गर्भवती महिलाओं को अक्सर डाइट का खास ख्याल रखने की सलाह दी जाती है। प्रेग्नेंसी एक ऐसा स्टेज है, जहां महिलाओं में तरह-तरह के बदलाव देखने को मिलते हैं। वहीं कई सूक्ष्म पोषक तत्व जैसे विटामिन सी, बीटा कैरोटीन, एंथोकायनिन, विटामिन ई, सेलेनियम और जस्ता एंटी-ऑक्सीडेंट के रूप में कार्य करते हैं। हेल्दी प्रेग्नेंसी के लिए एंटीऑक्सीडेंट बहुत जरूरी है, यह गर्भावस्ता के दौरान होने वाले रिस्क को कम करता है।

इन दिनों ज्यादातर महिलाओं में पौष्टिक आहार की कमी देखने को मिलती है। जिसकी वजह से प्रेग्नेंसी के दिनों में मां और बच्चे दोनों अस्वस्थ रहते हैं। इसलिए हेल्दी प्रेग्नेंसी के लिए एंटी-ऑक्सीडेंट युक्त आहार का सेवन करना चाहिए। आज हम बात करेंगे उन खाद्य पदार्थों के बारे में जो एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं।

प्याज

onion benefits

प्याज में फ्लेवोनोइड्स, एस्कॉर्बिक एसिड, फिनोल और एंथोसायनिन जैसे कई मुख्य एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। लाल प्याज में व्हाइट प्याज की तुलना में अधिक फ्री रैडिकल होते हैं। डाइट में इसे शामिल करने से गर्भावस्था और स्तनपान दोनों में मदद मिलती हैं। सब्जी में प्याज का इस्तेमाल करने के अलावा आप इसे सलाद के रूप में भी खा सकती हैं।

ब्लैक बीन्स

black beans

ब्लैक बीन्स पॉलीफेनोल में उच्च होते हैं, जो एंटीऑक्सीडेंट के प्रभाव को बढ़ाते हैं। पॉलीफेनोल्स इंफ्लामेशन और ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करने में मदद करते हैं जिससे गर्भ में पल रहे बच्चे के विकास में मदद मिलती थी। ब्लैक बीन्स के अलावा कई अन्य दालें होती हैं, जो पोषण से भरपूर होती हैं।

सेब

apple

हेल्दी डाइट में सेब को जरूर शामिल किया जाना चाहिए। इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट की मात्रा बहुत अधिक होती है। इस महत्वपूर्ण फल में फाइटोकेमिकल्स होते हैं तो गर्भ में पल रहे शिशु के जन्म के समय होने वाले रिस्क को कम करते हैं। प्रेग्नेंसी के अलावा अन्य दिनों में भी सेब जरूर खाना चाहिए।

चुकंदर

beetroot diet

हेल्दी डाइट और हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए चुकंदर खाने की सलाह दी जाती है। चुकंदर एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर है, जिसमें विटामिन सी, बीटालेंस और फ्लेनोनोइड से भरा होता है, जो शरीर को ऑक्सीडेटिव तनाव से होने वाले प्रभावों से बचाता है। रिसर्च के मुताबिक चुकंदर में अन्य फलों और सब्जियों की तुलना में अधिक एंटी-ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं।

इसे भी पढ़ें: पीर‍ियड आते हैं अनियमित तो पिएं सोआ के पत्तों का जूस, जानें इसके फायदे और स्टोर करने की तरीका

शहद

honey benefits

शहद में एंटी बैक्टीरियल गुण होने के अलावा यह एंटी-ऑक्सीडेंट से समृद्ध होता हैं। शहद में कुल फेनोलिक एसिड, विटामिन सी, फ्लेवोनोइड्स, केटेस और विटामिन ई सभी एंटीऑक्सीडेंट के रूप में काम करते हैं। शहद में 150 से अधिक फेनोलिक कम्पाउंड होते हैं।

Recommended Video

अंगूर

grapes

अंगूर और उसके बीजों में ज्यादातर एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। इसमें पॉलीफेनोल, रेस्वेराट्रोल, एंथोसायनिन, प्रोसीएनिडिन और कैटेचिन जैसे गुण होते हैं जो एंटी-ऑक्सीडेंट के रूप में काम करते हैं। अलग-अलग तरीके के अंगूर में डिफ्रेंट अमाउंट में एटी-ऑक्सीडेंट होते हैं, जो सेहत के लिए काफी फायदेमंद माने जाते हैं।

इसे भी पढ़ें: अंडे को इन चीजों के साथ मिलाकर करें सेवन, तेजी से घटेगा आपाका वजन

ग्रीन टी

green tea advantage

प्रेग्नेंसी में चाय की जगह ग्रीन टी पीने की आदत डालें। कैटेचिन ग्रीन टी में पाया जाने वाला नेचुरल एंटी-ऑक्सीडेंट होता है, जो काफी फायदेमंद माना जाता है। इसके अलावा ऑक्सीडेटिव की वजह से होने वाले प्रभाव को कम करने के लिए ग्रीन टी में मौजूद पॉलीफेनोल्स काफी मदद करता है। प्रेग्नेंसी में बढ़ते वजन को यह रोकता है और गर्भ में पल रहे शिशु के विकास में मदद करता है।

वहीं अगर इन फल और सब्जियों का सेवन करने से आपको किसी तरह की परेशानी होती है तो डॉक्टर से जरूर परामर्श लें। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।