मेडिटेशन स्वास्थ्य के लिए बेहद ही लाभदायक माना जाता है। जब आप ध्यान करती हैं तो इससे आपको तनाव को कम करने में मदद मिलती है, जिससे आपको एक मानसिक शांति मिलती है। इतना ही नहीं, जब आप नियमित रूप से ध्यान करती हैं तो इससे आपके मन-मस्तिष्क पर कण्ट्रोल होता है। ध्यान के जरिए ना सिर्फ आपको शारीरिक बल्कि मानसिक लाभ भी मिलते हैं। जब आपके भीतर सकारात्मकता बढ़ती है तो शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता भी बेहतर होती है। साथ ही आप खुद को अधिक उर्जावान महसूस करती हैं।

यूं तो नियमित रूप से महज दस मिनट मेडिटेशन करने से ही आपको अनगिनत लाभ मिलने लग जाते हैं। लेकिन यह सभी लाभ तभी मिलते हैं, जब मेडिटेशन सही तरह किया जाए। कुछ लोगों को लगातार मेडिटेशन करने से भी पर्याप्त लाभ नहीं मिल पाता, क्योंकि वह मेडिटेशन के नियमों को फॉलो नहीं करते। तो चलिए आज इस लेख में आपको वुमन हेल्थ रिसर्च फाउंडेशन की प्रेसिडेंट व योगागुरू नेहा वशिष्ट मेडिटेशन करते समय फॉलो किए जाने वाले कुछ नियमों के बारे में बता रहे हैं-

चुनें एक अलग कमरा

room

जब आप मेडिटेशन करना चाहती हैं तो आपको ऐसी जगह चुननी चाहिए, जहां थोड़ी शांति हो। अगर आप चाहें तो एक अलग कमरा चुन सकती हैं, जहां एकांत हो। कोशिश करें कि कमरा हवादार हो और कम से कम लाइट हो। साथ ही साथ कमरे से किसी तरह की स्मेल ना आती हो। आपका कमरा ऐसा हो, जिसकी दीवारों पर सफेद या कोई हल्के रंग का पेंट हो। वहीं इस कमरे में फर्नीचर भी कम से कम ही रखें।

सही हो आसन

जब आप ध्यान लगा रही हैं तो आपको ऐसे आसन को चुनना चाहिए, जो आरामदायक हो। ताकि आप लंबे समय तक सुखपूर्वक बैठकर ध्यान लगा सकें। वहीं अगर आप कमर दर्द से परेशान रहती हैं तो ध्यान करने से पहले नीचे कुशन रखें और पीछे दीवार का सहारा लेकर बैठें।

करें सही समय पर 

neha

मेडिटेशन के लिए समय पर भी ध्यान दिया जाना बेहद आवश्यक है। सही समय पर मेडिटेशन करने से आपको अधिक लाभ होता है। मेडिटेशन करने का सही समय सुबह या रात का माना जाता है। अगर आप सुबह मेडिटेशन करती हैं तो उठकर ब्रश करने के बाद मेडिटेशन कर सकती हैं। वहीं डायबिटीज के मरीज सुबह हल्का कुछ खाकर ही ध्यान लगाएं। वहीं, अगर आप रात में मेडिटेशन कर रही हैं तो ऐसे में आपको डिनर करने के बाद कम से कम एक घंटे का गैप रखना चाहिए। खाना खाने के तुरंत बाद ध्यान पर ना बैठें। मेडिटेशन करने के बाद आप सो जाएं।

इसे ज़रूर पढ़ें- आंखों को हेल्‍दी रखने के लिए रोजाना घर पर ही करें ये 5 योग

जब शुरू करें ध्यान साधना

अगर आप रात के समय भोजन करने के पश्चात् ध्यान साधना करने वाली हैं तो आपको इस बात का भी ध्यान रखना है कि आप ध्यान साधना करने से पहले सात्विक आहार ही लें। मेडिटेशन से पहले तेज मिर्च-मसाले या बहुत अधिक तला-भुना खाना खाने से परहेज करें। इतना ही नहीं, ध्यान करने से पहले आप बहुत अधिक तड़क-भड़क फिल्में आदि भी ना देखें। ना ही ऐसे कपड़े पहनें। इसका विपरीत असर आपकी ध्यान साधना पर पड़ता है।

Recommended Video

यूं करें ध्यान केन्द्रित

meditation for skin

कुछ लोग ध्यान के दौरान जबरदस्ती अपने मन को शांत करने का प्रयास करते हैं या फिर वह यह कोशिश करते हैं कि उन्हें मस्तिष्क में किसी प्रकार के विचार ना आएं। हालांकि, ऐसा करने से तरह-तरह के विचार उनके मन में अधिक आते हैं। बेहतर होगा कि आप अपने मन-मस्तिष्क को स्वतंत्र छोड़ दें और केवल अपनी श्वास के आवागमन पर फोकस करें। धीरे-धीरे आपको विचार आने कम हो जाएंगे। आप चाहें तो इस समय अपने मन-मस्तिष्क को शांत करने के लिए ओम् चैंटिंग भी कर सकती हैं।

इसे ज़रूर पढ़ें- एरोबिक एक्सरसाइज करने से पहले जरूर जान लें यह बातें, सेहत को नहीं होगा कोई नुकसान

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- (@Freepik)