जब भी चाय की बात होती है हमेशा अदरक वाली चाय का जिक्र किया जाता है। कई लोगों को तो अदरक वाली चाय इतनी पसंद होती है कि वो अपनी चाय बिना उसके पी ही नहीं सकते हैं। अदरक वाली चाय को हेल्दी माना जाता है और ऐसा समझा जाता है कि इससे सर्दी और खांसी भी दूर होती है जो कुछ हद तक सही भी है, लेकिन आज हम अदरक की दूध वाली चाय की नहीं बल्कि नॉर्मल अदरक वाली हर्बल टी की बात कर रहे हैं। 

दूध को लेकर अलग-अलग डाइटीशियन की अलग धारणा होती है और कई का मानना है कि इसे उतना हेल्दी नहीं माना जाना चाहिए जितना इसे माना जाता है। दूध की एलर्जी कई लोगों को होती है जिसके बारे में उन्हें पता भी नहीं होता। पर अगर आप चाय से भी दूध हटा दें तो वो कई लोगों के लिए हेल्दी बन जाती है। 

आयुर्वेदिक डॉक्टर दीक्षा भावसार ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर अदरक वाली चाय से जुड़ी बातें शेयर की हैं। दीक्षा के अनुसार इस चाय के कई फायदे हो सकते हैं और आप इसे अपने रोज़ाना के रूटीन में शामिल कर सकते हैं।

herbal ginger tea recipe

इसे जरूर पढ़ें- अपने खाने में करें ये 4 बदलाव, आयुर्वेद के हिसाब से खाना बन जाएगा हेल्दी 

क्या हैं हर्बल जिंजर टी के फायदे?

आयुर्वेद में अदरक के फायदे बहुत माने जाते हैं और इसलिए इस इंग्रीडिएंट के साथ बनी चाय को भी अच्छा माना जा सकता है। 

  • ये आपके गले की खराश को दूर कर सकती है। 
  • ये आपको ताज़गी से भर सकती है। 
  • ये बेली फैट कम करने के लिए भी सहायक है।
  • ये आपके पेट के दर्द को भी कम कर सकती है। 
  • ये गैस से राहत देती है।
  • ये आपका डाइजेशन प्रोसेस सही कर सकती है। 
  • ये चाय इम्यूनिटी के लिए अच्छी है। 
  • ये काफी स्वादिष्ट होती है।  
 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Dr Dixa Bhavsar (@drdixa_healingsouls)

 

कैसे बनाएं अदरक और नींबू वाली हेल्दी चाय? 

डॉक्टर दीक्षा ने इस चाय की रेसिपी भी शेयर की है और यकीनन इसे बनाना बहुत आसान है जिसे आप रोज़ाना अपनी डाइट का हिस्सा बना सकते हैं।  

  • 1 इंच का अदरक का टुकड़ा या तो छोटे-छोटे पीस में काट लें या फिर उसे ग्रेट कर लें। 
  • अब 1 ग्लास पानी में इसे डालकर 5-7 मिनट तक उबलने दें।
  • इसके बाद इसे गैस से उतार लें और जब ये गुनगुना हो जाए तो इसमें थोड़ा सा नींबू का रस और शहद मिलाएं।  
  • बस इन तीन स्टेप्स में ये चाय तैयार हो जाएगी। ये चाय एक्सरसाइज से पहले पीने के लिए भी अच्छा ऑप्शन हो सकती है।  

इसे जरूर पढ़ें- 10 हफ्तों में डाइट से कैसे बढ़ाएं विटामिन-डी, एक्सपर्ट से जानें 

इस बात का हमेशा रखें ध्यान- 

ये चाय बनाना काफी आसान है, लेकिन आपको एक बात का ध्यान हमेशा रखना है कि शहद इसमें तब न मिलाएं जब ये गर्म हो वर्ना ये फायदा नहीं करेगी। आयुर्वेद में ये माना जाता है कि शहद को गर्म नहीं करना चाहिए वर्ना ये फायदा नहीं नुकसान पहुंचाता है। आप इसे रूम टेम्परेचर पर भी पी सकते हैं, लेकिन गुनगुना पीना सबसे सही साबित हो सकता है।  

Recommended Video

किन लोगों को नहीं पीनी चाहिए ये चाय? 

अदरक वैसे तो बहुत फायदेमंद होती है, लेकिन इसकी तासीर काफी गर्म होती है और ऐसे लोग जिन्हें ब्लीडिंग डिसऑर्डर हैं या फिर गर्म तासीर की चीज़ें सूट नहीं करती हैं उन्हें अदरक वाली चाय नहीं लेनी चाहिए। वो थोड़ी ठंडी हर्बल टी जैसे सौंफ, जीरे और धनिया के सीड्स से बनी हर्बल चाय पी सकते हैं। उसे बनाने का भी यही तरीका है।  

अगर आपको किसी इंग्रीडिएंट से एलर्जी है या पेट से जुड़ी कोई समस्या है तो अपने डॉक्टर की सलाह के बाद ही ऐसी चाय पिएं। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।