आजकल ज्यादातर लोग बैठने का काम फिर चाहे वे ऑफिस का काम हो या फिर घर का कोई भी काम आदि ज्यादा करते हैं। इन कामों को पूरा करने के लिए लोग घंटों तक बैठे रहते हैं, जिसकी वजह से इन्हें कई तरह की शारीरिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। कई लोगों को पीठ में दर्द होने की समस्या, तो कुछ लोगों को खराब बॉडी स्ट्रक्चर की समस्या का सामना करना पड़ता है। लेकिन ज्यादातर लोग खराब बॉडी पोस्चर का सामना कर रहे हैं। इन लोगों में ज्यादातर युवा वर्ग शामिल है क्योंकि आजकल के युवा अपना ज्यादातर समय फोन या फिर इंटरनेट पर चीजों को देखने आदि में बिताते हैं। 

Dr Hitesh Khurana in hindi

इस बढ़ती समस्या को देखते हुए हमने एक्सपर्ट डॉक्टर हितेश खुराना से बात की। आपको बता दें कि डॉ. हितेश खुराना काइरोप्रैक्टिक, एर्गोनोमिक विशेषज्ञ और वरिष्ठ फिजियोथेरेपिस्ट हैं। इन्होंने हमें विस्तार से बताया गया कि लोगों को शुरुआत में खराब मुद्रा को ठीक करने के लिए कौन-कौन से योगासन या फिर कौन-कौन सी एक्सरसाइज करनी चाहिए। इन योगासनों को हम आपके साथ इस लेख के माध्यम से साझा कर रहे हैं। आइए जानते हैं..

भुजंगासन

bhajinasan

भुजंगासन एक ऐसा योग है जिसे नियमित रूप से करने से बॉडी का पोस्चर ठीक होने लगता है। इसके कई शारीरिक फायदे भी हैं, जिसे कई लोग कोबरा पोज के नाम से भी जानते हैं। आप कोबरा पोज को अपनी एक्सरसाइज रूटीन में शामिल कर सकते हैं। ये योग दिमाग को शांत और बॉडी को आराम दिलाता है, जिससे आप थका हुआ महसूस नहीं करते हैं। साथ ही, यह कमर को सीधा करने के लिए भी बहुत उपयोगी है। अगर आप घंटों बैठे रहते हैं, तो बीच-बीच में यह योग जरूर करें क्योंकि इससे आपकी बॉडी में लचीलापन आएगा।

कैसे करें?

  • कोबरा पोज करने के लिए आप पेट के बल लेट जाएं।
  • फिर अपने दोनों हाथों को अपने सीने के पास लेकर आएं।
  • इस दौरान आप अपनी कोहनियां को पसलियों की तरफ ही रखें। 
  • ऐसा करने के बाद आप अपने सीने को ऊपर की तरफ उठाएं और गहरी सांस लें।
  • फिर आप कंधों को घूमते हुए सिर को पीछे की तरफ ले जाएं।अंत में सांस को छोड़ते हुए अपने सीने को नीचे की तरफ ले जाएं। इस प्रक्रिया को दोहरा लें।

ग्लूट एक्सरसाइज

gluate yoga

यह एक्सरसाइज आपकी पीठ के निचले हिस्से में दर्द से राहत देने में मदद करती है। यह ग्लूट्स को मजबूत और एक्टिव करने में भी सहायक है। यह आपके कूल्हों को बेहतर बनाती है, जिससे पॉश्चर बेहतर होता है। अगर आप एक्सरसाइज करने की शुरूआत कर रहे हैं, तो आपके लिए ये एक्सरसाइज बुहत उपयोगी है। 

इसे ज़रूर पढ़ें-कम्प्यूटर पर काम करते वक्त पीठ और कमर में होता है दर्द तो अपने बैठने के स्टाइल में करें ये बदलाव

कैसे करें?

  • अपने घुटनों के बल झुकें और कूल्हे-डिस्टेंस के अलावा अपने पैरों को अलग रखें।
  • अपने पैरों को अपने कूल्हों से लगभग एक फुट की दूरी पर रखें।
  • अपनी हथेलियों को नीचे की ओर रखते हुए अपने शरीर के साथ अपने हाथों को आराम दें।
  • सांस छोड़ते हुए आप अपने पैरों को अपने कूल्हों के करीब लेकर आएं।
  • 10 सेकंड के लिए इस स्थिति को होल्ड करें और फिर उन्हें अपने कूल्हों से दूर ले जाएं। रोजाना इस एक्सरसाइज को कुछ देर तक जरूर करें।

उत्तानासन

yoga for bignners

वैसे तो उत्तानासन बहुत कॉमन योगासन है। इसे रोजाना करने के बहुत फायदे हैं जैसे- रीढ़, हैमस्ट्रिंग, और ग्लूट्स से तनाव रिलीज होता है। इसके अलावा, यह हिप और पैरों को भी स्ट्रेच करने का काम करता है। इस एक्सरसाइज में स्ट्रेच करते वक्त आपकी बैक साइड पूरी तरह से खुल जाएगी और आपका पोस्चर ठीक होने लगेगा । (लटकते पेट को टाइट करने के लिए रोजाना करें ये 5 एक्‍सरसाइज)

Recommended Video

कैसे करें?

  • अपने पैर की उंगलियों को छूएं और अपनी एड़ी को थोड़ा अलग रखें।
  • अपने हाथों को अपने कूल्हों तक लाएँ और अपने कूल्हों को आगे की तरफ मोड़ें। अपने हाथों को फर्श की ओर छोड़ें या उन्हें एक ब्लॉक पर रखें।
  • अगर आपके हाथ जमीन पर नहीं टच हो रहे हैं तो परेशान न हो, अपने हाथों को उतना ही आगे बढ़ाए जितना बढ़ा सकती हैं।
  • अब अपने घुटनों को थोड़ा मोड़ें, अपने कूल्हों के जोड़ों को नरम करें और अपनी रीढ़ को लंबा करने की अनुमति दें।
  • अपनी ठोड़ी को अपनी छाती से टच करने की कोशिश करें और अपने सिर को फर्श पर हैंग होने दें।
  • इस पोजिशन को एक मिनट के लिए होल्ड करें और फिर वापस सामान्य स्थिति में आ जाएं।

ऊपर बताए गए आसन को शुरुआत में एक से तीन बार अभ्यास करके देखें फिर उसके बाद नियमित रूप से अपने रूटीन में शामिल करें। इसके अलावा, आप प्लैंक एक्सरसाइज को भी कर सकते हैं क्योंकि एक्सपर्ट के अनुसार इसे करने से न सिर्फ शरीर के पोस्चर ठीक होता है बल्कि पेट की चर्बी भी कम की जा सकती है। 

इसे ज़रूर पढ़ें- जिम से नहीं सोहा की तरह सीढ़ियों में एक्‍सरसाइज करके खुद को रखें फिट

इसलिए आप प्लैंक एक्सरसाइज को अपने डेली रुटीन में शामिल करें और स्वस्थ रहें। आपको लेख पसंद आया हो तो इसे शेयर और लाइक ज़रूर करें, साथ ही, ऐसी अन्य जानकारी पाने के लिए जुड़े रहें हरजिन्दगी के साथ।

Image credit-(@Freepik and google)