चाहें घर के लोगों से चर्चा करनी हो या ऑफिस के काम हों, अक्सर हम अपने सभी कामों के लिए अपनी आवाज के जरिए ही कम्यूनिकेट करते हैं। अपनी आवाज से हमें एक अलग पहचान मिलती है। हमारी आवाज हमारी पर्सनेलिटी को भी बखूबी जाहिर करती है। किसी की मधुर और प्रभावी आवाज हमें लंबे समय तक याद रह जाती है। लेकिन आवाज के इतने महत्वपूर्ण होने के बाद भी हम में से ज्यादातर लोग अपनी आवाज पर बहुत ज्यादा ध्यान नहीं देते। बहुत से लोगों के बीमार पड़ने, गला खराब हो जाने आदि की वजह से आवाज खराब हो जाती है। कभी-कभार गले में खराश होना या आवाज धीमी हो जाना सामान्य बात है, लेकिन कई बार ऑफिस के काम, पारिवारिक जिम्मेदारियों आदि की वजह से हमें बहुत ज्यादा बोलना पड़ जाता है और इसकी वजह से हमारी आवाज भी प्रभावित होती है। कुछ खास पेशों जैसे कि टीचिंग में ज्यादा बोलने की वजह से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। आज World Voice Day है और इस मौके पर आपको अपनी आवाज को हेल्दी बनाए रखने के बारे में जरूर सोचना चाहिए। आइए जानते हैं कि कौन सी चीजों से प्रभावित होती है हमारी आवाज और कैसे हम अपनी आवाज को हेल्दी बनाए रख सकते हैं। 

इन चीजों से प्रभावित हो सकती है आपकी आवाज

आवाज हमारी इंडिविजुअल आइडेंटिटी बनाए रखने के लिहाज से बहुत महत्वपूर्ण है। जोर-जोर से चिल्लाकर बात करने या बहुत ज्यादा एक्साइटेड होकर शोर मचाने से हमारे vocal chords प्रभावित हो सकते हैं। इससे हमारी आवाज की स्पष्टता कम हो सकती है। इसीलिए हमें अपनी आवाज की स्पष्टता बनाए रखने के लिए कुछ अहम बातों का ध्यान रखना चाहिए।

इसे जरूर पढ़ें: Lockdown Challenge: घर में इन योगासन को सिर्फ 21 दिन करके बॉडी को टोन और चेहरे का ग्‍लो बढ़ाएं

ये एक्सरसाइज हैं लाभदायक

keep your voice healthy do exercise

आवाज को प्रभावी बनाने के लिए आपको बोलने से पहले वार्म अप एक्सरसाइज जरूर करनी चाहिए। खासतौर पर अगर आप सिंगिंग में हैं तो आपको अपनी आवाज को सुरीला और मधुर बनाए रखने के लिए कुछ खास एक्सरसाइज करनी चाहिए। इसके लिए आपको नियमित रूप से गर्दन की एक्सरसाइज करनी चाहिए। शोल्डर स्ट्रेचिंग करें। जिस तरह इंजन या मोटरबोट से आवाजें निकलती हैं, उसी तरह आवाजें निकालें। इससे आपकी आवाज को क्लेरिटी मिलेगी।

इसे जरूर पढ़ें: घर पर रहने के कारण गर्दन और पीठ में हो रहा है दर्द, ये 5 स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज करेंगी मदद

गहरी सांस लें

keep your voice healthy deep breath

स्पष्ट तरीके से बोलने के लिए भीतर से रिलैक्स और ऊर्जावान होना बहुत जरूरी है। इसके लिए अगर आप बोलने से पहले गहरी सांस लें। इससे आपके शरीर को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन मिलेगी और आपको महत्वपूर्ण बातें करते हुए सांस फूलने की समस्या नहीं होगी। 

चिल्लाने से बचें

keep your voice healthy dont shout

बहुत सी महिलाएं टेंशन या अत्यधिक स्ट्रेस होने की वजह से किसी भी बात पर जोर-जोर से चिल्लाने लगती हैं। वहीं बहुत सी महिलाएं किसी बात पर एक्साइटेड होकर भी जोर-जोर से चीखती हैं। अगर आप ऐसा बहुत ज्यादा करती हैं तो इससे आपके गले में खराश हो सकती है। अगर किसी कारणवश आप ज्यादा चिल्लाएं तो खुद को रिलैक्स करने के लिए रेस्ट करना जरूरी है। ज्यादा खराश होने पर पानी पिएं, इससे आपके vocal cords में नमी बनाए रखने में मदद मिलेगी। 

Recommended Video

बहुत ज्यादा खांसने से भी होती है परेशानी

अगर गले में खराश की वजह से परेशानी है या फिर बहुत ज्यादा खांसी आ रही है तो इसे सामान्य समझकर इग्नोर ना करें, क्योंकि इससे आपकी vocal cords पर काफी दबाव पड़ता है। खांसी में गुनगुना पानी पीने या कफ सीरप पीने से आराम मिलता है और गले को भी राहत मिलती है। 

एसिडिटी से बचें

बहुत से लोगों को एसिडिटी की समस्या होने पर ढकारें आती हैं और सीने में जलन भी महसूस होती है। ढकार आने की वजह से vocal cords डैमेज  होती हैं। इससे मुंह का स्वाद खराब होता है और उल्टी जैसा भी महसूस होता है। अगर आपको अक्सर ही एसिडिटी की वजह से लंबी लंबी डकार आती हैं, जिनमें काफी ज्यादा आवाज होती है तो इसके बारे में अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें। 

Image Courtesy: sanfordhealth.org, avatars.mds.yandex.net, waterfromrock.org, d2z0k43lzfi12d.cloudfront.net, rich-company.net