अनानास एक पॉपुलर ट्रॉपिकल प्लांट हैं, और इसकी पैदावार साउथ अफ़्रीका में अधिक होती है। इसके अलावा अमेरिका, फिलीपींस जैसे देशों में अनानास की खेती खूब की जाती है। इस फल की खेती अनेक प्रकार की जलवायु में आसानी से की जा सकती है। बाहर से कठोर दिखने और अपने खट्टे-मीठे स्वाद की वजह से अनानास को खूब पसंद किया जाता है। इस फल के गूदे के साथ-साथ जूस के रूप में भी इसका सेवन किया जा सकता है। इन दिनों केक, सॉस और ड्रिंक कई तरीक़ों से अनानास को डाइट में शामिल किया जा सकता है। वहीं मास्टर शेफ़ कविराज ने इस फल के हेल्थ बेनिफिट्स और इस्तेमाल करने के कई तरीक़े बताए हैं, आइए जानते हैं-

अनानास के फ़ायदे

pineapple

  • अनानास हड्डियों के लिए अच्छा माना जाता है, साथ ही यह दांतों और मसूड़ों के लिए भी अच्छा है।
  • आंख और हाईपरटेंशन जैसी बीमारी को दूर करने के लिए अनानास का सेवन करना फ़ायदेमंद माना जाता है।
  • अनानास के सेवन से इम्यूनिटी बूस्ट होती है, इसलिए कोरोना काल में इसे अपनी डाइट में ज़रूर शामिल करें।
  • साइनस और सर्दी-जुकाम जैसी बीमारी के इलाज के लिए भी अनानास मददगार है।
  • अनानास में एंटी-इंफ्लामेटरी गुण होते हैं और यह पाचन से जुड़ी समस्याओं से निजात दिलाने में मदद करता है।
  • अनानास विटामिन-सी का एक अच्छा स्रोत है और साथ ही कब्ज जैसी समस्याओं से भी निजात दिलाता है।
  • अनानास गाउट के लिए भी सहायक होता है और नैचुरल डी-टॉक्सिफिकेशन को भी बढ़ावा देता है।
  • हाई ब्लड प्रेशर और मतली जैसी परेशानी से निजात पाने के लिए अनानास सहायक है।
  • वहीं मॉर्निंग सिकनेस को दूर करने और ग्लोइंग स्किन पाने के लिए डाइट में अनानास को शामिल किया जा सकता है।

इस तरह अनानास का करें इस्तेमाल

pineapple uses

  • अनानास का स्वाद मीठा और खट्टा दोनों होता है, इसलिए लोग इस फल को अधिक पसंद करते हैं। लंबे समय से लोग इस फल को फ्रूट सैलेड में शामिल कर रहे हैं। इसके अलावा चाहें तो इसकी हेल्दी ड्रिंक, शेक, करी, स्मूदी या फिर अनानास जलजीरा भी बना कर सेवन किया जा सकता है।
  • बात जब कैनिंग और प्रोसेसिंग की हो तो अनानास एक पॉपुलर इंग्रेडिएंट है। हम इसे अनानास टिंस, अनानास के रस, अनानास जैम, मुरब्बा और जैली के रूप में भी इसे रख सकते हैं।
  • अनानास को साल्सा में भी शामिल किया जा सकता है। इसके अलावा मैक्सिकन पकवानों में भी इसका आनंद उठाया जा सकता है, जैसे नाचोस, टैकोस, एन्चीलाडस और बरिटोस आदि में मिक्स किया जा सकता है। स्टफिंग के रूप में भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

Recommended Video

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें और साथ ही इसी तरह और भी सेहत से जुड़े आर्टिकल्‍स पढ़ने के लिए देखती रहें हरजिंदगी।