन की समस्या

धूप में बैठने के कुछ नियम

  • धूप में बैठते समय कुछ बातों को ध्‍यान में रखना चाहिए। जैसे
  • सूर्य की किरणें सीधी सिर पर नहीं पड़नी चाहिए। सिर छाव में हो या अच्छी तरह से ढका हुआ होना चाहिए।
  • आप दस मिनट से लेकर आधे धंटे तक sun bath ले सकती हैं।
  • क्योंकि सूर्य की किरणें हमारे vascular system या neurotransmitter का संचालन कर हमें जरूरी एनर्जी देती है। इसलिए सन बाथ  के दौरान अधिक से अधिक धूप अपनी रीढ़ की हड्डी तक पहुंचने दें।
  • केवल सुबह की कोमल धूप ही हेल्‍थ के लिए अच्छी होती है। लेकिन सर्दियों में आप धूप किसी भी समय ले सकती हैं।

 

Recommended Video