• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

इस स्‍पेशल पौधे से दूर करें अपनी ये 5 परेशानियां, इस्तेमाल का सही तरीका जानें

अगर आप हेल्‍थ से जुड़ी समस्‍याओं को दूर करना चाहती हैं तो इस आर्टिकल में एक्‍सपर्ट के बताए पौधे को 1 बार आजमाकर जरूर देखें।
author-profile
Published -25 Jul 2022, 18:17 ISTUpdated -26 Jul 2022, 10:36 IST
Next
Article
tulsi for health in hindi

Verified by Ayurvedic Expert Abrar Multani 

चाहे वह मौसम में बदलाव की वजह से हो या इम्‍यूनिटी में कमजोरी के कारण, हममें से ज्यादातर लोग इंफेक्‍शन के शिकार हो जाते हैं और सबसे आम सर्दी और बुखार है। लेकिन अपने तापमान को कम करने के लिए पेरासिटामोल लेने या घर पर खांसी और सर्दी का इलाज करने के लिए एक चम्मच कफ सिरप को निगलने के बजाय, इस बार तुलसी के पत्तों का उपयोग करें। 

आमतौर पर हर भारतीय घर में पाए जाने वाले तुलसी के पत्ते औषधीय गुणों से भरपूर होते हैं। इन पत्तियों में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी यौगिक भी होते हैं, जो आपके तापमान को कम करने और खांसी और सर्दी के इलाज में मदद करते हैं। 

साथ ही यह इम्यूनिटी बढ़ाने से लेकर तनाव, सिरदर्द और साइनसाइटिस से निपटने में आपकी मदद करने तक, यह आपके लिए बेहद मददगार होते हैं। लेकिन ज्‍यादातर लोगों को बीमारियों के हिसाब से इसे इस्‍तेमाल करना नहीं आता है। 

इसलिए आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्‍यम से तुलसी के पत्तों के सामान्य स्वास्थ्य लाभों के बारे में बता रहे हैं। जी हांख्‍ यहां बुखार के लिए सरल घरेलू उपचार दिए गए हैं जो काम आ सकते हैं। इसके बारे में हमें आयुर्वेदिक एक्‍सपर्ट अबरार मुल्‍तानी जी बता रहे हैं।

बुखार के लिए तुलसी (Tulsi for Fever) 

tulsi for fever

तुलसी में ज्वरनाशक गुण होते हैं जो पसीना लाने में मदद करते हैं और बुखार के दौरान शरीर के बढ़े हुए तापमान को सामान्य करते हैं। तुलसी की पत्तियों का उपयोग बुखार को कम करने के लिए किया जा सकता है क्योंकि यह अपने केमिकल (कायाकल्प) गुण के कारण इम्‍यूनिटी में सुधार और संक्रमण से लड़ने में मदद करता है।

विधि

  • एक कप उबलते पानी में 5 से 10 पत्ते तुलसी के पत्ते और चाय की पत्ती डालें और इसे 5 10 मिनट तक उबलने दें। 
  • बुखार का इलाज करने के लिए दिन में दो बार चाय को छानकर पिएं।
  • आप अपने शरीर के तापमान को कम करने के लिए तुलसी के पत्तों का रस भी पी सकती हैं। 
  • इसके अलावा, यह बच्चों के लिए भी प्रभावी है। 10-15 तुलसी के पत्तों में थोड़ा सा पानी मिलाकर उसका रस निकाल लें। 
  • बुखार से निपटने के लिए इसे हर 2 3 घंटे में ठंडे पानी के घूंट के साथ लें।

बवासीर के लिए तुलसी (Tulsi for Piles) 

क्या आपको शौच करते समय दर्द रहित ब्‍लीडिंग की समस्या है? तब आपको वास्तव में डॉक्टर के पास जाने पर विचार करना चाहिए। ऐसा इसलिए है क्योंकि बवासीर, एक दर्द रहित लेकिन काफी चिंताजनक समस्‍या है। लेकिन आप कुछ राहत पाने के लिए तुलसी के पत्तों का इस्‍तेमाल कर सकती हैं। इसमें मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों के कारण बवासीर में आराम देता है।

विधि

  • राहत पाने के लिए प्रतिदिन कुछ बूंदें गर्म पानी में डालकर सेवन करें।

खांसी के लिए तुलसी (Tulsi for Cough) 

tulsi for cough

तुलसी के पत्ते आम सर्दी के साथ-साथ खांसी से लड़ने की व्यक्ति की क्षमता में सुधार करने में मदद करते हैं। तुलसी एंटीबॉडी के उत्पादन को बढ़ाती है जिससे किसी भी संक्रमण की शुरुआत को रोका जा सकता है। तुलसी में खांसी दूर करने वाले गुण होते हैं। यह चिपचिपे बलगम को बाहर निकालने में आपकी मदद करके वायुमार्ग को शांत करने में मदद करती है।

विधि

  • सुबह सबसे पहले तुलसी के 4-5 पत्ते खाएं। 
  • आप अपनी इम्‍यूनिटी को बढ़ाने के लिए तुलसी के पत्तों का सेवन जारी रख सकती हैं।

अन्‍य विधि

  • तुलसी के कुछ पत्ते लें। 
  • इसे अच्छे से धो लें।
  • एक पैन में पानी उबालें, तुलसी के पत्ते डालें।
  • इसमें 1 चम्मच कद्दूकस किया हुआ अदरक और 5-6 काली मिर्च मिलाएं।
  • मिश्रण को कम से कम 10 मिनट तक उबालें।
  • आखिर में चुटकी भर काला नमक डालकर इसमें 1/2 नींबू निचोड़ लें।
  • इसे 1 मिनट तक ऐसे ही छोड़ दें।
  • छानकर गर्मागर्म पीएं।

Recommended Video

त्वचा के लिए तुलसी (Tulsi for Skin) 

tulsi for glowing skin

प्रदूषण, गर्मी, धूल और जमी हुई गंदगी जैसे पर्यावरणीय कारक और साथ ही दैनिक आधार पर ब्‍यूटी प्रोडक्‍ट्स का लोड आपकी त्वचा की हेल्‍थ पर गंभीर प्रभाव डाल सकता है। और, जब आप अपनी त्वचा को दिन में दो बार साफ करके अतिरिक्त देखभाल और ध्यान नहीं देती हैं या आप लापरवाही से अपने मेकअप के साथ सोती हैं, तो यह आपकी त्वचा की समस्याओं को बढ़ाता है, पोर्स को बंद करता है और त्वचा से संबंधित कई अन्य समस्‍याओं जैसे एक्ने और पिंपल्स को जन्म देता है।  

तुलसी त्वचा को एक गहरी सफाई प्रभाव प्रदान करके लाभ पहुंचाती है। यह न केवल गंदगी और अशुद्धियों को बल्कि अतिरिक्त तेल को भी पूरी तरह से हटा देती है। यदि आपकी त्वचा ऑयली है, तो यह सुगंधित जड़ी बूटी आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प है।

विधि

  • एक मुट्ठी तुलसी के पत्ते लें, उन्हें कुचलें और पेस्ट बनाने के लिए थोड़ा पानी मिलाएं। 
  • इस पेस्ट में थोड़ा सा बेसन मिलाएं और इस मिश्रण को अपने पूरे चेहरे पर लगाएं। 
  • धोने से पहले पेस्ट को अपने चेहरे पर लगभग 10-15 मिनट तक लगा रहने दें। 
  • साफ और दमकती त्वचा के लिए इस उपाय को हफ्ते में दो बार इस्तेमाल करें।

बालों के लिए तुलसी (Tulsi for Hair) 

जीन से लेकर दवा और इंफेक्‍शन तक, जैसे बहुत सारे कारक बालों के पतले होने या झड़ने का कारण बनते हैं। पुरुषों और महिलाओं दोनों में बालों का झड़ना बहुत ही आम है। यदि आप इस समस्‍या से जूझ रहे हैं, तो आप बालों को झड़ने से रोकने के लिए तुलसी का इस्‍तेमाल कर सकती हैं। 

तुलसी बालों के रोम को फिर से जीवंत करके और जड़ों को मजबूत करके बालों को लाभ पहुंचाती है, जो बदले में बालों के झड़ने को रोकता है। साथ ही यह हर्बल उपचार आपके स्कैल्प में सर्कुलेशन को भी बढ़ावा देता है और इसे ठंडा रखता है।

विधि

  • अपने रेगुलर हेयर ऑयल के साथ एक मुट्ठी कुचले हुए तुलसी के पत्ते मिलाएं।  
  • अपने स्कैल्प में तेल की मालिश करें और इसे लगभग 30 मिनट के लिए छोड़ दें। 
  • शैम्पू और कंडीशनर के साथ इसे फॉलो करें। 

आप भी अपनी इन समस्‍याओं को दूर करने के लिए तुलसी के पत्तों का इस्‍तेमाल कर सकती हैं। उम्मीद है कि आपको यह जानकारी पसंद आई होगी। इस आर्टिकल को शेयर और लाइक जरूर करें, साथ ही कमेंट भी करें। हेल्‍थ से जुड़े ऐसे ही और आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। 

Image Credit: Shutterstock & Freepik 

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।