• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

आलिया की ननद रिद्धिमा 41 की उम्र में भी दिखती हैं बेहद सुंदर, ये 1 योग है सीक्रेट

आलिया भट्ट की ननद रिद्धिमा कपूर साहनी की तरह 41 की उम्र में भी फिट और सुंदर दिखने के लिए ये 1 योग रोजाना जरूर करें।  
author-profile
Published -19 Apr 2022, 19:03 ISTUpdated -19 Apr 2022, 19:22 IST
Next
Article
riddhima kapoor sahni fitness

रिद्धिमा कपूर साहनी उन स्टार किड्स में से एक हैं जो सोशल मीडिया पर काफी फेमस हैं और इनके लाखों फॉलोअर्स हैं। आलिया भट्ट की तरह ननद भी एक फिटनेस फ्रीक हैं और सोशल मीडिया पर अक्सर खुद की योग करते हुए फोटोज और वीडियोज पोस्ट करती रहती हैं। वह मुश्किल से मुश्किल योग पोज को बेहद ही आसानी से कर लेती हैं। 

जी हां, रिद्धिमा कपूर साहनी न केवल प्रतिदिन योग का अभ्यास करने में विश्वास करती हैं, बल्कि नए आसनों को आजमाकर अपने सेशन को बढ़ाना भी पसंद करती हैं। आखिरकार, किसी के फिटनेस लक्ष्यों तक पहुंचने के लिए प्रगति उतनी ही महत्वपूर्ण है जितनी पूर्णता।

कुछ दिनों पहले रिवर्स प्रार्थना मुद्रा या पश्चिम नमस्कार आसन, जिसे विपरीत नमस्कार आसन के रूप में भी जाना जाता है, के द्वारा अपने लचीलेपन की एक झलक देते हुए देखा गया था।

ताड़ासन की एक भिन्नता के रूप में, मुद्रा में एक व्यक्ति को अपने हाथों को अपने शरीर के पीछे 'नमस्कार' मुद्रा में रखने की आवश्यकता होती है। जबकि रिवर्स प्रार्थना मुद्रा आसान लग सकती है, यदि आप योग के लिए नए हैं, तो इससे पहले कि आप कुछ मिनटों के लिए मुद्रा धारण कर सकें, आपको कुछ अभ्यास करना होगा। 

अगर आप भी आलिया भट्ट की ननद रिद्धिमा कपूर साहनी की तरह 41 की उम्र में भी खुद को फिट और एक्टिव रखना चाहती हैं तो इस योगासन को अपने फिटनेस रूटीन में शामिल करें। आइए इसे करने के तरीके और फायदों के बारे में आर्टिकल के माध्‍यम से विस्‍तार से जानते हैं।

पश्चिम नमस्कारासन के फायदे

  • यह मुद्रा शरीर के ऊपरी हिस्‍से को मजबूत करती है। 
  • यह चेस्‍ट को खोलती है जो बदले में श्वास और मेटाबॉलिज्‍म में सुधार करती है। 
  • इस मुद्रा को करने से डाइजेशन को बढ़ावा मिलता है। 
  • यह कंधों और कलाइयों को भी मजबूत करती है। 
  • नियमित अभ्यास तनाव को कम करने और मन और शरीर को शांत करने में मदद कर सकता है।
  • इसे करने से रीढ़ की हड्डी में लचीलापन आता है।

पश्चिम नमस्कारासन की विधि

paschima namaskarasana benefits

  • पश्चिम नमस्कारासन करने के लिए पैरों के बीच एक इंच का गैप बनाकर सीधी खड़ी हो जाएं। 
  • अपने हाथों को नीचे की ओर लटकाएं और ढीला छोड़ दें। 
  • इसे ताड़ासन कहते है।  
  • इसके बाद, अपने घुटनों को थोड़ा मोड़ें और दोनों हाथों को पीछे की ओर ले जाएं। 
  • धीरे-धीरे दोनों हाथों को जोड़ने की कोशिश करें। 
  • गहरी सांस लें और कलाई को मोड़ते हुए हाथों की उंगलियों को रीढ़ से सटा लें। 
  • अब हथेलियों को आपस में इस तरह से मिलाएं, जैसे आप नमस्‍कार करते हैं। 

Recommended Video

 
  • इस पोजीशन में आने के बाद आंखों को बंद कर लें। 
  • 20 से 30 सेकंड तक इस मुद्रा में खड़ी रहें। 
  • फिर अपनी आंखों को खोलें और कलाई को नीचे की ओर मोड़ें। 
  • धीरे से ताड़ासन में वापस आ जाएं। 
  • ऐसा कम से कम 5 बार करें। 

आप भी 41 साल की रिद्धिमा कपूर साहनी की तरह अपने फिटनेस दिनचर्या के लिए अत्यधिक प्रतिबद्ध होकर खुद को फिट रख सकती हैं। फिटनेस से जुड़ी ऐसी ही और जानकारी के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Article & Image Credit: Instagram (@riddhima kapoor sahni)

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।