खिचड़ी का नाम सुनते ही लोग तरह-तरह के मुंह बनाते हैं। खासतौर से, छोटे बच्चे तो खिचड़ी ना खाने के लिए कई तरह के बहाने बनाते हैं। हालांकि, यह एक ईजी रेसिपी है, जिसे आमतौर पर लोग तब बनाते हैं, जब रोटी-सब्जी या पूरा मील बनाने का मन नहीं होता। लेकिन इसकी खासियत सिर्फ यहीं तक सीमित नहीं है, बल्कि यह एक ऐसी डिश में कई प्रोटीन सहित कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो आपके संतुलित आहार की दैनिक जरूरतों को पूरा करने में काफी हद तक मदद करते हैं।

वैसे कुछ लोगों को केवल दाल व चावल खाना अच्छा नहीं लगता। ऐसे में वह अपनी पसंद की सब्जियों को उसमें शामिल करके  ना केवल खिचड़ी का स्वाद बढ़ाते हैं, बल्कि उसे अधिक पौष्टिक भी बनाते हैं। हो सकता है कि आप अक्सर खिचड़ी खाना स्किप कर देती हों, लेकिन इस लेख को पढ़ने के बाद आप ऐसी गलती नहीं दोहराएंगी। तो चलिए आज इस लेख में सेंट्रल गवर्नमेंट हॉस्पिटल के ईएसआईसी अस्पताल की डायटीशियन रितु पुरी आपको खिचड़ी खाने के कुछ हेल्थ बेनिफिट्स के बारे में बता रही हैं-

प्रोटीन का बेहतर कॉम्बिनेशन

protien in khichdi

यह तो हम सभी जानते हैं कि प्रोटीन सेहत के लिए जरूरी है और इसलिए हम प्रोटीन रिच फूड्स का सेवन करते हैं। लेकिन हर तरह के फूड आइटम्स में प्रोटीन का हर कॉम्पोनेंट मौजूद हो, यह आवश्यक नहीं है। इस लिहाज से खिचड़ी का सेवन करना सेहत के लिए लाभकारी है, क्योंकि चावल और दाल मिलकर प्रोटीन का बेहतर कॉम्बिनेशन बनाते हैं। यूं तो दाल में प्रोटीन काफी मात्रा में पाया जाता है, लेकिन इसमें लाइसीन नाम का प्रोटीन कॉम्पोनेंट कम होता है। वहीं, दूसरी ओर चावलों में सल्फर बेस्ड प्रोटीन की कमी होती है। लेकिन यह दालों में होती है। इस तरह, यह दोनों एक-दूसरे के पूरक बनते हैं और इससे आपको प्रोटीन के वह सभी काम्ॅपोनेंट मिलते हैं, जो आपकी बॉडी के लिए जरूरी है।

मांसपेशियों के विकास में सहायक

आमतौर पर, लोग मानते हैं कि बीमार व्यक्ति को खिचड़ी खानी चाहिए, लेकिन एक स्वस्थ व्यक्ति के लिए भी खिचड़ी उतनी ही आवश्यक है। यह आपके मसल्स को ग्रो करने में सहायक होती है, क्योंकि  इसमें प्रोटीन के लगभग सभी कॉम्पोनेंट मौजूद होते हैं और इस तरह पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन आपकी मांसपेशियों पर सकारात्मक प्रभाव डालता है।

विटामिन्स और मिनरल्स से भरपूर

dt ritu

खिचड़ी खाने का एक लाभ यह भी है कि इसके सेवन से आपको भरपूर मात्रा में विटामिन्स व मिनरल्स मिलते हैं। अगर आप इसे सप्ताह में एक बार भी खाती हैं, तो आपको पोटैशियम, मैग्नीशियम व फास्फोरस सहित कई पोषक तत्व मिलते हैं। इसके अलावा, जब आपको विभिन्न पोषक तत्व मिलते हैं तो इससे इम्युनिटी को बूस्ट अप करने में भी मदद मिलती है। 

इसे ज़रूर पढ़ें- बच्चों के लिए बेहद नुकसानदायक हैं यह ड्रिंक्स, बिल्कुल भी पीने ना दें

संतुलित आहार की जरूरतों को करे पूरा

आमतौर पर संतुलित आहार लेने के लिए लोग दाल, सब्जी, रोटी व चावल अलग-अलग बनाते हैं। इसमें उनका काफी सारा समय यूं ही चला जाता है। लेकिन अगर आपके पास इतना समय नहीं होता कि आप कुकिंग को अलग से समय दे पाएं तो ऐसे में खिचड़ी बनाना यकीनन एक अच्छा आईडिया है, क्योंकि यह कार्ब्स से लेकर प्रोटीन व मैक्रो न्यूट्रिएंट्स की जरूरतों को पूरा करता है। इस तरह इसे एक कंप्लीट मील के रूप में देखा जा सकता है। आप चाहें तो इसे न्यूट्रिशन वैल्यू बढ़ाने के लिए इसमें कुछ सब्जियां भी मिला सकती हैं।

Recommended Video

पचाने में आसान

healthy stamach

यह भी खिचड़ी खाने का एक बेहतरीन लाभ है। भले ही खिचड़ी एक कंप्लीट मील है लेकिन यह पचाने में बेहद आसान होता है। इसलिए, अगर आप बीमार है तो भी खिचड़ी को अपनी डाइट का हिस्सा बना सकते हैं। यह आपके गट पर अधिक दबाव नहीं डालेगा और आपको आसानी से सभी पोषक तत्व प्राप्त हो जाएंगे।

इसे ज़रूर पढ़ें- मेटाबॉलिज्म को बूस्ट अप करने के लिए इन फूड आइटम्स को करें डाइट में शामिल

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- (@Freepik and google)