खाने-पीने के ट्रेंड में अब काफी बदलाव आ चुका है। ट्रेडिशनल कुकिंग के साथ-साथ लोग अब इस बात का भी ध्‍यान रखते हैं कि उनकी सेहत के लिए क्‍या फायदेमंद है। इसी का नतीजा है कि आजकल ऑलिव ऑयल, जिसे जैतून का तेल भी कहा जाता है, वह फूड लवर्स के बीच चर्चा का विषय बन चुका है। 

ऑलिव ऑयल का इस्‍तेमाल आजकल खाना बनाने में काफी किया जा रहा है। खासतौर पर जो स्‍वाद के साथ सेहत का भी ध्‍यान रखते हैं, उनके लिए ऑलिव ऑयल पहली पसंद बन चुका है। इस तेल में कई औषधीय गुण भी हैं और यह सेहत को कई तरह से फायदा पहुंचा सकता है। 

मगर ऑलिव ऑयल का इस्‍तेमाल करने से पहले यह जानना भी बहुत जरूरी है कि यह कितने प्रकार का होता है और किस जगह पर किस ऑलिव ऑयल का इस्‍तेमाल करना चाहिए। सेलिब्रिटी फिटनेस ट्रेनर यासमीन कराचीवाला ने अपने इंस्‍टाग्राम अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें उन्‍होंने ऑलिव ऑयल के फायदे बताने के साथ-साथ यह भी बताया है कि ऑलिव ऑयल का इस्‍तेमाल कुकिंग में कैसे करना चाहिए। 

इसे जरूर पढ़ें:  ऑलिव ऑयल के इस्तेमाल के कुछ ऐसे तरीके जो आपने पहले नहीं सुने होंगे

ऑलिव ऑयल के लाभ 

ऑलिव ऑयल के एक नहीं अनेक लाभ हैं। मगर यासमीन कराचीवाला ने इसके 5 बड़े लाभ पर फोकस किया है- 

1. पावरफुल एंटीऑक्‍सीडेंट्स से भरपूर 

ऑलिव ऑयल में पॉलीफेनोल जैसे पावरफुल एंटीऑक्‍सीडेंट्स होते हैं, जो दिमाग की सेहत के लिए बहुत ही अच्‍छे होते हैं। अगर आप नियमित रूप से ऑलिव ऑयल को अपने खाने में शामिल करती हैं, तो आपकी याददाश्‍त मजबूत हो जाएगी। इतना ही नहीं, आपको तनाव भी कम होगा और मन शांत रहेगा।  

2. मोनोअनसैचुरेटेड फैट होते हैं 

दिल से जुड़ी बीमारी है या फिर आप इन बीमारियों से बचना चाहते हैं तो आपको ऑलिव ऑयल का ही इस्‍तेमाल करना चाहिए। इस तेल में मोनोअनसैचुरेटेड फैट होता है, जो हार्ट में कोलेस्‍ट्रॉल जमने के खतरे को कम करता है। यह ब्‍लड प्रेशर को भी नियंत्रित रखता है। 

इसे जरूर पढ़ें:  ऑलिव ऑयल असली है या नकली, इस तरह करें पहचान

olive oil benefits before bed

3. एंटी-इन्‍फ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज होती हैं 

अगर आपके शरीर में चोट लगने या किसी वजह से सूजन आ जाए तो ऑलिव तेल का इस्‍तेमाल करने पर आपकी वह सूजन कम हो जाएगी क्‍योंकि यह आइबूप्रोफेन का काम करना है। यदि आपको गठिया या हड्डयों में सूजन आने की बीमारी है तो आपको अपने आहार में ऑलिव ऑयल को जरूर शामिल करना चाहिए। 

4. वेट मैनेजमेंट में फायदेमंद 

अगर आपका वजन बढ़ रहा है और आप आपनी डाइट में बदलाव करके उसे कम करना चाहती हैं तो आपको अपनी डाइट में ऑलिव ऑयल को जरूर शामिल करना चाहिए। ऑलिव ऑयल में मौजूद एंटीऑक्‍सीडेंट्स आपके वजन को बढ़ने से रोकते हैं। बेस्‍ट बात तो यह है कि ऑलिव ऑयल का इस्‍तेमाल कर आपको स्‍वाद के साथ भी किसी तरह का परहेज नहीं करना होगा। 

5. त्‍वचा और बालों के लिए लाभ 

ऑलिव ऑयल में एंटी-इन्‍फ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज होती हैं। यदि आप इसका इस्‍तेमाल त्‍वचा पर करती हैं तो आपको कील-मुंहासों की समस्‍या में आराम मिल जाएगा। वहीं ऑलिव ऑयल से त्‍वचा की रंगत को भी निखारा जा सकता है। यह तेल एंटी एजिंग भी होता है और त्‍वचा पर पड़ रही झुर्रियों को कम करता है और त्‍वचा में कसाव लाता है। बालों की ग्रोथ और चमक बढ़ाने में भी ऑलिव ऑयल मददगार है। यदि आपको डैंड्रफ की समस्‍या है तो भी आप ऑलिव ऑयल का यूज कर सकती हैं, इससे रूसी कम हो जाती है।

olive oil benefits for breast 

ऑलिव ऑयल के प्रकार और उसका इस्‍तेमाल 

1. एक्‍सट्रा वर्जिन ऑलिव ऑयल- ऑलिव ऑयल के इस प्रकार को सबसे बेस्‍ट माना गया है। इस तेल का इस्‍तेमाल सलाद की ड्रेसिंग करने में किया जाना चाहिए।  एक्‍सट्रा वर्जिन ऑलिव ऑयल में खाना नहीं पकाना चाहिए क्‍योंकि यह तेल बहुत जल्‍दी जल जाता है। 

2. वर्जिन ऑलिव ऑयल- अगर आपको कुछ फ्राई करना है या भूनना है तो आपको वर्जिन ऑलिव ऑयल का इस्‍तेमाल करना चाहिए। आप इस तेल का इस्‍तेमाल तब नहीं कर सकती हैं, जब आपको किसी चीज को डीप फ्राई करना हो। इसके लिए आपको नॉर्मल ऑलिव ऑयल का इस्‍तेमाल करना चाहिए। 

Recommended Video

3. नॉर्मल ऑलिव ऑयल- यह रिफाइंड ऑलिव ऑयल होता है। आप नियमित रूप से इस तेल में पका हुआ भोजन खा सकती हैं। बेस्‍ट बात यह है कि अगर आपको डीप फ्राई करके कोई चीज खानी है तो उसके लिए भी नॉर्मल ऑलिव ऑयल बेस्‍ट है। इसका इस्‍तेमाल खाने के साथ आप त्‍वचा और बालों पर भी कर सकती हैं। 

आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें। साथ ही इसी तरह और भी आर्टिकल्‍स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। 

Image Credit: Freepik