अगर आप थका हुआ महसूस कर रही हैं?
और रोजमर्रा के साधारण कामों से भी आपकी एनर्जी खत्‍म हो जाती हैं?
तो यह सही समय है कि अपनी एनर्जी को फिर से हासिल और अपनी हेल्‍थ में सुधार करने का।
जी हां आज हम आपको ऐसे ड्रिंक के बारे रहे हैं जो आपको 100 से अधिक हेल्‍थ बेनिफिट्स देता है और उनमें से एक आपको फिर से जवां महसूस करवाना भी है। इसके अलावा यह कई तरह की बीमारियों के इलाज और रोकथाम में भी प्रभावी होता है। इस जादुई ड्रिंक को "गोल्डन मिल्क" कहा जाता है, और यह हल्दी बेस ड्रिंक है।
हल्‍दी बहुत ही हेल्‍दी होती हे जो ब्रेन के फंग्‍शन में सुधार, ब्लड प्रेशर को कंट्रोल, त्‍वचा की स्थिति से छुटकारा, इम्‍यून सिस्‍टम को मजबूत, लीवर को साफ, कोलेस्‍ट्रॉल को कम, डायजेशन सिस्‍टम में सुधार, वेट को कंट्रोल ओर मेटा‍बॉलिज्‍म को बैलेंस करने में हेल्‍प करता है। हल्दी के एक नकारात्मक हिस्से में बहुत कम जैव उपलब्धता है, और प्रभावी होने के लिए, इसे काली मिर्च के साथ जोड़ा जाना चाहिए।

golden drink health inside

गोल्‍डन ड्रिंक बनाने का तरीका

सबसे पहले आपको हल्दी पेस्ट तैयार करना होगा, जिसका उपयोग "गोल्डन मिल्क" तैयार करने में किया जाएगा।

सामग्री:

  • कुट्टी हुई काली मिर्च- ½ चम्मच;
  • फ़िल्टर पानी- ½ कप
  • पाउडर हल्दी -¼ कप

Read more: आपको यंग लुक देने में किस तरह मदद करता है विटामिन K,जानें

तैयारी:

  • इन सभी चीजों को एक बर्तन में लेकर मीडियम आंच पर पकाएं।
  • जब तक मिश्रण स्‍मूथ ना हो जाए तब तक इसे हिलाते रहे।
  • जब हो जाए, तो पेस्‍ट को ठंडा होने के लिए रख दें।
  • और इसे रेफ्रिजरेटर में स्टोर करें।
  • जब यह पूरी तरह से बन जाए तो दूध तैयार करने के लिए इस पेस्‍ट का इस्‍तेमाल करें।

सामग्री:

  • हल्दी पेस्ट- ¼ चम्मच
  • शहद- 1 बड़ा चम्‍मच
  • दूध- 1 कप

तैयारी:

  • थोड़े से हल्दी पेस्ट को 1 कप दूध में मिलाकर थोड़ी देर मीडियम आंच पर पकाए।
  • जब यह अच्‍छे से पक जाए तो इसे गैस से नीचे उतार लें।
  • फिर इसे थोड़ा ठंडा होने दें।
  • मीठे स्वाद के लिए इसमें शहद मिलाए।

यह आपको जवां दिखाने के साथ-साथ बहुत सारी हेल्‍थ से जुड़ी परेशानियां को भी दूर करता है। यहां कुछ अहम परेशानियों के बारे में बताया गया है।

karishma kapoor fitness inside

हडि्डयों के लिए फायदेमंद

हड्डियों के लिए गोल्‍डन मिल्‍क बहुत फायदेमंद होता है। यह बात तो मैं भी जानती हूं क्‍योंकि मैं अपनी हड्डियों में होने वाले दर्द से बचने के लिए रोजाना इस गोल्‍डन मिल्‍क को लेती हूं। जी हां रोजाना हल्दी वाला दूध लेने से बॉडी को पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम मिलता है। हड्डियां हेल्‍दी और मजबूत होती है। यह ऑस्टियोपोरेसिस के मरीजों को राहत पहुंचाता है। साथ ही हल्दी वाले दूध को अर्थराइटिस के निदान और रुमेटॉइड अर्थराइटिस के कारण सूजन के उपचार के लिए उपयोग किया जाता है। यह जोड़ों और मसल्‍स को लचीला बनाकर दर्द को कम करने में भी सहायक होता है।

सर्दी-खांसी से रखे दूर

गोल्‍डन मिल्‍क के एंटीबायोटिक गुण के कारण सर्दी-खांसी में ये एक कारगर दवा का काम करता है। हल्‍दी एंटीबायोटिक्स बॉडी के फ्री रेडिकल लड़ने वाले एंटी-ऑक्सीडेंट का बेहतरीन स्रोत हैं। यही वजह है कि दूध में हल्‍दी मिलाकर पीने से बदलते मौसम में होने वाली सर्दी-खांसी, गले की खिचखिच और सीज़नल बुखार से छुटकारा मिल जाता है।

ब्लड सर्कुलेशन ठीक करता है

आयुर्वेद के अनुसार, हल्दी को ब्लड प्यूरिफायर माना गया है। यह बॉडी में ब्लड सर्कुलेशन को मजबूत बनाता है। यह ब्‍लड को पतला करने वाला और लिम्फ तंत्र और ब्‍लड वेसल्‍स की गंदगी को साफ करने वाला होता है।

karishma kapoor fitness

वजन करें कम

ऐसा माना जाता है कि गोल्‍डन मिल्‍क में मौजूद कैल्शियम और दूसरे मिनरल्स बॉडी में मौजूद फैट को कम करते हैं। इस वजह से हल्दी वाला दूध पीने से बॉडी का वजन कम होता है। रोजाना एक गिलास दूध में थोड़ी सी मात्रा में हल्दी मिलाकर लेने से शरीर सुडौल हो जाता है। दरअसल गुनगुने दूध के साथ हल्दी के सेवन से बॉडी में जमा फैट्स घटता है।

पीरियड्स पेन को दूर करें

गोल्‍डन मिल्‍क पीरियड्स में होने वाले दर्द में राहत देता है। इसे डिलीवरी के बाद औरतों को जल्दी रिकवरी के लिए भी दिया जाता है। इसका एक और फायदा ये भी होता है कि डिलीवरी के बाद इससे ब्रेस्ट मिल्क भी बढ़ता है। 

चेहरा चमकाने में मददगार

रोजाना गोल्‍डन मिल्‍क पीने से कुछ ही दिनों में चेहरा चमकने लगता है। इसके अलावा कॉटन बॉल को हल्दी वाले दूध में भिगोकर इस दूध को चेहरे पर लगाएं। इससे त्वचा की लाली और चकत्ते कम होंगे। साथ ही, चेहरे पर निखार और चमक आएगी।
तो देर किस बात कि 10 साल जवां रहने और खुद को हेल्‍दी रखने के लिए इस गोल्‍डन मिल्‍क को आज ही अपनी डाइट में शामिल करें।