बॉलीवुड की कुछ एक्‍ट्रेस खुद को फिट रखने के लिए योग करती हैं। इस लिस्‍ट में आलिया भट्ट का नाम भी शामिल है। जी हां फिटनेस के प्रति बॉलीवुड एक्‍ट्रेस आलिया भट्ट के प्यार और समर्पण के बारे में सभी जानते है। बार-बार, वह अपने जिम और योग सेक्‍शन की फोटोज और वीडियोज करके अपने फैन्‍स को फिटनेस के लिए इंस्‍पायर करती हैं। कुछ दिनों पहले भी एक्‍ट्रेस को एक और योग आसन सुखासन करते हुए देखा गया था।

सेलिब्रिटी योग ट्रेनर अंशुका परवानी ने इंस्टाग्राम पर 28 वर्षीय एक्‍ट्रेस की इस पोज को करते हुए एक फोटो शेयर की। इसके कैप्‍शन में लिखा "जैसे आलिया मानती हैं, "अपने सपनों के पीछे जाने के लिए यह एक खूबसूरत दिन है।" अगर आप भी खुद को फिट और सुंदर बनाए रखना चाहती हैं तो आलिया भट्ट की तरह इस योगासन को जरूर करें। आइए इसे करने के तरीके और फायदों के बारे में इस आर्टिकल के माध्‍यम से विस्‍तार से जान लेते हैं।

सुखासन एक ऐसा आसन है जो एक आरामदायक और स्थिर आसन का प्रतीक है। इस आसन को करना बेहद आसान है और इसे कोई भी ऐसा व्यक्ति कर सकता है जो फर्श पर या सख्त सतह पर बैठ सकता है। पीठ या घुटने की समस्या वाले वृद्ध वयस्क भी अपनी जांघों के नीचे कुशन के सहारे एक बार में एक पैर को मोड़कर इसे करने का प्रयास कर सकते हैं। नियमित अभ्यास उम्र से संबंधित बीमारियों के लिए फायदेमंद हो सकता है।

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by ANSHUKA | Yoga & Wellness (@anshukayoga)

सुखासन की विधि

  • इसे करने के लिए फर्श पर मैट बिछाकर बैठ जाएं। 
  • असुविधा से बचने के लिए शुरू में मुड़ी हुई चटाई या तौलिये का सहारा ले सकती हैं।
  • अपने पैरों को आगे की ओर फैलाएं।
  • अब अपने एक पैर को मोड़कर पैर को विपरीत थाई के नीचे लाएं। 
  • दूसरे पैर के साथ भी ऐसा ही करें। 
  • अपने पैरों को ढीला रखें ताकि आपके घुटने चौड़े हो जाएं आपके पेल्विक के बीच कुछ जगह हो।
  • अब आप एक स्थिर और आरामदायक मुद्रा में हैं। ऐसा करते हुए अपनी पीठ को एकदम सीधा रखें।
  • शुरुआत में, यदि आप अधिक समय तक बैठना चाहती हैं, तो आपको थोड़ी देर बाद अपने क्रास किए गए पैरों को बदलना पड़ सकता है।
  • अभ्यास के साथ, आप सुखासन में 20-30 मिनट या उससे अधिक समय तक बैठ सकती हैं।
  • यह एक ध्यान मुद्रा है और इसलिए आप दिन के किसी भी समय इस मुद्रा में बैठ सकती हैं।

Recommended Video

सुखासन के फायदे

sukhasana benefits

  • शरीर के निचले अंगों में ब्‍लड सर्कुलेशन में सुधार करता है।
  • रीढ़ को मजबूत करता है और पीठ के निचले हिस्से की समस्याओं से छुटकारा दिलाता है।
  • जोड़ों और घुटने से संबंधित समस्याओं के लिए अच्छा होता है।
  • थाई और पिंडलियों की मसल्‍स में मदद करता है। 
  • आपके दिमाग और शरीर को शांत करने में मदद करता है।
  • शरीर में एकाग्रता और स्थिरता में सुधार करता है।
  • चेस्‍ट और कंधों को चौड़ा करता है और मुद्रा में सुधार करता है।
  • चिंता, तनाव और थकान को कम करने में मदद करता है।
  • ब्‍लड प्रेशर में सुधार और संतुलन लाता है।
  • पेल्विक एरिया को टोन करने और असंयम को प्रबंधित करने में मदद करता है।

आप भी इस योग को करके खुद को फिट रख सकती हैं। आपको यह आर्टिकल कैसा लगा? हमें फेसबुक पर कमेंट करके जरूर बताएं। फिटनेस से जुड़ी ऐसी ही और जानकारी के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Article and Image Credit: Instagram (anshukayoga)