सर्दियां शुरू हो गई हैं और इस दौरान हम सभी को घंटों रजाई में रहना अच्छा लगता है। भारत के कई हिस्सों में बर्फबारी भी शुरू हो गई है और कई इलाकों में शीतलहर शुरू हो गई है। सर्दियों के दौरान मौसम भले ही काफी सुहावना लगता हो, लेकिन यकीन मानिए इस दौरान बहुत सारी समस्याएं भी होती हैं। सबसे पहले तो इम्यूनिटी को लेकर समस्याएं होती हैं जहां बीमारी लोगों को परेशान करती है। 

सर्द हवा खांसी, कफ, बुखार आने का कारण बन सकती है और इस दौरान बच्चों और बुजुर्गों का तो खास ख्याल रखना होता है। पर ऐसे में इम्यूनिटी के लिए क्या किया जाए? आयुर्वेदिक डॉक्टर दीक्षा भावसार ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर इम्यूनिटी से जुड़े कुछ खास टिप्स बताए हैं। 

दीक्षा भावसार ने अपनी पोस्ट में बताया कि सर्दियों के मौसम में अदरक का पानी कितना लाभकारी साबित हो सकता है। 

sonth and giner water

इसे जरूर पढ़ें- अपने बच्चों को कैसे बनाएं फिजिकली एक्टिव, जानें एक्सपर्ट टिप्स

क्यों पीना चाहिए अदरक का पानी?

अदरक का पानी पीने के कई लाभ होते हैं और सर्दियों में तो ये बहुत ही मददगार साबित हो सकता है। 

  • ये पाचन शक्ति को बेहतर बनाता है
  • ये वजन कम करने में मदद करता है
  • ये सर्दी-खांसी से दूर रखता है
  • ये आपकी इम्यूनिटी को बेहतर बनाता है

अगर ब्लोटिंग, गैस आदि की समस्या हो रही है तो ये उसमें भी राहत देता है 

Recommended Video

कैसे बनाया जा सकता है सोंठ का पानी- 

सूखी हुई अदरक या सोंठ का पानी बनाने के लिए आप सोंठ का पाउडर इस्तेमाल कर सकते हैं।  

  • सबसे पहले 1 लीटर पानी में आधा छोटा चम्मच सूखी अदरक का पाउडर डालें। 
  • अब पानी को तब तक धीमी आंच पर उबालें जब तक ये 3/4 ना रह जाए।
  • अब आप इसे किसी कंटेनर में भरकर रख दें और दिन भर में इसका सेवन करते रहें। 
  • एक बार में ये नहीं पीना है बल्कि इसे सिप-सिप कर धीरे-धीरे पीना है।  
 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Dr Dixa Bhavsar (@drdixa_healingsouls)

 

आखिर क्यों सोंठ अदरक से ज्यादा फायदेमंद है?

डॉक्टर दीक्षा के अनुसार सोंठ का महत्व भी आयुर्वेद में काफी माना गया है। ये आसानी से पच जाती है और ताज़ा अदरक के मुकाबले ये खाने में भी आसान होती है। पाचन क्रिया की बात करें तो ताज़ा अदरक की जगह सोंठ जल्दी डाइजेस्ट होगी। इसी के साथ, ताज़ा अदरक की तुलना में सोंठ आपके बाउल्स को अच्छे से बांध सकती है जिससे कॉन्स्टिपेशन की समस्या ना हो।  

ये कफ और अग्नि दोष को खत्म करने में भी सहायक होती है। इसे सभी सीजन में किसी दवा के तौर पर लिया जा सकता है।  

इसे जरूर पढ़ें- सर्दियों में डाइट और एक्सरसाइज से ऐसे लाएं त्वचा में रौनक, शहनाज़ हुसैन से जानें टिप्स 

इस बात का हमेशा रखें ध्यान- 

गुनगुना पानी और अदरक दोनों ही गर्म होते हैं इसलिए इसे ज्यादा ना लें और साथ ही साथ ऐसे लोग जिन्हें ज्यादा ब्लीडिंग, हीटिंग डिसऑर्डर आदि होते हैं उनके लिए ये नुस्खा नहीं है। अगर आपको अदरक सूट नहीं करती है तो भी उसे ना लें। अपनी डाइट से जुड़ा कोई भी बदलाव करने से पहले आपको डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।  

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।