अमूमन महिलाएं खुद को हेल्दी व फिट रखने के लिए डाइटिंग का सहारा लेती हैं। इतना ही नहीं, जिन महिलाओं का वजन अधिक होता है, वह भी अपने वेट को मैनेज करने के लिए अक्सर डाइटिंग की राह चुनती हैं। लेकिन आपने अक्सर नोटिस किया होगा कि जब भी आप डाइटिंग पर होती हैं, तो आपकी फूड क्रेविंग्स कई गुना बढ़ जाती है और यह क्रेविंग्स केवल मीठे तक ही सीमित नहीं होती, बल्कि आपको उन सभी चीजों को खाने की क्रेविंग्स होती है, जो आपकी फेवरिट हैं या फिर आप जिन फूड्स को खाने की आदी हैं, लेकिन अब उन्हें आपकी डाइट से बाहर रखा गया है।

ऐसे में समझ नहीं आता कि इन फूड क्रेविंग्स से बचने के लिए क्या किया जाए। आप एक बार खुद को रोक सकती हैं, लेकिन बार-बार इन क्रेविंग्स से बचने के लिए आपको कुछ हैक्स की मदद लेने की जरूरत होगी। तो चलिए आज हम आपको कुछ ऐसे ही हैक्स के बारे में बता रहे हैं, जो डाइटिंग पर रहते हुए आपको फूड क्रेविंग्स से बचाने में मददगार हैं-

चबाएं च्युइंग गम 

sugarless

यह एक बेहद ही ईजी लेकिन कारगर हैक है। अगर आप डाइट पर हैं और आपको कुछ जंक फूड या मीठा खाने का मन हो रहा है तो ऐसे में आप खुद को बिजी रखने के लिए च्युइंग गम चबाएं। इससे आपका मुंह तो बिजी होगा ही, साथ ही साथ इससे आपको शुगर और सॉल्ट दोनों की ही क्रेविंग कम होगी। हालांकि, इस बात का भी ध्यान रखें कि आप हरदम च्युइंग गम ना चबाती रहें। बल्कि जब भी आपको क्रेविंग्स हों, तभी इसे चबाएं। डाइटिंग पर रहते हुए आप शुगरलेस च्युइंग गम को चबा सकती हैं।

बढ़ाएं पानी की मात्रा

water glass

यह भी एक बेहद ईजी हैक है, जो क्रेविंग को कम करने में मददगार है। बहुत से लोग अपनी बॉडी की प्यास को अक्सर भूख समझने की गलती कर बैठते हैं और फिर उन्हें क्रेविंग होती है। इसलिए, हाइड्रेटेड रहकर क्रेविंग को कम किया जा सकता है। भोजन से पहले पानी पीने से भूख कम हो सकती है और वजन घटाने में भी मदद मिल सकती है। अगर आप अपना वाटर इनटेक बढ़ाती हैं तो इससे फूड क्रेविंग भी कम होती है।

इसे ज़रूर पढ़ें-Expert Tips: क्या आप जानती हैं सोने से पहले गर्म पानी पीने के फायदे

स्ट्रेस को करें मैनेज

stress

तनाव, उदासी और ऊब सहित कुछ भावनाएं भी फूड क्रेविंग्स को बढ़ा सकती हैं। वास्तव में, तनाव कोर्टिसोल के स्तर को बढ़ाता है, यह एक हार्मोन जो आपको वजन बढ़ा सकता है। अक्सर तनाव में होने पर या फिर उदास होने पर हमें कुछ अच्छा खाने का मन करता है। इसलिए अपने तनाव के स्तर को कम करने की पूरी कोशिश करें। आप क्रेविंग से बचने के लिए थोड़ा टहल सकते हैं, तनाव कम करने के लिए ब्रीदिंग एक्सरसाइज कर सकती हैं। आप ऐसी कोई एक्टिविटी करने का प्रयास करें, जो तनाव को मैनेज करने में आपकी मदद करे।

Recommended Video

क्रैश डाइट को कहें नो

अमूमन देखने में आता है कि महिलाएं अपना वजन तेजी से कम करने के लिए क्रैश डाइटिंग करना शुरू कर देते हैं। हालांकि, क्रैश डाइटिंग करना कभी भी अच्छा आईडिया नहीं माना जाता है। आप अपने आप को भूखा न रखें, क्योंकि इससे शुगर क्रेविंग बढ़ जाती है। जिसके कारण आपका वजन कम होने की जगह बढ़ने लगता है। इसलिए, फूड क्रेविंग्स को कम करने के लिए समय पर भोजन करना बहुत महत्वपूर्ण है, हालांकि अगर आपको कुछ मीठा खाने की इच्छा है तो अपना मन मारने की जगह नेचुरल शुगर फूड्स जैसे केला, सेब या अंगूर का सेवन करें। इस तरह, आपकी क्रेविंग आसानी से शांत हो जाएगी।

इसे ज़रूर पढ़ें-विटामिन ए की कमी से महिलाओं को हो सकती हैं यह समस्याएं, जान लीजिए

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- (@Freepik)