स्पेयर टायर को बेली फैट या मफिन टॉप के रूप में भी जाना जाता है। यह कमर के आस-पास जमा लटकती एक्‍स्‍ट्रा चर्बी है। इस हिस्‍से की चर्बी को कम करना वैसे भी मुश्किल होता है और जब आपके पास एक्‍स्‍ट्रा टायर होते हैं, तो बहुत ही मुश्किल हो जाता है।

यह फैट कमर के आस-पास होता है और आमतौर पर तब होता है, जब हम अपने कैलोरी के सेवन पर कंट्रोल नहीं रखते हैं। इसके अलावा, पूरे दिन बैठे रहने, कोई एक्टिविटी न करने आदि से भी ये टायर्स दिखाई देने लगते हैं। सिर्फ अच्छा दिखने के लिए ही नहीं, बल्कि हेल्‍दी रहने के लिए भी इस फैट से छुटकारा पाना जरूरी होता है। 

एक्‍स्‍ट्रा टायर फैट को कम करने में मदद के लिए हमने फिटनेस एक्‍सपर्ट मीनाक्षी मोहंती से बात की और उनसे इसके लिए कुछ टिप्स शेयर करने के लिए कहा। तब उन्‍होंने हमारे साथ कुछ ऐसे आसान टिप्‍स शेयर किए, जिनकी मदद से महिलाएं आसानी से इसे कम कर सकती हैं। अगर आप भी कमर के लटकते टायर से परेशान हैं, तो इस आर्टिकल में एक्‍सपर्ट के बताए टिप्‍स आपके काम आ सकते हैं। 

हेल्‍दी डाइट लें

balance diet

अगर आप एक्‍स्‍ट्रा टायर की चर्बी कम करने की कोशिश कर रही हैं, तो आपकी डाइट एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। सबसे पहली चीज़, एक्‍सपर्ट ने डाइट से चीनी को पूरी तरह से हटाने का टिप्‍स दिया है। अधिकांश प्रोसेस्‍ड फूड्स और पेय पदार्थों में चीनी मिलाया जाता है, जिसमें स्पोर्ट्स ड्रिंक, सोडा, कुकीज, कैंडी आदि शामिल हैं। इनका सेवन करने से आप अपने शरीर, विशेषकर कमर के आस-पास के हिस्‍से में ज्‍यादा चर्बी जोड़ सकती हैं।

अपनी डाइट में एवोकाडो, ऑलिव ऑयल, नट्स, बीज और फैटी फिश जैसे फूड्स को शामिल करें। यह हेल्‍दी फैट और कैलोरी से भरपूर होते हैं, लेकिन उन्हें मध्यम मात्रा में रखने से आप जल्दी से अपना वजन कम कर सकती हैं। बीन्स, नट्स, ओट्स, सब्जियां और फलों जैसे फूड्स में फाइबर की मात्रा अधिक होती है, जो आपको लंबे समय तक भरा हुआ महसूस कराता है, क्योंकि वे धीरे-धीरे पचते हैं।

इसे जरूर पढ़ें:इन 3 एक्सरसाइज से बर्न हो सकती है सबसे ज्यादा कैलोरी, बेली फैट कम करने के लिए हैं बेस्ट

अच्छी नींद लें और हाइड्रेटेड रहें

पर्याप्त नींद लेना महत्वपूर्ण है क्योंकि नींद की कमी से शरीर में कोर्टिसोल का लेवल बढ़ सकता है, जिससे वजन बढ़ता है। पर्याप्त नींद न लेने से डायबिटीज और मोटापे की समस्‍या हो सकती है। वजन बढ़ने से रोकने के लिए 7-8 घंटे की नींद लें।

इसके अलावा, चर्बी को कम करने के लिए अपने शरीर को ठीक से हाइड्रेट करना महत्वपूर्ण होता है। मीठे पेय पदार्थों की बजाय, नियमित पानी या डिटॉक्स ड्रिंक से खुद को हाइड्रेट करें।

तनाव से बचें

stress

बहुत सी महिलाएं इस बात को नहीं जानती हैं कि तनाव आपके मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य दोनों पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है और यहां तक कि पेट की चर्बी भी बढ़ा सकता है। यह शरीर में कोर्टिसोल लेवल को बढ़ाता है, जिससे वजन बढ़ सकता है। योग और ध्यान जैसी एक्‍टिविटी पर ध्यान दें, जो तनाव को कम करने और पेट की चर्बी को रोकने में मदद कर सकती हैं।

घंटों बैठने से बचें

हममें से कई महिलाओं के पास डेस्क जॉब है, जिसमें घंटों बैठना शामिल है। हम दिनभर में जितनी कैलोरी का सेवन करते हैं, उसे बर्न करने का एक आसान तरीका काम के बीच में उठना और घूमना है। हर घंटे के बाद एक नॉर्मल वॉक करें या उठें और अपने लिए पानी लेकर आएं। आप एक स्मार्टवॉच जैसा उपकरण अपने लिए ले सकती हैं, जो दिनभर आपके कदमों को ट्रैक करने में आपकी मदद कर सकता है।

कार्डियो करें

cardio for side tires

कार्डियोवैस्कुलर एक्सरसाइज कैलोरी को जल्दी बर्न करने में मदद करती हैं और शरीर पर जमा एक्‍स्‍ट्रा चर्बी को कम करती हैं। कार्डियो पेट की चर्बी को कम करने में आपकी मदद कर सकता है। कार्डियो करने के अलावा, एरोबिक वर्कआउट रूटीन, ब्रिस्क वॉकिंग या स्विमिंग जैसी एक्टिविटी करने से भी आपको चर्बी कम करने में मदद मिल सकती है।

इसे जरूर पढ़ें:पेट की जिद्दी चर्बी तेजी से होगी कम, अपनाएं ये 2 टिप्‍स

वेट ट्रेनिंग करें

वेट ट्रेनिंग को अपने वर्कआउट रूटीन में शामिल करना काफी फायदेमंद होता है। जहां कार्डियो आपको वर्कआउट के दौरान कैलोरी बर्न करने में मदद करता है, वहीं वेट ट्रेनिंग से शरीर को लीन मसल्स बनाने और अधिक कैलोरी बर्न करने में मदद मिलती है। बेली फैट बर्न करने में वेट ट्रेनिंग और कार्डियो का कॉम्बिनेशन बहुत कारगर हो सकता है।

Recommended Video

HIIT वर्कआउट आजमाएं

weight training for for side tires

शरीर की चर्बी कम करने के लिए HIIT या हाई इंस्‍टेसिव इंटरवल ट्रेनिंग एक प्रभावी वर्कआउट है। HIIT वर्कआउट में इंस्‍टेंस शामिल होता है, जिसके बाद एक छोटा पीरियड होता है। यह वर्कआउट कम समय में ढेर सारी कैलोरी बर्न करने में मदद करता है। यह उन महिलाओं के लिए बहुत अच्छा है, जिनके पास जिम में बिताने के लिए लंबा समय नहीं है। चूंकि वर्कआउट की तीव्रता अधिक होती है, यह शरीर की मेटाबॉलिज्‍म को बढ़ाने में मदद करता है जो वजन घटाने में और भी ज्‍यादा मदद करता है।

हमें उम्मीद है कि यह टिप्‍स आपको एक्‍स्‍ट्रा टायरों से छुटकारा पाने में मदद करेगी। फिटनेस से जुड़ी ऐसी ही एक्‍सपर्ट जानकारी के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें। 

Image Credit: Freepik.com