सूखे बेर के फल, जिसे वैज्ञानिक रूप से ज़िज़िफस जुजुबा के रूप में जाना जाता है, खजूर और अंजीर के समान ही बेहद फायदेमंद हैं। जहां एक तरफ ताजे बेर फल को आहार में शामिल करने से कई तरह के स्वास्थ्य लाभ होते हैं वहीं सूखे फल कई अन्य ड्राई फ्रूट्स के समान ही स्वास्थ्य लाभ प्रदान करते हैं। पाचन में सुधार करने से लेकर वजन कम करने तक इन फलों को कई तरह से उपयोगी रूप में देखा जा सकता है।

बेर फल की उत्पत्ति मुख्य रूप से चीन में हुई थी और इसे पारंपरिक चिकित्सा के रूप में कई तरीकों से इस्तेमाल में लाया जाता है । एक समय में बड़े पैमाने पर चीन तक ही सीमित यह फल अब दुनिया के कई क्षेत्रों में बहुतायत में बढ़ता है और लोगों की डाइट का हिस्सा है। आइए नई दिल्ली की जानी मानी डॉक्टर आकांक्षा अग्रवाल (BHMS) से जानें सूखे बेर के कुछ स्वास्थ्य लाभों के बारे में और उन्हें किस तरह से अपने आहार में शामिल करना लाभदायक है। हैं।

विभिन्न पोषक तत्वों से भरपूर

full of nutreants

सूखे बेर के फलों में कई विटामिन और खनिजों की मात्रा बहुतायत में होती है, लेकिन विशेष रूप से ये फल विटामिन- सी से भरपूर होते हैं, यह एक महत्वपूर्ण विटामिन जिसमें एंटीऑक्सिडेंट और प्रतिरक्षा-बढ़ाने वाले गुण होते हैं। इस फल को अपने आहार में शामिल करने से कई बीमारियों का खतरा कम होने के साथ शरीर को बीमारियों से लड़ने में भी मदद मिलती है। सूखे बेर के फलों में उचित मात्रा में पोटेशियम भी मौजूद होता है, जो मांसपेशियों के नियंत्रण और शरीर में इलेक्ट्रोलाइट संतुलन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसके अलावा सूखे बेर के फलों में प्राकृतिक शर्करा के रूप में कार्ब्स होते हैं, जो आपके शरीर को ऊर्जा प्रदान करते हैं। लेकिन यदि आप मधुमेह की बीमारी से पीड़ित हैं तो इन फलों का सेवन करने से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

इसे जरूर पढ़ें:इन लोगों के लिए नींबू का सेवन नहीं माना जाता अच्छा, कहीं लिस्ट में आप भी तो नहीं

नींद और मस्तिष्क के कार्य में सुधार करते हैं

नींद की गुणवत्ता और मस्तिष्क के कार्य में सुधार के लिए वैकल्पिक चिकित्सा में सूखे बेर के फलों का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। एक शोध से पता चलता है कि इन प्रभावों के लिए उनके अद्वितीय एंटीऑक्सीडेंट तत्व जिम्मेदार हो सकते हैं। ये तत्व किसी भी  व्यक्ति को अच्छी नींद की तरफ प्रेरित करते हैं।

वजन नियंत्रण में सहायक सूखे बेर के फल

weight loss benefits

सूखे बेर के फल फाइबर से भरपूर होते हैं। इसलिए जब हम इन फलों का सेवन ज्यादा मात्रा में करते हैं तो ये शरीर को इंस्टेंट एनर्जी तो देते हैं लेकिन इन्हें खाने के बाद काफी देर तक पेट भरा हुआ महसूस होता है और कुछ अन्य खाद्य सामग्री खाने की इच्छा नहीं होती है। इस तरह शरीर भोजन की अति से बच जाता है और वजन नियंत्रित रहता है। यदि आप वजन कम करने के बारे में सोच रही हैं तो किसी भी भोजन के कम से कम एक घंटे पहले इन फलों का सेवन ज्यादा मात्रा में करें जिससे आप भोजन की अति से बच सकें।  

इसे जरूर पढ़ें:विटामिन ए की कमी से महिलाओं को हो सकती हैं यह समस्याएं, जान लीजिए

Recommended Video

कैंसर रोधी गुणों से भरपूर

एक रिसर्च के अनुसार सूखे बेर के पानी के अर्क से ट्यूमर कोशिकाओं के प्रसार को कम किया जा सकता है। हालांकि इसे कैंसर की औषधि के रूप में नहीं देखा जा सकता है लेकिन इसका इस्तेमाल कैंसर कोशिकाओं को बढ़ने से रोकने के लिए किया जा सकता है और इसे डाइट में शामिल करके कैंसर की बीमारी के खरते को कम किया जा सकता है।

पाचन में सुधार करते हैं सूखे बेर

helps in digestion

बेर के सूखे फल ज्यादा मात्रा में फाइबर से भरपूर होते हैं। इन फलों को अपनी डाइट में शामिल करने से कई तरह की पाचन समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है। इन सूखे फलों को उबालकर खाने से या इनका पानी पीने से पेट संबंधी कई समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है। इन फलों का सेवन शरीर में जमा अपशिष्टों को बाहर निकालने में मदद तो करता ही है साथ ही, ये मल त्याग की प्रक्रिया को आसान बनाता है जिससे पेट साफ़ रहता है और शरीर में स्फूर्ति बनी रहती है।

इन सभी स्वास्थ्य लाभों को ध्यान में रखते हुए आपको सूखे बेर के फलों को अपनी डाइट का हिस्सा जरूर बनाना चाहिए लेकिन यदि आपको कोई अन्य स्वास्थ्य समस्या है तो इसके सेवन से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik