अगर कभी आपको मधुमक्खी काट लें तो आप क्‍या करती हैं?
या आपको रातों में नींद ना आएं तो?
या आप पिग्‍मेंटेशन को लेकर परेशान हैं?
या गर्मी के दौरान नाक से निकलने वाले ब्‍लड ने आपको परेशान कर रखा है।
कुछ समझ में नहीं आ रहा तो परेशान ना हो क्‍योंकि इन सभी समस्‍याओं से छुटकारा पाने में प्‍याज का रस आपकी हेल्‍प कर सकता है।
जी हां मधुमक्‍खी के काटने पर तुरंत राहत के लिए प्‍याज का रस लगा लें। अच्‍छी नींद के लिए प्‍याज का रस पी लें, पिग्‍मेंटेशन से बचने और ग्‍लोइंग स्किन के लिए प्‍याज के रस में हल्‍दी मिलाकर लगा लें और नाक से ब्‍लड आने पर प्‍याज काटकर इसे सूंघ लें। यहां तक कि प्‍याज का रस आपके बालों को बढ़ाने में भी हेल्‍प करता है।
प्‍याज आपको आंसू देता है, लेकिन आंसुओं पर कभी ध्‍यान ना दें क्‍योंकि प्‍याज कई तरह की बीमारियों को दूर करने में आपकी हेल्‍प करता है। प्राचीन काल से ही प्याज एक महत्वपूर्ण घटक रहा है जो खाने में स्‍वाद बढ़ाने के साथ-साथ कई तरह की बीमारियों से भी बचाता है। प्याज में फिनोलिक्स और फ्लैवोनोइड्स होते हैं जिनमें शक्तिशाली एंटी-कार्सिनोजेनिक, एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-कोलेस्ट्रॉल गुण होते हैं।
इनके प्रभावशाली पौष्टिक मूल्यों के कारण, यह बुखार से बचाने, बालों के झड़ने से रोकने, इनफर्टिलिटी आदि के लिए इस्‍तेमाल किया जाता है। इसलिए, सुबह खाली पेट प्याज का रस पीना सबसे अच्छा होता है। अगर आपको जलन हो रही है, तो प्‍याज के रस में थोड़ा सा शहद मिला लें। याद रखें कि कम से कम एक घंटे तक कुछ भी नहीं खाएं या पीएं।

Read more: प्‍याज वाली चाय पिएं और रहें इन गंभीर बीमारियों से दूर

प्याज के रस का पोषण मूल्य

प्याज के रस में विटामिन सी, बी 6 और फोलिक एसिड होता है और इसमें कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन, क्रोमियम और फास्फोरस भी भरपूर मात्रा में होता है। प्याज में मौजूद सल्फर की ट्रेस मात्रा को एंटी-कैंसरजन्य गुण माना जाता है। क्रोमियम ब्‍लड शुगर लेवल को कम करने में हेल्‍प करता है। एनीमिक महिलाओं को भी इसे लेने की सिफारिश की जाती है। आइए प्‍याज के रस से होने वाले फायदों के बारे में जानते हैं।

डायजेशन में सुधार
good for digestion inside

प्‍याज के रस से इंसुलिन की एक अच्‍छी आपूर्ति मिलती है- एक डायटरी फाइबर आंतों में मौजूद हेल्‍दी बैक्‍टीरिया के लिए अच्‍छा डाइट स्रोत है। इंसुलिन एक हेल्‍दी बाउल मूवमेंट को बढ़ावा देने और हेल्‍दी बैक्‍टीरिया को एक सेफ लेवल पर रखता है जिससे डायजेशन बढ़ जाता है।

एलर्जी के खिलाफ सुरक्षा

प्‍याज में मौजूद नेचुरलएंटीहिस्टामाइन क्वेरसेटिन अस्थमा और एलर्जी को रोकता है। प्याज से क्‍वेरसेटिन आसानी से आंत के माध्यम से अवशोषित किया जाता है और अन्य फूड से प्राप्त क्‍वेरसेटिन की तुलना में सर्कुलेशन में लंबे समय तक रहता है।

स्किन प्रॉब्‍लम्‍स के लिए अच्‍छा
glowing skin health inside

प्‍याज का रस टिश्‍यु लेयर के अंदर ब्‍लड सर्कुलेशन में हेल्‍प करता है। प्‍याज का रस, फोड़े, चोट, घावों और कान में दर्द के लिए पुल्टिस के रूप में प्रयोग किया जाता है। इसके अलावा शहद के साथ प्‍याज के रस को मिक्‍स करके लगाने से फ्रीकल्‍स और पिग्‍मेंट को हटाने के लिए कॉस्‍मेटिक के रूप में इस्‍तेमाल किया जा सकता है।

कोल्‍ड और सांसों से जुड़ी समस्‍याओं का रामबाण

जी हां प्‍याज का रस कोल्‍ड और सांसों से जुड़ी समस्‍याओं का रामबाण इलाज है। प्‍याज में मौजूद वोलेटाइल ऑयल म्‍यूकस को दूर करने में हेल्‍प करता है। वर्षों से खांसी, ब्रोंकाइटिस, कंजेशन, और मेटाबॉलिज्‍म इंफेक्‍शन को ठीक करने के लिए इसका इस्तेमाल किया जा रहा है। कोल्‍ड से लड़ने के लिए कच्चे प्याज खाने की सिफारिश की जाती है।

ग्लूकोज लेवल को कम करें
daibetes health inside

प्‍याज के रस को रेगुलर लेने से ब्‍लड शुगर के लेवल को कम करने में हेल्‍प मिलती है। क्‍लीनिकल स्टडी से पता चला है कि aldohexose के लेवल को कम करने के लिए एलिल प्रोपिल डाइसल्‍फाइड जिम्‍मेदार होता है। प्‍याज में मौजूद क्रोमियम की ट्रेस मात्रा से ग्‍लूकोज सहिष्णुता में भी सुधार होता है और फास्टिंग शुगर लेवल कम हो जाता है।

बोन हेल्‍थ को बनाए रखें

हेल्‍दी बोन सिस्‍टम को बनाए रखने के लिए प्‍याज के रस का उपयोग किया जाता है। हाल की रिसर्च से पता चला है कि उनमें एक तत्‍व होता है जो अत्‍यधिक हड्डी के नुकसान को रोकता है। यह उन महिलाओं के विशेष रूप से उपयोगी है जो मेनोपॉज से गुजरती हैं और ऑस्टियोपो‍रोसिस का अधिक जोखिम होता है।

हेयर ग्रोथ के लिए प्‍याज का रस
healthy hair health inside

प्याज का रस बालों के लिए अच्छा है? जी हां, यह कई तरीकों से बालों के लिए बहुत अच्छा है। प्याज में सल्फर होता है, जो बालों की ग्रोथ देने वाले आवश्यक पोषक तत्वों में से एक है। एक अध्ययन से पता चला है कि दो महीनों के लिए हफ्ते में दो बार प्‍याज का रस स्‍कैल्‍प पर लगाने से बालों की ग्रोथ में बहुत फायदा होता है।

Read more: "1 चम्मच प्याज का रस" और "1 तुलसी के पत्ते" में छुपा है लू से बचाव का तरीका

ओरल इंफेक्‍शन से बचाव

प्‍याज के रस में मौजूद एंटीबैक्‍टीरियल गुण ओरल इंफेक्‍शन और दांतों को नुकसान से बचाते है। शोधकर्ताओं ने पुष्टि की है कि मुंह में सभी तरह के बैक्‍टीरिया मारने के लिए तीन मिनट के लिए कच्चा प्याज चबाना सही रहता है। इसके अलावा, दांत दर्द होने पर प्याज के टुकड़े को दर्द वाली जगह पर लगाकर रखने से आराम मिलता है।
अब तो आपको समझ में आ ही गया होगा कि प्‍याज का रस हमारे लिए कितना उपयोगी है।

Recommended Video