मौनी रॉय टीवी से बॉलीवुड की दुनिया में कदम रख चुकी हैं। मौनी रॉय की खूबसूरती के लोग पहले ही दीवाने थे मगर, जब से उन्होंने बॉलीवुड इंडस्ट्री में एंट्री की है तब से उन्होंने अपनी बॉडी शेप की ओर भी ध्यान देना शुरू कर दिया है। मौनी खुद को स्लिम रखने के लिए अपनी डाइट पर तो ध्यान देती ही हैं साथ ही वह नियमित योगा भी करती हैं। उन्होंने हाल ही में सूर्य नमस्कार करते हुए अपना एक वीडियो इंस्टाग्राम अकाउंट पर शेयर किया है।

अगर आप भी मौनी रॉय की तरह स्लिम ट्रिम दिखना चाहती हैं तो आपको भी रोजाना सूर्य नमस्कार करना चाहिए। सूर्य नमस्का करने के लिए जरूरी है कि आप इसे करने का तरीका, इसमें किए जाने वाले आसन और उसके फायदे जान लें। 

  इसे जरूर पढ़ें:करीना की तरह रहना चाहती हैं स्लिम, तो रोजाना सूर्य नमस्‍कार करें

surya namaskar ramdev mouni roy

क्या होता है सूर्य नमस्कार 

इसे सूर्य का अभिनंदन करना भी कहती हैं। सूर्य नमस्कार की खासियत है कि इसमें योगा के 12 अलग-अलग आसन होते हैं। इन आसनों का क्रम कुछ इस तरह होता है। मसलन, सबसे पहले प्रणाम मुद्रा की जाती है और फिर हस्तो उत्तासन, पाद हस्तासन, अश्वा संचालन, दंडासन, अष्टांग नमस्कार, भुजंगासन, आधेमुखास्वान आसन, अश्वा संचालन, पाद हस्तासन आदि क्रम से किए जाने आसन हैं। इसके बाद आखिर में हस्तो उत्तासन और प्राणाम मुद्रा दोबारा की जाती है। आपको बता दें कि यह सबसे अच्छा कार्डियोवेस्कुलर वर्कआउट है। अगर आप नियमित सूर्य नमस्कार करती हैं तो आपको कभी भी दिल से जुड़ी बीमारी नहीं होगी। यह आपकी बॉडी को टोनअप भी करता है। मानसिक रूप से भी सूर्य नमस्कार करने से शांति मिलती है। 

 इसे जरूर पढ़ें:चेहरे पर स्‍पेशल निखार लाने के लिए महिलाएं रोजाना सिर्फ 5 मिनट करें पावर योग

benefits of surya namaskar steps

सर्वा योगा, माइंडफुलनेस एंड बियोंड के को फाउंडर श्री सर्वेश शशि की मानें तो, ‘अच्छी स्ट्रेचिंग के लिए सभी को रोज सूर्य नमस्कार करना चाहिए। सूर्य नमस्कार करने से शरीर के सभी अंगों पर प्रभाव पड़ता है। सूर्य नमस्कार करने से शरीर अंदर और बाहर दोनों तरह से स्वस्थ रहता है। अगर आपकी बॉडी में अतिरिक्त फैट है तो उसे भी आप सूर्य नमस्कार से बर्न कर सकती हैं।’

Recommended Video

क्या होते हैं फायदे 

  • अगर आपको मौनी रॉय की तरह स्लिम ट्रिम दिखना है तो आपको नियमित सूर्य नमस्कार करना होगा। इससे अपका वजन तेजी से घटेगा। सूर्य नमस्कार हमेशा तेजी से करना चाहिए। अगर आप पहली बार करने जा रही हैं तो जल्दबाजी न करें। मगर, धीरे-धीरे अपनी स्पीड बढ़ाएं। इससे आपका कार्डियोवैस्कुलर वर्कआउट हो जाएगा। 
  • वजन बढ़ने का एक कारण स्ट्रेस भी होता है। अगर आप ज्यादा स्ट्रेस लेती हैं तो सूर्य नमस्कार से आपको स्ट्रेस दूर करने में मदद मिलेगी। यह आपके नर्वस सिस्टम को शांत करता है। 
  • सूर्य नमस्कार करते वक्त बॉडी स्ट्रेचिंग बहुत ही अच्छी होती है। इससे आपकी मसल्स और लिगमेंट मजबूत होती है। यह एंडोक्राइन ग्लैंड्स की क्रीया को भी नॉर्मल करता है। ध्यान रखें कि अगर आप पहली बार सूर्य नमस्कार करने जा रही हैं तो आपको 5 से अधिक बार नहीं करना चाहिए। धीरे-धीरे आप अपना काउंट बढ़ा सकती हैं। 
  • सूर्य नमस्कार करने से केवल वजन ही कम नहीं होता है बल्कि इससे आपके फेफड़ों तक ज्यादा ऑक्सीजन भी पहुंचती है क्योंकि इसे करने में सांस बहुत तेज चलती हैं। 
  • आगर आपको अनियमित पीरियड्स की परेशानी है तो आपको रोज सूर्य नमस्कार करना चाहिए इससे आपकी यह परेशानी दूर हो जाएगी। इससे आपको डिलीवरी के दौरान दर्द भी कम होगा। 
  • सूर्य नमस्कार करने से शरीर में ब्लड सर्कुलेशन भी अच्छा हो जाता है। यह बॉडी के मेटाबॉलिज्म रेट को भी सुधारता है। 

कब करें सूर्य नमस्कार

सूर्य नमस्कार करने का सबसे अच्छा समय सुबह का होता है। आप सूर्य नमस्कार को सूर्य उदय होने से पहले करें। 5 से 6 बजे के बीच आप सूर्य नमस्कार कर सकती हैं। वैसे आप दिन में किसी भी वक्त सूर्य नमस्कार कर सकती हैं मगर, सुबह खाली पेट इसका अभ्यास करने से काफी फायदे होते हैं। आपको बता दें कि सूर्य नमस्कार के एक सेट में 13.90 कैलोरी बर्न होती है। 

 सेहत और फिटनेस से जुड़ी और भी फायदेमंद टिप्‍स जानने के लिए पढ़ती रहें HerZindagi।