योग तन और मन को दुरुस्‍त रखने के साथ ही कई तरह के फायदे देता है। लेकिन उन लाभों को प्राप्त करने और असुविधा और चोटों से बचने के लिए प्रत्येक आसन को सही तरीके से करना महत्वपूर्ण है। यही कारण है कि एक्‍सपर्ट अक्सर ट्रेनर्स के साथ अभ्यास करने की सलाह देते हैं। इसलिए आज हम आपको चक्रासन को सही तरीके से करने के तरीके बारे में बता रहे हैं। इसकी जानकारी हमें एक्‍ट्रेस विद्या मालवडे के इंस्‍टाग्राम को देखने के बाद मिली। 

बॉलीवुड में चक दे गर्ल के नाम से फेमस एक्ट्रेस विद्या मालवडे को देखकर कोई भी उनकी असली उम्र का अंदाजा नहीं लगा सकता है। वह सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती हैं और अक्सर अपने फैन्‍स के साथ अपने फिटनेस के वीडियोज और फोटोज शेयर करती रहती हैं। कुछ दिनों पहले एक्‍ट्रेस और योग प्रेमी चक्रासन  को सही तरीके से करने के बारे में एक जानकारीपूर्ण वीडियो शेयर किया।  

जबकि योग में कई कठिन आसन शामिल हैं जिनमें इक्का-दुक्का करने के लिए समर्पण और कड़ी मेहनत की आवश्यकता होती है, एक विशेष रूप से मांग वाला बैकबेंड चक्रासन या व्हील पोज है जो कोर को संलग्न करते हुए चेस्‍ट, थाइज और बाहों को टोन करने में मदद करता है।

चक्रासन करने का सही तरीका

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by VidyaMMalavade (@vidyamalavade)

48 वर्षीय के अनुसार, 'यह एक शुरुआती मुद्रा नहीं है और मैं इसे कम से कम 30-40 मिनट के लिए वार्मिंग (अप) और अपनी पीठ और कंधों को खोलने के बाद करना चाहिए। सबसे पहले, ब्रिज पोज़ में महारत हासिल करें (जहां आप सिर्फ हिप्‍स को उठाते हैं)। फिर व्हील पोज पर स्‍टेप-बाई-स्‍टेप काम करें।' 

मालवडे ने कहना है, 'मुद्रा कंधे और हिप्‍स को खोलने में मदद करती है और रीढ़ को फैलाने में मदद करती है। तो ईजी हो जाओ ... यहां पहुंचने के लिए लगातार अभ्यास के वर्षों लगते हैं।' 

इसे जरूर पढ़ें:शिल्‍पा शेट्टी की तरह चक्रासन करेंगी तो कुछ ही दिनों में हो जाएगी स्लिम

चक्रासन करने का तरीका

  • इसे करने के लिए सबसे पहले मैट पर कमर के बल लेट जाएं।  
  • पैरों को घुटनों से मोड़े और पंजों को मैट पर रखें।
  • पैरों को दोनों हिप्‍स के बराबर दूरी पर खोलें।
  • हाथों को कंधों के पास मोड़कर लाएं और हथेलियों को जमीन पर रखें। 
  • उंगुलियों की दिशा पैरों की तरफ रखें।
  • सांस लें और सांस छोड़ते हुए शरीर को आगे के हिस्‍से से ऊपर की ओर उठाएं तथा सिर को मैट पर रखें।
  • अब सांस भरे और सिर को भी ऊपर उठाएं। 
  • कमर और सिर को पूरी तरह से ऊपर की ओर उठाकर पैरों, हाथों, कमर और चेस्‍ट पर स्‍ट्रेच महसूस करें।
  • गर्दन को ढीला छोड़े, इससे आपको गर्दन में अच्छा स्‍ट्रेच महसूस होगा। 
  • बेहतर रिजल्‍ट के लिए सांस को छोड़ते जाएं और कमर को उपर उठाते जाएं।
  • इस आसन में कुछ सेकेंड के लिए रूकें।
  • अब सांस छोड़ते हुए आराम से वापस आएं।
  • इस प्रक्रिया को दो बार दोहराएं।

Recommended Video

चक्रासन के फायदे

wheel pose benefits

  • चेस्‍ट को खोलते समय पैरों, बाहों, रीढ़ की हड्डी और पेट को मजबूत करने के लिए मुद्रा को बेहद प्रभावी माना जाता है। 
  • यह लचीलेपन को बढ़ाते हुए कंधों, हिप फ्लेक्सर्स, ग्लूट्स और थाइज को भी फैलाता है।
  • यह शरीर में तनावको कम करता है। 
  • इस आसन को करने के लिए आप अपने सिर को नीचे की ओर लटकाते है तो ब्‍लड फ्लो ज्‍यादा हो जाता है जो आपके चेहरे के निखार आता है।
  • अगर आप मोटी कमर से परेशान हैं तो चक्रासन करें।
  • आप बैली फैट से हैं परेशान तो चक्रासन से बढ़िया योगासन आपके लिए कोई ओर हो ही नहीं सकता है। 
  • चक्रासन एजिंग के साइन्‍स को कम करता है। आप यह भी कह सकती हैं कि आपके उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को यह योगाभ्यास धीमा कर देता है। 
  • इसके अभ्यास से कमर का लचीलापन बेहतर होता है।

सावधानी

पीठ की समस्याओं, कंधे की चोट, प्रेग्‍नेंसी, हाई और लो ब्‍लड प्रेशर से परेशान महिलाओं को इसे करते हुए सावधान रहना चाहिए।

आप भी इस तरह से चक्रासन करके खुद को फिट रख सकती हैं। इस तरह की और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image & Article Credit: Instagram.com (vidyamalavade)