मेथी एक बहुत लोकप्रिय किचन के मसाले और औषधि के रूप में बेहद उपयोगी सामग्री है। दुनिया भर में इसकी खेती की जाती है और यह पूरे साल बाजार में आसानी से उपलब्ध रहती है। खासतौर पर मेथी के दानों का इस्तेमाल कई रोगों से लगने के लिए औषधि तैयार करने के लिए किया जाता है। 

यूं कहा जाए कि मधुमेह नियंत्रित करने और वजन कम करने में इसके बीजों का इस्तेमाल बहुतायत में किया जाता है और ये प्रभावी रूप से काम भी करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कई रोगों को ठीक करने वाले मेथी के दानों का जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल नुकसानदेह भी साबित हो सकता है। यानी कि इसके ज्यादा इस्तेमाल से शरीर को कुछ स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याएं भी ही सकती हैं। आइए फैट टू स्लिम ग्रुप की सेलिब्रिटी इंटरनेशनल डाइटीशियन और न्यूट्रिशनिष्ट शिखा ए शर्मा से जानें कैसे मेथी के दाने हमारी सेहत को नुकसान भी पहुंचा सकती है। 

मेथी दाने पेट की खराबी का कारण 

methi seeds effects

मेथी के दानों को भिगोकर खाना वैसे सेहत के लिए फायदेमंद माना जाता है। लेकिन इसका जरूरत से ज्यादा सेवन पेट की समस्याओं का कारण भी बन सकता है। इसमें मौजूद पोषक तत्व पेट साफ़ करने में मदद करते हैं। लेकिन यदि इनका सेवन ज्यादा मात्रा में किया जाए तो ये दस्त, उल्टी और चक्कर जैसी समस्याओं को भी जन्म दे सकती है। मेथी दस्त, चक्कर आना (चक्कर आना हो सकता है बीमारियों का संकेत ) और गैस जैसे कई दुष्प्रभावों को ट्रिगर कर सकती है। 

मेथी दानों से रक्त शर्करा में कमी

lower blood sugar

आमतौर पर मधुमेह रोगियों को मेथी दानों का सेवन करने की सलाह दी जाती है। जिससे रक्त शर्करा को नियंत्रित किया जा सके। लेकिन जिन लोगों का शर्करा लेवल पहले से ही नियंत्रित है उनके लिए मेथी की बड़ी खुराक के उपयोग से रक्त शर्करा के स्तर में कमी आ सकती है। इसलिए मधुमेह की दवा के साथ भी मेथी का सेवन भी शरीर में हानिकारक प्रभाव डाल सकता है। 

इसे जरूर पढ़ें:बालों और त्‍वचा को सुंदर बनाता है मेथीदाना, यूं करें इस्‍तेमाल

मेथी पोटेशियम के स्तर को कम करती है 

low blood pressure

मेथी दाने पोटेशियम के स्तर को कम करते हैं। इसलिए पोटेशियम के स्तर को कम करने वाली दवाएं लेने वाले लोग, जैसे कि कुछ मूत्रवर्धक, और अंतर्निहित हृदय रोग वाले लोगों को मेथी की अधिक खुराक से बचना चाहिए। निम्न रक्तचाप से पीड़ित रोगियों के लिए मेथी के सेवन की सलाह नहीं दी जाती है। इसके अधिक सेवन से ब्लड प्रेशर बहुत कम हो सकता है जो चक्कर का कारण भी बन सकता है। 

Recommended Video

गर्भवस्था में मेथी का सेवन हो सकता है नुकसानदेह 

वैसे मेथी दानों के प्रेग्नेंसी में ज्यादा साइड इफेक्ट्स नहीं होते हैं। लेकिन इसका जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल करने से गर्भवती महिलाओं में, यह बच्चे में विकृति और कभी-कभी शुरुआती संकुचन पैदा कर सकता है। इसलिए गर्भवती महिलाऐं  मेथी दानों के इस्तेमाल से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें। 

मेथी दानों से अन्य समस्याएं 

consuming methi seeds headache

संवेदनशील लोगों के लिए मेथी के दानों का अधिक इस्तेमाल सिर में दर्द, नाक बंद होने, चेहरे पर सूजन, खांसी, गले में घरघराहट और कुछ गंभीर एलर्जी होने का कारण भी बन सकता है। 

इसे जरूर पढ़ें:Expert Advice: जानें मेथी की पत्तियों के सेहत से जुड़े कुछ अद्भुत फायदे

वैसे मेथी के दानों का एक लिमिट में इस्तेमाल आपकी सेहत को नुकसान नहीं पहुंचाता है. लेकिन इसके ज्यादा इस्तेमाल से पहले विशेषज्ञ की सलाह लेनी जरूर है जससे स्वास्थ्य सम्बन्धी कोई समस्या न हो सके। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:freepik