हाइपोथायरायडिज्म एक ऐसी स्थिति है जिसमें शरीर पर्याप्त थायरॉइड हार्मोन नहीं बनाता है। आमतौर पर, थायरॉइड की समस्या पुरूषों से अधिक महिलाओं को प्रभावित करती है। जिसके कारण महिलाओं को कई तरह की प्रॉब्लम्स होती है। थायरॉइड हार्मोन ग्रोथ, सेल रिपेयर सहित चयापचय को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। इसलिए, जब यह हार्मोन सही तरह से काम नहीं करता है तो इससे महिलाओं को थकान, बालों के झड़ने, वजन बढ़ने, ठंड लगने आदि की समस्याएं महसूस होती हैं।

यूं तो थायरॉइड होने पर कोई खास डाइट लेने से समस्या का पूरी तरह से निवारण नहीं किया जा सकता, लेकिन फिर भी आपका आहार काफी हद तक आपकी प्रॉब्लम को मैनेज कर सकता है। ऐसे कई फूड्स होते हैं, जो आपको राहत पहुंचाते हैं, वहीं दूसरी ओर कुछ खास फूड्स का सेवन करने आपकी समस्या बढ़ सकती है। तो चलिए आज इस लेख में सेंट्रल गवर्नमेंट हॉस्पिटल के ईएसआईसी अस्पताल की डायटीशियन रितु पुरी आपको बता रही हैं कि थायरॉइड होने पर महिलाओं को क्या खाना चाहिए और क्या नहीं-

सुबह चाय को कहें ना

morning tea

अगर आप थायरॉइड पीड़ित है तो आपको सुबह-सुबह चाय या कॉफी का सेवन करने से बचना चाहिए। खासतौर से, अगर आप थायरॉइड की दवाई ले रही हैं तो उसके बाद फर्स्ट मील के रूप में चाय या कॉफी को लेने से बचें। दरअसल, जब आप अधिक मात्रा में चाय या कॉफी का सेवन करती हैं तो इससे आपके थायरॉइड ग्लैंड की फंक्शनिंग में दिक्कत आती है। जिसके कारण आपकी बॉडी का टीएसएच लेवल बढ़ सकता है। साथ ही इससे आपकी दवाई भी सही तरह से काम नहीं कर पाती है।

गोभी ना करें सेवन

eating cauliflower

ब्रोकली, कैबेज, लेटस, फूलगोभी आदि किसी भी तरह की गोभी का सेवन आपको नहीं करना चाहिए। यह आपकी सेहत पर विपरीत प्रभाव डाल सकती हैं। दरअसल, इनके अंदर गाइट्रोगन नामक एक तत्व पाया जाता है। यह आपके शरीर में थायरॉइड को ट्रिगर कर सकते हैं, जिससे आपकी बॉडी में टीएसएच लेवल बढ़ सकता है।

इसे भी पढ़ें: हेल्थ के लिए बेहद ही फायदेमंद होता है लेमनग्रास ऑयल

सोया फूड्स

soya foods

थायरॉइड के मरीजों के लिए सोया फूड्स का अधिक मात्रा में सेवन करना भी अच्छा नहीं माना जाता है। यूं तो सोया व सोया प्रॉडक्ट्स का सेवन स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छा माना गया है, लेकिन थायरॉइड के मरीज अगर इनका सेवन करते हैं तो इससे उनकी स्वास्थ्य समस्या बहुत अधिक बढ़ सकती है।

बाजरा

bajara

बाजरा में प्रोटीन, फाइबर व कार्ब्स पाया जाता है, लेकिन अगर आपको थायरॉइड(थायरॉइड से बचने के उपाय) है तो आपको इसे भी अवॉयड करना चाहिए। दरअसल, इसमें ऐसा प्रोटीन होता है, जो आपके टीएसएच लेवल को बढ़ाता है। साथ ही इसके सेवन से आपकी दवाई का प्रभाव भी काफी कम हो जाता है।

Recommended Video

हर थोड़ी देर में खाएं

eat time to time

अगर आपको थायरॉइड है तो आपको हर थोड़ी देर में कुछ ना कुछ अवश्य खाएं। दरअसल, जब आपकी बॉडी में हार्मोनल असंतुलन होता है तो थायरॉइड हो जाता है। ऐसे में बॉडी के फंक्शन को बेहतर बनाने के लिए आपको अपने मेटाबॉलिज्म को बूस्ट अप करना चाहिए। इसके लिए आप हर तीन-चार घंटे में कुछ ना कुछ अवश्य खाएं।

फाइबर व प्रोटीन रिच फूड 

अगर आपको हाइपोथायरॉइड है तो ऐसे में अपने वजन से लेकर अन्य समस्याओं को दूर करने के लिए आपको अपनी डाइट ऐसी लेनी चाहिए, जिससे आपको फाइबर व प्रोटीन पर्याप्त मात्रा में मिल सके। इसके लिए आप होल ग्रेन से लेकर दालें, फल, सब्जियां आदि को सही तरह से लें।

इसे भी पढ़ें: जानिए आपके लिए कितनी फायदेमंद है चाय में अदरक

सेलेनियम को ना करें नजरअंदाज

eating walnuts

अगर आपको थायरॉइड है तो आपको सेलेनियम को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। आप अपनी डाइट में ऐसे फूड्स को शामिल करें, जिससे आपको सेलेनियम मिले। इसलिए आप अखरोट, बादाम, हरी पत्तेदार सब्जियां आदि को अपनी डाइट का हिस्सा अवश्य बनाएं।

 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।