सर्दियों का समय ना सिर्फ सुहावने मौसम के लिए अच्छा होता है बल्कि इस समय खाने-पीने के लिए भी बहुत सारी चीज़ें मार्केट में मौजूद रहती हैं। पर ये वो समय भी होता है जहां हमारी इम्यूनिटी पर असर होता है और साथ ही साथ हमारे लिए कई तरह की समस्याएं आ जाती हैं। इस सीजन में लोग बीमार भी बहुत होते हैं और साथ ही साथ उन्हें कई तरह की अन्य समस्याएं भी होने लगती हैं जैसे हीमोग्लोबिन की कमी आदि। 

अगर सिर्फ महिलाओं की बात करें तो पीरियड्स में होने वाली समस्याओं के कारण बहुत ज्यादा परेशानी होती है। ब्लड लॉस के साथ हीमोग्लोबिन की समस्या उन्हें होती ही रहती है। अगर स्किन और बालों के हिसाब से देखा जाए तो ये मौसम ड्राई स्किन और फ्रिज़ी बाल देने वाला होता है, लेकिन ये सब कुछ अंदरूनी परेशानी के कारण भी हो सकता है। 

आयुर्वेदिक डॉक्टर दीक्षा भावसार ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर इसी को लेकर एक विंटर ड्रिंक की रेसिपी शेयर की है। ये एक एनर्जी ड्रिंक है जो हीमोग्लोबिन के लिए भी मददगार साबित हो सकती है। 

इसे जरूर पढ़ें- शरीर में हो रही है Vitamin D की कमी तो ये नेचुरल चीज़ें करेंगी पूरा, जानें एक्सपर्ट टिप्स

किस काम आती है ये ड्रिंक?

डॉक्टर दीक्षा के मुताबिक ये ड्रिंक ना सिर्फ हेल्दी है बल्कि ये स्वादिष्ट भी होती है। इसे एक एनर्जी हेल्थ ड्रिंक की तरह मानना चाहिए जो स्किन और बालों की केयर करने के साथ-साथ हीमोग्लोबिन और शरीर के पूरे न्यूट्रिशन को ठीक करने में मदद करता है। 

drink of beet and carrot

हीमोग्लोबिन की कमी के कारण ही वीकनेस, हेयरफॉल, इम्यूनिटी की कमी आदि बहुत कुछ होता है और ऐसे में हीमोग्लोबिन बढ़ाने के लिए बीटरूट और गाजर से अच्छा और कुछ नहीं हो सकता है। बीटरूट यानी चुकंदर नेचुरली आपके खून को बढ़ाने का काम करता है और गाजर में जितने न्यूट्रिएंट्स होते हैं वो विटामिन-ए और अन्य कमियों को पूरा करते हैं। 

किस तरह से बनाई जाएगी ये ड्रिंक?

इस ड्रिंक को बनाने के लिए आपको उबले हुए चुकंदर और उबली हुई गाजर का इस्तेमाल करना है। 

सामग्री- 

  • 2 बीटरूट (उबले हुए)
  • 2 गाजर (उबली हुई)
  • 2 आंवला 
  • थोड़ी सी धनिया की पत्तियां
  • 7-8 करी पत्ते
  • थोड़ी सी पुदीने की पत्तियां
  • एक टुकड़ा अदरक
  • आधा नींबू (ऑप्शनल)
  • कुछ किशमिश (इसे मीठा करने के लिए) 

सभी चीज़ों को एक साथ अच्छे से मिक्स करें और फिर आधे ग्लास पानी को एड करें। इसे अच्छे से ग्राइंड करें और इस मिक्सचर को ग्लास में डालकर पिएं। बस और कुछ नहीं आपको इसे उबालने की जरूरत भी नहीं है और इसे ऐसे ही पिया जा सकता है। 

 इसे जरूर पढ़ें- पेट से जुड़ी 5 समस्याओं के 5 देसी इलाज, एक्सपर्ट से जानें समस्या को कम करने के तरीके 

आखिर क्यों उबले हुए चुकंदर और गाजर की है जरूरत? 

दीक्षा भावसार के मुताबिक उन्होंने उबले हुए बीटरूट और गाजर को इसलिए इस्तेमाल करने को कहा है क्योंकि ये डाइजेस्ट करने में आसान होती है। ऐसे लोग जिन्हें हीमोग्लोबिन की समस्या होती है, थकान होती है, इम्यूनिटी कम होती है उनकी गट हेल्थ भी ठीक नहीं होती है और उन्हें ऐसी चीज़ें डाइजेस्ट करने में मुश्किल होती है। ऐसे में कच्ची सब्जियों की जगह उबली सब्जियां ज्यादा फायदेमंद हो सकती हैं।  

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Dr Dixa Bhavsar (@drdixa_healingsouls)

 

किन लोगों को नहीं पीनी चाहिए ये ड्रिंक? 

ऐसे लोग जिन्हें पहले से ही कोई बीमारी हो या फिर कोई इलाज करवा रहे हों, ऐसे लोग जिन्हें किसी खास इंग्रीडिएंट से एलर्जी हो। ऐसे लोग जिन्हें अर्थराइटिस आदि का दर्द रहता हो उन्हें आंवला और नींबू जैसे खट्टे फ्रूट्स एड करने से बचना चाहिए।  प्रेग्नेंट महिलाओं को हमेशा डॉक्टर की सलाह पर ही कोई ऐसी चीज़ लेनी चाहिए।  

 

वैसे तो ये ड्रिंक कई लोगों को फायदा पहुंचा सकती है, लेकिन हो सकता है आपकी किसी पर्सनल हेल्थ कंडीशन के कारण ये आपको सूट ना करे। ऐसे में आपके लिए ये जरूरी है कि आप डॉक्टर से सलाह जरूर ले लें।  

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।