एक सबसे बड़ा मिथक जो योग से जुड़ा हुआ है वो ये है कि योग से वजन कम नहीं हो सकता है, ऐसा बिलकुल भी नहीं है। योग न सिर्फ शरीर की पूरी फिटनेस के लिए मददगार साबित हो सकता है बल्कि इससे वजन कम भी हो सकता है और साथ ही साथ आप इसके नियमित अभ्यास से 10 किलो तक वजन भी कम कर सकते हैं। वैसे ये आपके योगा रूटीन और सही डाइट पर निर्भर करता है कि आप कितने किलो तक वजन कम करते हैं, लेकिन सही तरह से योगा अभ्यास करने पर फायदा जरूर होगा। 

जहां योग का अहम उद्देश्य शरीर को ज्यादा फ्लेक्सिबल बनाना है वहीं सही तरह के आसन और उनकी गहनता के जरिए आप एक घंटे की प्रैक्टिस में ही 300 से ज्यादा कैलोरी कम कर सकते हैं। हमने योग और वजन कम करने को लेकर सर्वा योगा की हेड इंस्ट्रक्टर जाह्नवी पटवर्धन से बात की। उन्होंने हमें योग से वजन कम करने के कुछ टिप्स बताए। 

जाह्नवी का कहना है कि, 'योगा को कार्डियो के जितना ही असरदार बनाने और उसी लेवल पर लाने के लिए आपको नियमित योगा ड्यूरेशन को बढ़ाना होगा और उसे और भी ज्यादा गहन बनाना होगा।' एक बात का ध्यान रखना जरूरी है कि योगा की मदद से जिम की तरह जल्दी वेट लॉस नहीं होता है और अगर आपका उद्देश्य 10 किलो तक वजन कम करना है तो आपको काफी समय भी लग सकता है, लेकिन आपको योगा से फायदा जरूर होगा और आपके बॉडी टाइप और योगा की इंटेंसिटी के मुताबिक वजन कम भी होगा। 

अगर आपको अभी भी योगा से वजन कम करने को लेकर थोड़ा सा संशय है तो आपको बताते हैं जाह्नवी जी का बताया हुआ योगा रूटीन जिसे आप अपने पावर योगा के तौर पर भी देख सकते हैं। ये कार्डियो की बराबरी कर सकता है। 

इसे जरूर पढ़ें- डबल चिन को दूर करने के लिए करें ये 3 असरदार फेस मसाज

हाई इंटेंसिटी योगा रूटीन फॉलो करते समय ध्यान रखें ये टिप्स-

1. सांस लेते रहें- 

योगा पूरी तरह से सांस लेने का काम है जिससे मसल्स मजबूत होती हैं और उनमें नई ताकत आती है। योगा करते समय सांस लेना बहुत ज्यादा जरूरी है। 

2. अपने शरीर की बात सुनें-

अगर आपका शरीर दर्द या किसी तरह की असहजता के बारे में संकेत दे रहा है तो तुरंत रुक जाएं और सांस लेते रहें। 

graphic

3. नतीजों पर ध्यान दें-

योगा करने से आपको कैसे नतीजे मिल रहे हैं इसपर ध्यान दें। क्या आपके शरीर में ज्यादा ऊर्जा आ रही है? क्या स्ट्रेस कम हो रहा है? क्या नींद बेहतर हो रही है? अगर हां में आपका जवाब है तो ये सब बातें सही हैं।  

Recommended Video

कैसे बनाएं वेट लॉस के लिए कार्डियो योगा रूटीन-

कार्डियो योगा रूटीन के लिए अपने नॉर्मल योगा पोज को हाई इंटेंसिटी वर्कआउट में बदलना होगा।  

सूर्य नमस्कार- 

एक बात तो गांठ बांध लीजिए कि सूर्य नमस्कार बहुत ही ज्यादा बेहतर तरीका है शरीर की फ्लेक्सिबिलिटी बढ़ाने और शरीर को फिट रखने के लिए। जितना सूर्य नमस्कार आप करते हैं उससे ज्यादा करने की कोशिश करें। कन्फ्यूज न हों यहां हमारा मतलब आपकी कैपेसिटी से है। अगर आपकी कैपेसिटी 10 सूर्यनमस्कार की ही है तो 15 या 20 करें। अगर एक बार में दोगुना नहीं कर पा रहे हैं तो कम से कम डेढ़ गुना तो करें। आपका नॉर्मल सूर्य नमस्कार पावर योगा तब बनेगा जब आपको इसे करते समय पसीना आएगा।  

surya namaskar for weight loss

मॉडिफाइड मलासन 

शरीर के फैट को कम करने के लिए योगी स्क्वैट या मलासन/ उत्कटासन बहुत ही कारगर साबित हो सकते हैं। पर इसे करने के तरीके में थोड़ा बदलाव लाएं। 

कैसे करें-  

- सबसे पहले नॉर्मल मलासन की पोजीशन में हैं और अपनी दोनों हथेलियों को मैट पर रखें यानि नीचे। 

- अब आपको जंप करते हुए पीछे की ओर जाना है और प्लैंक या फिर अधोमुख श्वानासन की पोजीशन बनानी है।  

ध्यान रहे कि यहां पर दो तरह के योगा पोज को मिक्स किया जा रहा है इसलिए एक साथ बहुत सारा करने की जगह आप धीरे-धीरे प्रैक्टिस करें। इसे भी आपको तब तक करना है जब तक पसीना न निकलने लगे।  

इसे जरूर पढ़ें- पीठ की लटकती चर्बी से कैसे पाएं छुटकारा? जानें ये 3 एक्‍सरसाइज जिनसे 1 महीने में दिखेगा असर 

मॉडिफाइड डॉग पोज- 

आप अपनी फ्लेक्सिबिलिटी के अनुसार डाउनवर्ड फेसिंग डॉग और अपवर्ड फेसिंग डॉग पोज को बदल सकते हैं।  

कैसे करें-  

- आप शुरुआत डाउनवर्ड फेसिंग डॉग यानि अधो मुख श्वानासन से करें और उसके बाद ग्रेसफुली प्लैंक या फिर अपवर्ड फेसिंग डॉग यानि ऊर्ध्व मुख श्वानासन तक जाएं।  

downward dog weight loss

- इसे अपनी फ्लेक्सिबिलिटी के हिसाब से करें। इससे आपकी बैक भी मजबूत होगी और बेली फैट पर भी असर होगा। इसे जितनी बार कर सकते हैं उतनी बार करें। पर ध्यान रहे कि आपके शरीर में अगर तकलीफ हो रही है तो पहले अपना स्टैमिना बनाएं और फिर इसे ज्यादा करें अन्यथा उतना ही करें जितना शरीर के लिए कष्टप्रद नहीं है।  

upward dog weight loss

- एक बार फिर से डाउनवर्ड फेसिंग डॉग पोजीशन में जाएं और अपना दाहिना पैर आगे कर अपनी दाईं कलाई के आगे ले जाने की कोशिश करें जो लिजर्ड लंज यानि उत्थन प्रस्थासन पोजीशन होगी। अब अपने दाएं हाथ को ट्विस्ट करते हुए ऊपर की ओर ले जाएं। अब अपना दायां पैर वापस से पीछे की ओर ले जाएं और इस योगा पोज को रिपीट करें। अगर आप एडवांस लेवल पर हैं तो आप जंप करके स्विच कर सकते हैं।  

lizard pose weifght loss

- आप ताड़ासन या आउंटेन पोज से डीप चेयर पोज या उत्कटासन तक जा सकते हैं और इसे रिपीट कर सकते हैं। ताड़ासन करते समय आप थोड़ा जंप भी कर सकते हैं।  

इन सभी अपग्रेड्स से आप अपने योगा रूटीन को थोड़ा और असरदार बना सकते हैं। पर पहले आप सभी टिप्स को जरूर ध्यान में रखें। योगा आपके शरीर को प्यार और आदर देने के लिए है और खुद को बेहतर बनाने के लिए। 

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।