योग शक्ति में सुधार करने में मदद करता है, शरीर को संतुलन और लचीलापन प्रदान करता है। नियमित रूप से योग करने से आपको बहुत सारे स्वास्थ्य लाभ मिल सकते हैं। योग सदियों से चला आ रहा है और यह मानसिक, शारीरिक और आध्यात्मिक रूप से शेप में रहने का एक शानदार तरीका है। 

हालांकि, बहुत से लोगों को संदेह है कि योग आपके ऊपरी शरीर को टोन कर सकता है और समग्र शारीरिक शक्ति को बढ़ा सकता है। अगर आपके मन में भी ऐसा ही कुछ है तो इस आर्टिकल में बताए योगासन की मदद से आप ऐसा आसानी से कर सकती हैं। इस योगासन के बारे में हमें मलाइका अरोड़ा का इंस्‍टाग्राम अकाउंट देखने के बाद मिला है। 

जी हां, एक्ट्रेस मलाइका अरोड़ा योग के फायदों में पूरे मन से विश्वास करती हैं और उनका इंस्टाग्राम हैंडल इसका सबूत है। एक नए पोस्ट में, उन्होंने अर्ध मत्स्येन्द्रासन करते हुए अपनी एक फोटो शेयर की।

मलाइका ने योग का फोटो शेयर करते हुए कैप्‍शन में लिखा, ''हम नए साल से सिर्फ 3 महीने दूर हैं। आइए हम 2022 में हेल्‍दी तन और मन के साथ चलें। खुद को बदलने और खुद का सबसे अच्छा संस्करण बनने के लिए इन 3 महीनों की अवधि लें। आपकी मदद के लिए पेश है अर्ध मत्स्येन्द्रासन। यह मुद्रा शरीर के ऊपरी हिस्‍से को स्‍ट्रेच करने, रीढ़ को मजबूत करने, दिमाग को आराम देने और पाचन में सुधार करने के लिए बहुत अच्छी है क्योंकि यह बॉडी में मौजूद अपशिष्ट को समाप्त करती है।''

अर्ध मत्स्येन्द्रासन की विधि

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Malaika Arora (@malaikaaroraofficial)

  • शरीर के सामने पैरों को फैलाकर बैठ जाएं।
  • दाहिने पैर को मोड़ें और बाएं घुटने के बाहर फर्श पर सपाट रखें।
  • बाएं पैर को अपने दाहिने पैर के नीचे मोड़ें और पैर को दाहिने हिप्‍स के बाहर की ओर लाएं।
  • बाएं हाथ को चेस्‍ट और दाहिने घुटने के बीच की जगह से निकालकर और इसे दाहिने पैर के बाहर रखें और टखने को पकड़ें।
  • धीरे-धीरे दाईं ओर मुड़ें और अपनी दाहिनी हथेली को अपनी सिट बोन के पीछे रखें।
  • कुछ सांसों के लिए रुकें और दूसरी तरफ इस योग को दोहराएं।

Recommended Video

अर्ध मत्स्येन्द्रासन के फायदे

ardha matsyendrasana

अर्ध मत्स्येन्द्रासन शरीर के ऊपरी हिस्‍से को टोन करने के साथ-साथ हमें कई तरह से फायदा पहुंचाता है- 

  • इसे करने से पीठ में होने वाले दर्द और कठोरता से राहत मिलती है। 
  • यह चेस्‍ट को खोलता है और लंग्‍स में ऑक्‍सीजन की आपूर्ति को बढ़ाता है। 
  • बाजुओं, कंधों, पीठ और गर्दन में तनाव को कम करता है। 
  • पेट के अंगों की मालिश करता है और डाइजेशन में सुधार करता है। 
  • इसे करने से रीढ़ की हड्डी में फ्लेक्सिबिलिटी बढ़ती है। 
  • यह पैरों की मसल्‍स को मजबूत बनाता है। 
  • इसे करने से तनाव और चिंता से राहत मिलती है। 
  • यह आसन आपकी बॉडी में ब्‍लड सर्कुलेशन को बढ़ाता है और आंतरिक अंगों को डिटॉक्‍स करता है। 

आप भी अपनी अपर बॉडी को टोन करने के साथ-साथ यह सारे फायदे पाने के लिए इस योग को रोजाना कर सकती हैं। लेकिन, अगर आप पहली बार योग कर रही हैं तो हम आपको यही सलाह देंगे कि आप किसी एक्‍सपर्ट की निगरानी में ही इसे करें। फिटनेस से जुड़ी और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।  

Article & Image Credit: Malaika Arora (Instgram)