गेहूं का इस्तेमाल आमतौर पर आटे के रूप में किया जाता है। गेहूं का आटा स्वाद से भरपूर होता है और सेहत के लिए भी फायदेमंद है। लेकिन इसके साथ ही गेहूं का इस्तेमाल अन्य तरीकों से भी किया जाता है जैसे इसका दलिया और इसे अंकुरित करके खाना। आपमें से बहुत से लोग शायद ये नहीं जानते होंगे कि अंकुरित गेहूं भी सेहत के लिए उतना ही फायदेमंद है जितना इससे बानी अन्य चीज़ें। यहां तक कि अन्य अंकुरित अनाजों की तुलना में इसे अंकुरित करके खाना कहीं ज्यादा फायदेमंद है। 

शरीर की कई समस्याओं को कम करने से लेकर पेट संबंधी समस्याओं से निजात दिलाने तक में अंकुरित गेहूं फायदेमंद साबित हो सकते हैं। यही नहीं जब गेहूं को अंकुरीय किया जाता है तब इसके पोषक तत्वों में कई गुना वृद्धि हो जाती है। आइए नई दिल्ली की डॉक्टर आकांक्षा अग्रवाल (BHMS) से जानें अंकुरित गेहूं को डाइट में शामिल करने के कुछ फायदों के बारे में।

वजन नियंत्रित करे 

control weight

गेहूं को अंकुरित करके खाने से शरीर का मेटाबॉलिज्‍म  ]बढ़ता है। जिससे वजन कम करने में मदद मिलती है। जब आप ब्रेकफास्ट में अंकुरित गेहूं को शामिल करती हैं तब काफी देर तक पेट भरा हुआ महसूस करता है और आप भोजन की अति से बच जाते हैं जिससे शरीर का वजन नहीं बढ़ता है और शरीर स्वास्थ्य भी रहता है। यह शरीर में बनने वाले कई टॉक्सिन्स को बाहर निकालकर ब्लड को साफ़ करने में मदद करता है और वजन को नियंत्रित रखता है। 

इसे जरूर पढ़ें: Expert Tips: गैस की समस्या से परेशान हैं तो भूलकर भी न करें इन फूड्स का सेवन

पोषण से भरपूर 

गेहूं में पाए जाने वाले पोषक तत्वों में फाइबर प्रोटीन, कैल्शियम आदि प्रमुख हैं। खासतौर पर अंकुरित गेहूं हमारे शरीर के उपापचय का स्तर बढ़ाने के साथ-साथ शरीर विषैले पदार्थों के प्रभाव को भी कम करता है। यदि आप अपनी रोजाना की डाइट में अंकुरित गेहूं को शामिल करते हैं तो ये शरीर को  विटामिन, मिनरल्‍स, (डाइट में शामिल करें मिनरल्स)फाइबर, आदि तत्व प्रदान करके शरीर को पोषण देने में मदद करता है। 

पाचन को सुचारु बनाए 

improve digestion wheat

कमजोर पाचन वाले लोगों को अपनी डाइट में अंकुरित गेहूं जरूर शामिल करने चाहिए। फाइबर से भरपूर होने की वजह से अंकुरित गेहूं पाचन पतंत्र को सुचारु बनाए रखने में मदद करते हैं और मल त्याग की प्रक्रिया को भी आसान बनाते हैं। यह पेट साफ़ करने में मदद करता है। जिन लोगों को हर वक्‍त पाचन  संबंधी समस्‍या रहती है उनके लिये अं‍कुरित गेहूं बहुत अच्‍छा माना जाता है। हर तरह के अंकुरित अनाजों में एंटीआक्सीडेंट, विटामिन -ए, बी और विटामिन- ई पाया जाता है। इसको खाने से कैल्शियम, फॉस्फोरस, मैग्नीशियम, आयरन और जिंक की आपूर्ति होती है। 

इसे जरूर पढ़ें:Expert Tips: क्या आप जानती हैं मूंग दाल के स्प्राउट्स खाने के ये फायदे

Recommended Video


हड्डियों को मजबूत बनाए 

अंकुरित गेहूं में भरपूर मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है जो हड्डियों को मजबूती प्रदान करने में मदद करता है। कैल्शियम हड्डियों को मजबूतीप्रदान करने में मदद करता है। इसे अपनी डाइट में शामिल करने से हड्डियों की कई समस्याओं से छुटकारा पाने में मदद मिलती है।

गेहूं कैसे अंकुरित करें

sprouted wheat health benefits

  • लगभग एक कप गेहूं के बीज लें और एक कप या डेढ़ कप ठंडा पानी डालें। गेहूं के बीजों को अच्छी तरह से मिलाएं ताकि वे समान रूप से पानी में मिल जाएं। 
  • बीज को 6 से 12 घंटे के लिए भीगने के लिए छोड़ दें।
  • इसके बाद पानी निथार लें। बीजों को ठंडे पानी से सावधानी से धो लें और फिर से छान लें।
  • अंकुरित को कमरे के तापमान (लगभग 70 डिग्री) में सेट करें। इसे सीधे धूप से दूर रखना होगा।  
  • हालांकि, उन्हें छिपाएं नहीं क्योंकि अंकुर निकलने के लिए गेहूं को वायु परिसंचरण पसंद है। 
  • हर 8 से 12 घंटे में कई बार पानी से धोकर बाहर निकाल लें। 
  • इसमें अच्छी तरह अंकुर निकल आते हैं। इन्हें हल्का स्टीम करके अपनी डाइट में शामिल करें। 

इस प्रकार अंकुरित गेहूं सेहत की लिए बेहद फायदेमंद हैं और इन्हें अपनी डाइट में जरूर शामिल करें। लेकिन इनके इस्तेमाल से पहले विशेषज्ञ से सलाह जरूर लें। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik