मानव त्वचा शरीर का सबसे बड़ा अंग है और शरीर के लिए कई महत्वपूर्ण कार्यों के लिए जिम्मेदार है। हमारी त्वचा सूर्य की किरणों द्वारा उत्सर्जित हानिकारक पराबैंगनी प्रकाश के खिलाफ एक ढाल के रूप में कार्य करती है जो हमारी कोशिकाओं को नुकसान से बचाती है। यह हमें कई तरह के वायरस और बैक्टीरिया से बचाती है, जिनके संपर्क में हम रोजाना आते हैं। 

बेदाग और ग्‍लोइंग त्वचा अच्छे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य का प्रतिबिंब है। योग का अभ्यास हमारी त्वचा में चमक जोड़ने के साथ हमारा व्यक्तिगत ब्यूटीशियन के रूप में भी कार्य करता है। आसन, प्राणायाम और ध्यान का संयोजन हमारी त्वचा के लिए चमत्कार कर सकता है। ये आसन साइनस के रोमछिद्रों को भी साफ करते हैं, तनाव मुक्त करने में मदद करता है और आंखों, नाक और संवेदी अंगों को भी साफ करता है।

कपाल भाती प्राणायाम

Kapal Bhati Pranayama

संस्कृत में, 'कपाल' का अर्थ है खोपड़ी और 'भाति' का अर्थ है 'चमकना/ रोशन' करना। इसलिए इस कपालभाती प्राणायाम को स्कल शाइनिंग ब्रीदिंग टेक्निक के नाम से भी जाना जाता है।

विधि

  • किसी भी आरामदायक (जैसे सुखासन, अर्धपद्मासन या पद्मासन) आसन में बैठें। 
  • पीठ को सीधा करें और आंखें बंद करें।
  • हथेलियों को घुटनों पर ऊपर (प्राप्ति मुद्रा में) की ओर रखें। 
  • सामान्य रूप से श्वास लें और एक छोटी, लयबद्ध और जोरदार सांस छोड़ने पर ध्यान दें।
  • पेट का उपयोग डायाफ्राम और फेफड़ों से हवा को जोर से दबाकर बाहर निकालने के लिए कर सकती हैं।
  • जब पेट को डी कंप्रेस करते हैं तो सांस लेना अपने आप हो जाना चाहिए।

हलासन

Halasana for face tighting

  • इसे करने के लिए पीठ के बल लेट जाएं।
  • हथेलियों को शरीर के बगल में फर्श पर रखें।
  • पेट की मसल्‍स का इस्‍तेमाल करते हुए, पैरों को 90 डिग्री ऊपर उठाएं।
  • हथेलियों को फर्श पर मजबूती से दबाएं और पैरों को सिर के पीछे गिरने दें।
  • मध्य और पीठ के निचले हिस्से को फर्श से ऊपर उठाने दें ताकि पैर की उंगलियां पीछे की मंजिल को छू सकें।
  • जितना हो सके चेस्‍ट को ठुड्डी के पास लाने की कोशिश करें।
  • हथेलियां फर्श पर सपाट रह सकती हैं लेकिन बांहों को कोहनी पर मोड़ सकती है और आराम के स्तर के अनुसार हथेलियों से पीठ को सहारा दे सकते है।
  • आसन में कुछ देर रुकें।

सर्वांगासन

Sarvangasana for face tighting

  • पीठ के बल लेटकर शुरुआत करें।
  • बांहों को शरीर के बगल में रखें।
  • धीरे से पैरों को फर्श से ऊपर उठाएं और उन्हें फर्श पर सीधा रखें और पैरों को आकाश की ओर रखें।
  • धीरे-धीरे पेल्विक को ऊपर उठाएं और फर्श से पीछे हटें।
  • अग्र-भुजाओं को फर्श से उठाएं और सहारा देने के लिए हथेलियों को पीठ पर रखें।
  • कंधे, धड़, पेल्विक और पैरों के बीच एक सीधी रेखा प्राप्त करने का प्रयास करें।
  • ठुड्डी को अपनी चेस्‍ट से छूने की कोशिश करें और अपनी आंखो को पैरों की ओर केंद्रित करें।

Recommended Video

फेस योगा- इसे करने के लिए गालों में हवा फूंकें, इसे कुछ सेकेंड के लिए अपने मुंह में रखें और छोड़ें। इसे कुछ बार दोहराएं। आंखों की एक्‍सरसाइज करें, आंखों की पुतलियों से घुमाकर, ऊपर-नीचे देखते हुए आदि।

नियमित योगाभ्यास के कई लाभों में से एक यह है कि यह हमारी त्वचा को तरोताजा, झुर्रियों से मुक्त और 10 वर्ष छोटा रखता है। यह हमारे आत्मविश्वास और आत्म-सम्मान के लिए एक बड़ा बढ़ावा हो सकता है। योग हमारे जीवन से तनाव को खत्म करने में मदद कर सकता है और हमें एक स्वस्थ जीवन शैली की ओर ले जा सकता है। 

इसे जरूर पढ़ें:झुर्रियों का काल है ये 5 फेस योगा, रोजाना करने से चेहरे पर आता है चांद सा निखार

इसके अलावा, बेदाग त्वचा को पाने के लिए फल, सलाद, प्राकृतिक रस, दालें और पत्तेदार सब्जियों का सेवन बढ़ाकर एक स्वच्छ और हरित आहार पर स्विच करें जो आप हमेशा से चाहती हैं।

यह आर्टिकल आपको कैसा लगा? हमें फेसबुक पर कमेंट करके जरूर बताएं। फिटनेस और जवां निखार से जुड़े ऐसे ही और आर्टिकल पढ़ने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Freepik.com